×

पाकिस्तान में तख़्तापलट! सेना पर भड़के इमरान, बोले- मैं PAK आर्मी से नहीं डरता

इमरान ने अपने बयान में कहा है कि वह पाक आर्मी से बिल्कुल नहीं डरते। उन्होंने यह बात पीएम हाउस में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि सेना अच्छी तरह से जानती है कि 'मैं न तो पैसा कमा रहा हूं और न ही भ्रष्ट हूं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 15 Feb 2020 5:04 PM GMT

पाकिस्तान में तख़्तापलट! सेना पर भड़के इमरान, बोले- मैं PAK आर्मी से नहीं डरता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने ही देश की सेना के खिलाफ जुबानी जंग छेड़ दी है। उनका निशाना कोई और नहीं बल्कि आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा हैं।

इमरान ने अपने बयान में कहा है कि वह पाक आर्मी से बिल्कुल नहीं डरते। उन्होंने यह बात पीएम हाउस में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि सेना अच्छी तरह से जानती है कि 'मैं न तो पैसा कमा रहा हूं और न ही भ्रष्ट हूं।

'द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट की अनुसार, प्रधानमंत्री खान ने अपनी सरकार की स्थिरता को स्पष्ट करते हुए कहा कि सरकार कहीं नहीं जा रही है। उन्होंने कहा कि एजेंसियों को पता है कि कौन क्या कर रहा है और यही कारण है कि भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों को सेना का डर था।

खान ने कहा कि वह न तो भ्रष्ट हैं और न ही राजनीति कर पैसा कमा रहे हैं और यही कारण है कि सेना मेरे साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार और सेना के बीच कोई तनाव नहीं है।

ये भी पढ़ें...भारत के इस दुश्मन पर कड़ी कार्रवाई करेंगे इमरान! जानिए क्यों डरे पाक PM

इमरान ने अपने बारे में किया ये बड़ा दावा

इमरान खान ने पीएम हाउस में मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही। सूचना और प्रसारण मामलों के लिए उनकी विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक अवान भी इस अवसर पर उपस्थित रहीं।

उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसियों को नवाज शरीफ और आसिफ जरदारी के भ्रष्टाचार के बारे में पूरी तरह पता था और वे यह भी जानते हैं कि वह (इमरान खान) पैसा नहीं कमा रहे हैं, बल्कि देश के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं।

अभी-अभी दर्दनाक हादसा: बच्चों की मौत से हाहाकार, हर तरफ सनसनी का माहौल

मौलाना फजलुर रहमान के खिलाफ दर्ज होना चाहिए केस

उन्होंने कहा कि सरकार के खिलाफ साजिश रचने के लिए जेयूआई-एफ के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान के खिलाफ संविधान के अनुच्छेद-6 के तहत उच्च राजद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने इस बात पर भी जोर दिया कि उनकी टिप्पणियों की जांच होनी चाहिए।

हाल के दिनों में आटे और चीनी संकट के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि सरकार को उन तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी होगी, जो वस्तुओं के कृत्रिम मूल्य वृद्धि के पीछे हैं।

विभिन्न खाद्य अन्य पदार्थो की मूल्यवृद्धि पर विपक्ष के विरोध के संबंध में उन्होंने कहा कि विपक्ष एक राजनीतिक माफिया है, जिसका महंगाई से कोई लेना-देना नहीं है, बल्कि वे अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं।

ये भी पढ़ें... अमित शाह बोले-सीएम केजरीवाल और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के बीच क्या रिश्ता

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story