Top

2022 में अखिलेश होंगे मुख्यमंत्री: सपा जीतेगी इतनी सीट, ज्योतिषी ने की भविष्यवाणी

अखिलेश ने किया दावा साल 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी 351 सीट जीतकर सत्ता में करेगी वापसी। पूरे प्रदेश में चलेगी सिर्फ साइकिल की लहर।

Aradhya Tripathi

Aradhya TripathiBy Aradhya Tripathi

Published on 16 March 2020 11:24 AM GMT

2022 में अखिलेश होंगे मुख्यमंत्री: सपा जीतेगी इतनी सीट, ज्योतिषी ने की भविष्यवाणी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखनऊ में एक चौंकाने वाला बयान दिया है। अखिलेश ने दावा किया कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी 351 सीट जीत हासिल कर सत्ता में लौटेगी। अखिलेश को एक ज्योतिषि ने उनका हाथ देख कर ऐसा बताया। जिसके बाद सपा मुखिया ने ये दावा किया है।

फ्लाइट में शख्स ने देखा हाथ

रविवार को लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ये दावा किया कि सपा 2022 के विधानसभा चुनाव में 351 सीट जीत कर सत्ता में वापसी करेगी। सपा मुखिया ने बताया कि दिल्ली जाते वक्त विमान में एक शख्स ने उनका हाथ देखकर बताया था कि मेहनत करें, इस बार आप 350 सीटें जीतकर सरकार बनाएंगे।

ये भी पढ़ें- JNU में ‘सावरकर मार्ग’ पर विवाद, आइशी घोष बोलीं ऐसे लोगों के लिए नहीं कोई स्थान

इसके बाद मैंने तय किया कि हम 350 से एक सीट ज्यादा यानी 351 सीटें जीतेंगे। अखिलेस ने कहा कि हम सब मिलकर वर्ष 2022 में 351 सीटें जीतेंगे। पूरे प्रदेश में सिर्फ साइकिल की लहर चलेगी।

आज़म खान पर हो रहे झूठे मुकदमे

सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात करने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा, 'हां मैंने मुख्यमंत्री जी से फोन पर बात की है। मैंने मुख्यमंत्री जी से कहा कि आजम खान पर झूठे मुकदमे हो रहे हैं।' सपा अध्‍यक्ष ने आरोप लगाया कि आईएएस और आईपीएस प्रमोशन पाने के लिए आज़म साहब पर झूंटे मुकदमे दर्ज कर रहें हैं।

ये भी पढ़ें- RBI ने बैंकों के लिए जारी किया अलर्ट, कहा-आपातकाल के लिए रहें तैयार

अखिलेश ने कहा कि अगर केंद्र सरकार जातिवार जनगणना नहीं कराती है तो वर्ष 2022 में उत्तर प्रदेश की सत्ता में आने के बाद सपा सूबे में यह काम कराएगी। हम रास्ता निकालेंगे कि जिसकी जितनी आबादी है, उसी हिसाब से उसको हक और सम्मान मिले।

पिछले चुनाव में सस्ते में सिमटी थी सपा

पता हो कि 2017 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी महज 47 सीटों पर जीत हासिल कर पाई थी। 2017 के चुनाव में अखिलेश यादव ने मायावती की बसपा से गठबंधन किया था।

जिसके बाद ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि प्रदेश में बुआ और भतीजे की जोड़ी धमाल मचाएगी और सरकार बनाने में कामयाब होगी। लेकिन नतीजे इसके बिल्कुल विपरीत आए, और सपा महज 47 सीटों पर जीत हासिल कर पाई।

ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस: RBI अलर्ट, बैंकों से कहा- आपातकाल के लिए रहें तैयार

जबकि बसपा के खाते में सिर्फ 19 सीटें गईं। वहीं दूसरी ओर भाजपा ने 325 सीटों के साथ प्रचंड बहुमत पाया था।

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story