Top

दिलीप घोष का 'अश्लील' बयान: प्रदर्शनकारी महिलाएं ड्रग्स लेकर करती हैं....

पश्चिम बंगाल के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष एक बार फिर से अपने विवादित बयान के चलते चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, दिलीप घोष ने कहा है कि औरतों का अशोभनीय काम करना बेहद दुखदायी है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 9 March 2020 7:50 AM GMT

दिलीप घोष का अश्लील बयान: प्रदर्शनकारी महिलाएं ड्रग्स लेकर करती हैं....
X
दिलीप घोष का 'अश्लील' बयान: प्रदर्शनकारी महिलाएं ड्रग्स लेकर करती हैं....
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष एक बार फिर से अपने विवादित बयान के चलते चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, दिलीप घोष ने कहा है कि औरतों का अशोभनीय काम करना बेहद दुखदायी है। उन्होंने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि महिलाओं का एक वर्ग टैगोर के गीतों को तोड़ मरोड़ कर वीडियो बनाने और ड्रग्स लेकर सड़कों पर भड़काऊ नारे लगाने जैसे अशोभनीय काम करता है। वहीं दिलीप घोष के इस बयान को तृणमूल कांग्रेस ने प्रदेश की महिलाओं का अपमान बताया है।

ये समाज का पतन है- दिलीप घोष

दिलीप घोष कोलकाता के गोल्फ ग्रीन इलाके में स्थानीय लोगों से चाय पर चर्चा कर रहे थे। चर्चा के दौरान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि ये चिंता हैं कि कुछ महिलाएं अपने आत्मसम्मान को लेकर लापरवाही हो रही हैं। उन्होंने कहा कि कुछ महिलाएं अपनी सभ्यता, गरिमा और संस्कार की बिल्कुल भी परवाह नहीं कर रही। वीडियो में उन्हें अशोभनीय काम करते हुए देखा जा सकता है। उन्होंने आगे कहा कि मैं किसी पर आरोप नहीं लगा रहा, लेकिन ये समाज का पतन है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में शर्मिंदगी की सारी हदें पार, महिलाओं पर फेंके गए जूते-पत्थर

आखिर समाज कहां जा रहा है?

दिलीप घोष ने शहर में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ लगाए जा रहे नारों पर कहा कि, महिलाओं को दिनभर सड़कों पर आगे की पंक्ति में बैठा दिया जाता है और भड़काऊ नारे लगवाए जाते हैं। हमें सोचना चाहिए कि आखिर समाज कहां जा रहा है।

दिलीप घोष ने जताई चिंता कि...

पश्चिम बंगाल के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने इस बात पर चिंता भी जताई कि सड़क पर इस तरह का रवैया करने वाली महिलाएं हिंसा का शिकार भी हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि इस पर सभी अभिभावकों, कॉलेज प्रशासन, स्कूल पदाधिकारियों और शिक्षा मंत्री को समाज के पतन के बारे में सोचना चाहिए।

यह भी पढ़ें: बर्बाद हो जाएगा रूस, सऊदी अरब ने उठाया ये बड़ा कदम, पूरी दुनिया पर पड़ेगा असर

TMC पार्टी ने बयान पर दी कड़ी प्रतिक्रिया

वहीं उनके बयान पर ममता बनर्जी की पार्टी के वरिष्ठ नेता ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। दिलीप घोष के बयान के बाद शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने उन्हें असभ्य और बर्बर बताया है। उन्होंने कहा कि दिलीप घोष ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर राज्य की महिलाओं का अपमान किया है।

शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों पर भी दे चुके हैं विवादित बयान

बता दें कि दिलीप घोष ने इससे पहले शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि शाहीन बाग में विदेशी फंड के जरिए बिरयानी खिलाई जा रही है। उन्होंने ये भी कहा था कि शाहीन बाग में केवल अशिक्षित महिला और पुरूष प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: YES BANK संकट के बीच शेयर बाजार में भूचाल, सेंसेक्स 1600 अंक लुढ़का

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story