Top

'आप' के बागी विधायक कपिल मिश्रा को झटका, विधानसभा सदस्यता रद्द

आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा की सदस्यता रद्द कर दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष ने कपिल मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को उनकी सदस्यता रद्द की है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 2 Aug 2019 2:20 PM GMT

आप के बागी विधायक कपिल मिश्रा को झटका, विधानसभा सदस्यता रद्द
X
सनसनी संडे: नए आरोपों के साथ कपिल मिश्रा ने शुरू किया लेट्स क्लीन आप अभियान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा की सदस्यता रद्द कर दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष ने कपिल मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को उनकी सदस्यता रद्द की है।

आप के विधायक सौरभ भारद्वाज ने कपिल मिश्रा के खिलाफ याचिका लगाई थी। इससे पहले, 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान कपिल मिश्रा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पक्ष में प्रचार किया था।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे कपिल मिश्रा लगातार दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोले हुए थे और उनके ऊपर कई तरह की अनियमितताओं के आरोप लगाए थे।

ये भी पढ़ें...एक्ट्रेस पर 60 लाख सिर्फ इसके चक्कर में लुटा दिये, लेकिन हो गया कांड

मोदी जी के लिए सौ बार विधायक की कुर्सी कुर्बान : कपिल मिश्रा

विधानसभा सदस्यता रद्द किए जाने पर कपिल मिश्रा ने कहा कि मोदी जी के लिए अभियान चलाने पर मैं एक क्या सौ बार विधायक की कुर्सी कुर्बान कर सकता हूं।

उन्होंने कहा कि एक तरफ देशभक्त और एक तरफ टुकड़े टुकड़े गैंग है। मैं सारी दिल्ली के साथ खड़ा था। अभी "सातों सीटें मोदी को" अभियान चलाया और विधानसभा चुनाव में "साठ सीटें मोदी को" अभियान चलाऊंगा।

कपिल ने कहा कि जिस प्रकार से इस पूरे मामले की सुनवाई की गई, आधी सुनवाई के बीच में फैसला सुनाया गया व मुझे कोई भी गवाह व तथ्य रखने की अनुमति नहीं दी गई, एक तरह से कानून व विधानसभा का मजाक उड़ाया गया है।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार कानून व प्रक्रियाओं की धज्जियां उड़ाई गईं, ऐसा लोकतंत्र के इतिहास में पहली बार हुआ है। कोर्ट में ये आदेश एक दिन भी नहीं टिक पाएगा। इस अलोकतांत्रिक, गैरकानूनी और विधानसभा व जनता का अपमान करने वाले कानून के खिलाफ कोर्ट जाऊंगा।

ये भी पढ़ें...जगनमोहन 1 अगस्त से येरुशलम की यात्रा पर, सुरक्षा पर खर्च होंगे इतने लाख रुपये

विधानसभा का मानसून सत्र 22 से 26 अगस्त तक

बता दें कि, इस बार दिल्ली विधानसभा का मानसून सत्र 22 से 26 अगस्त होगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में शुक्रवार को मंत्रिमंडल की बैठक में इसे मंजूरी दी गई।

ये भी पढ़ें...जानिए क्या है अनुच्छेद 35ए, जिसे लेकर जम्मू-कश्मीर की सियासत में मचा है बवाल

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story