Top

शिवसेना को तगड़ा झटका: अभी-अभी इस मंत्री ने दिया इस्तीफा, सरकार में हलचल तेज

शिवसेना नेता अब्दुल सत्तार ने उद्धव ठाकरे के मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा दे दिया है। अब्दुल सत्तार ने विभागों के बटवारें से पहले ही इस्तीफा दे दिया।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 4 Jan 2020 8:20 AM GMT

शिवसेना को तगड़ा झटका: अभी-अभी इस मंत्री ने दिया इस्तीफा, सरकार में हलचल तेज
X
शिवसेना को तगड़ा झटका: अभी-अभी इस मंत्री ने दिया इस्तीफा, सरकार में हलचल तेज
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महाराष्ट्र: शिवसेना नेता अब्दुल सत्तार ने उद्धव ठाकरे के मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा दे दिया है। अब्दुल सत्तार ने विभागों के बटवारें से पहले ही इस्तीफा दे दिया। हालांकि शिवसेना कोटे से मंत्रिमंडल में शामिल हुए अब्दुल सत्तार ने अभी तक अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को नहीं भेजा है। बता दें कि शिवसेना के ऐसे कई वरिष्ठ नेता हैं जो सत्तार को राज्य मंत्री बनाए जाने से नाखुश थे, जिसके बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता को भेजा इस्तीफा

अब्दुल सत्तार ने अपना इस्तीफा पार्टी के एक वरिष्ठ नेता को भेजा है। अभी उनका इस्तीफा मुख्यमंत्री के पास नहीं पहुंचा है। अब्दुल सत्तार के इस्तीफा देने के बाद शिवसेना के कई अन्य नेताओं ने उन्हें पुर्नविचार करने के लिए कहा है। हालांकि सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि सत्तार अपने फैसले पर अटल हैं।

यह भी पढ़ें: नमामि गंगे पर योगी की पांच दिनी गंगा यात्रा 27 से होगी शुरू

एनसीपी के साथ-साथ शिवसेना ने महाराष्ट्र में मुस्लिम समुदाय को अपने साथ साधे रखने के लिए अब्दुल सत्तार को अपने कोटे से मंत्री बनाया था। बता दें कि 2014 के बाद पहली बार मंत्रिमंडल में चार मुस्लिम चेहरे को शामिल किया गया है। इनमें शिवसेना के अब्दुल सत्तार नबी जो कि राज्य मंत्री बने, एनसीपी के नवाब मलिक और हसन मुशरीफ जिनको कैबिनेट स्तर का पद मिला और कांग्रेस के असलम शेख, इनको भी कैबिनेट स्तर का पद मिला, शामिल हैं।

दबाव की रणनीति के चलते दिया इस्तीफा

कई लोग अब्दुल सत्तार के इस कदम को दबाव की रणनीति बता रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, सत्तार, उनको जूनियर मंत्रालय दिए जाने पर नाराज चल रहे थे। हालांकि अभी उनका इस्तीफा मुख्यमंत्री कार्यालय को नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि, सत्तार ने इस्तीफे का पत्र पार्टी सचिव अनिल देसाई को भेजा है। सूत्रों मुताबिक, सत्तार ने दबाव की रणनीति की वजह से ये कदम उठाया है।

वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने विभागों के बंटवारे में हो रही देरी को लेकर स्थिति साफ की है। उन्होंने कहा है कि, नए विभाग बनाने का काम चल रहा है जिस कारण विभाग बंटवारे में देरी हो रही है।

यह भी पढ़ें: शहीदों को CM योगी की बड़ी सौगात, इससे सैनिकों का बढ़ेगा मनोबल

Shreya

Shreya

Next Story