केजरीवाल संग मंत्रियों ने ली: पुराने चेहरे कैबिनेट में शामिल, मिले ये विभाग

केजरीवाल उन सभी छह मंत्रियों को कैबिनेट में रखा है, जिन्होंने पिछले कार्यकाल में सरकार के साथ काम किया। इसमें मनीष सिसोदिया समेत कई नाम शामिल है।

Published by Shivani Awasthi Published: February 16, 2020 | 11:08 am
Modified: February 16, 2020 | 2:26 pm

दिल्ली: दिल्ली में भारी बहुमत से जीत के बाद आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल रविवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली हैं। उनके साथ सभी मंत्रियों ने भी आज शपथ ली। बता दें कि शपथ समारोह कार्यक्रम का आयोजन रामलीला मैदान में हुआ। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से आम आदमी पार्टी ने 68 सीटों पर जीत दर्ज कराई है।

सीएम केजरीवाल संग मंत्रियों ने भी ली शपथ:

अरविंद केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के सीएम बन गये। आज राम लीला मैदान में उन्होंने शपथ ली । इस दौरान केजरीवाल के साथ मंच पर विभिन्न क्षेत्रों से 50 लोग शामिल रहे। इन लोगों को ‘ दिल्ली के निर्माता’ नाम दिया गया। इन्होने पिछले पांच सालों में शहर के विकास में योगदान दिया है। मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए इन लोगों में शिक्षक, बस मार्शल, सिग्नेचर ब्रिज के आर्किटेक्ट और अग्निशमन दल के परिवार शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: वाराणसी में पीएम मोदी: इस वजह से ख़ास ये दौरा, ऐसा है पूरा कार्यक्रम…

ये हैं केजरीवाल की कैबिनेट के पुराने चेहरे:

केजरीवाल उन सभी छह मंत्रियों को कैबिनेट में रखा है, जिन्होंने पिछले कार्यकाल में सरकार के साथ काम किया। इसमें मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, इमरान हुसैन, गोपाल राय, राजेंद्र गौतम और कैलाश गहलोत का नाम शामिल है।

-मनीष सिसोदिया दिल्ली के उपमुख्यमंत्री भी हैं। उन्होंने आज सीएम के बाद शपथ ग्रहण की। पिछले कार्यकाल में उन्हें शिक्षा के अलावा, सिसोदिया ने कला, संस्कृति और भाषाओं के साथ-साथ वित्त, योजना, पर्यटन, भूमि और भवन, सतर्कता, सेवा, महिला और बाल विकास के लिए महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी संभाली। ऐसे में संभावना है कि सिसोदिया को दोबारा यही विभाग दिए जायेंगे।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में तख़्तापलट! सेना पर भड़के इमरान, बोले- मैं PAK आर्मी से नहीं डरता

-वहीं सत्येंद्र जैन को पिछले कार्यकाल में AAP के मोहल्ला क्लीनिक कार्यक्रम का श्रेय दिया जाता है। सत्येंद्र जैन के पास स्वास्थ्य, उद्योग, बिजली, सार्वजनिक निर्माण विभाग, गृह और शहरी विकास के विभागों को बनाए रखने की संभावना है।

 

-वहीं विश्वासपात्र गोपाल राय ने इश्वर की नहीं बल्कि आजादी के लिए शहीद हो चुके जवानों के नाम पर शपथ ली। बता दें कि पिछले कार्यकाल में उनके पास सामान्य प्रशासन विभाग, सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण और श्रम का प्रभार संभालने के अलावा ग्रामीण विकास विभाग था। इस बार भी उन्हें इन्ही विभागों की जिम्मेदारी मिल मिल सकती है।

ये भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल का शपथ समारोह: ख़ास हैं ये 50 लोग, CM के साथ मंच करेंगे साझा

-राजेंद्र गौतम, एससी और एसटी, गुरुद्वारा चुनाव, जल और सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार के साथ समाज कल्याण विभाग के प्रभारी रहे हैं।

-कैलाश गहलोत परिवहन, राजस्व, कानून, न्याय और विधायी मामलों, सूचना और प्रौद्योगिकी और प्रशासनिक सुधार के विभागों की देखभाल की जिम्मेदारी मिली है।