×

ओवैसी अब गुजरात में बीजेपी के खिलाफ ठोकेंगे ताल, इस दल के साथ लड़ेंगे चुनाव

बीटीपी विधायक छोटूभाई वसावा ने कहा कि गुजरात में बीटीपी और एआईएमाईएम संविधान को बचाने के लिए एक साथ आएं हैं। फरवरी-मार्च में जिला पंचायत और तहसील पंचायतों के चुनाव होने हैं।

Newstrack
Updated on: 26 Dec 2020 1:41 PM GMT
ओवैसी अब गुजरात में बीजेपी के खिलाफ ठोकेंगे ताल, इस दल के साथ लड़ेंगे चुनाव
X
छोटू वसावा जहागड़िया से विधायक हैं। उनका कहना है कि लोगों के बेहतर भविष्य और कांग्रेस व बीजेपी दोनों को हटाने के लिए इन दोनों दलों को साथ काम करना होगा।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

गांधीनगर: गुजरात में आगामी स्थानीय चुनाव को लेकर सभी छोटी-बड़ी पार्टियों ने अभी से चुनावी तैयारियां शुरू कर दी है। फरवरी-मार्च में जिला पंचायत और तहसील पंचायतों के चुनाव होने हैं।

ऐसे में भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आपस में हाथ मिला लिया हैं। दोनों पार्टियों ने इस बार चुनाव साथ लड़ने का निर्णय किया है।

इस बात की जानकारी बीटीपी विधायक छोटूभाई वसावा ने शनिवार को दी है। वसावा इससे पहले जेडीयू में भी रह चुके हैं।

asaduddin owaisi ओवैसी अब गुजरात में बीजेपी के खिलाफ ठोकेंगे ताल, इस दल के साथ लड़ेंगे चुनाव (फोटो:सोशल मीडिया)

शिवराज बोलें- ‘गुंडे-माफिया राज्य छोड़ दो, आजकल अपन खतरनाक मूड में हैं’

संविधान को बचाने के लिए एक साथ आएं: छोटूभाई वसावा

उन्होंने कहा कि बीटीपी और एआईएमाईएम संविधान को बचाने के लिए एक साथ आएं हैं। फरवरी-मार्च में जिला पंचायत और तहसील पंचायतों के चुनाव होने हैं।

ये दोनों दल मिलकर चुनाव लड़ेंगे। छोटू वसावा जहागड़िया से विधायक हैं। उनका कहना है कि लोगों के बेहतर भविष्य के लिए कांग्रेस और बीजेपी दोनों को हटाने के लिए इन दोनों दलों को साथ काम करना होगा।

राजस्थान का मुद्दा उठाते हुए कहा कि बीटीपी को यहां पर सिर्फ धोखा मिला क्योंकि बीजेपी और कांग्रेस ने भीतर खाने से हाथ मिला लिया था।

हिली नितीश सरकार: JDU से छिने 6 विधायक, बीजेपी के आगे सिर पकड़े रह गए सीएम

Asaduddin Owaisi ओवैसी अब गुजरात में बीजेपी के खिलाफ ठोकेंगे ताल, इस दल के साथ लड़ेंगे चुनाव (फोटो:सोशल मीडिया)

ओवैसी की तरफ से अभी तक नहीं आया कोई रिएक्शन

ताकि बीटीपी को सत्ता में आने से रोका जा सके। उन्होंने ये भी कहा कि गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए ओवैसी को भी बुलाया जाएगा।

बता दें कि पूरे गुजरात सदन में बीटीपी के दो ही विधायक हैं। एक छोटू वसावा और दूसरे उनके बेटे हैं। इसके अलावा बीटीपी के पास राजस्थान में भी दो सीटें हैं। लेकिन इस पर अभी ओवैसी की तरफ से कोई रिएक्शन नहीं आया है।

भाजपा पर हमले का कोई मौका नहीं चूकतीं ममता, इसलिए उठाया विश्वभारती का मुद्दा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story