Top

बीजेपी नेता का दावा: मझे गिरफ्तार करने वाले हो जाते हैं बर्खास्त

भड़काऊ भाषण देकर दिल्ली हिंसा की आग में घी डालने वाले भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने फिर एक ऐसा ट्वीट किया है जो बहस का एक मुद्दा बन सकता है।

Aradhya Tripathi

Aradhya TripathiBy Aradhya Tripathi

Published on 26 Feb 2020 12:17 PM GMT

बीजेपी नेता का दावा: मझे गिरफ्तार करने वाले हो जाते हैं बर्खास्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भड़काऊ भाषण देकर दिल्ली हिंसा की आग में घी डालने वाले भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने फिर एक ऐसा ट्वीट किया है जो बहस का एक मुद्दा बन सकता है। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर ये दावा किया है कि जो अधिकारी उन्हें गिरफ्तार करवाना चाहता था उसे नौकरी से निकाल दिया गया है। भाजपा नेता का ये ट्वीट दूरसंचार विभाग में अधिकारी आशीष जोशी के निलंबन के तुरंत बाद आया है। जो कहीं न कहीं एख इशारा ज़रूर कररहा है।

अचानक किया गया निलंबित

दूरसंचार विभाग में अधिकारी आशीष जोशी को मंगलवार को निलंबित कर दिया गया, हालांकि इसके पीछे कोई वजह नहीं बताई गई है। आशीष जोशी ने ही दिल्ली पुलिस कमिश्नर को भाजपा नेता कपिल शर्मा के भड़काऊ बयान वाले वीडियो के खिलाफ पत्र लिखकर शिकायत की थी। दूरसंचार विभाग के सूत्रों के मुताबिक जोशी को उनके पद का गलत इस्तेमाल करने और अपने आधिकारिक लेटरहेड से शिकायत करने के आरोप में निलंबित किया गया है। जोशी को यह सस्पेंशन ऑर्डर विभाग के असिस्टेंट डायरेक्टर जनरल ओपी जैरथ की ओर से भेजा गया है।

हिंसा भड़काने का लगाया था आरोप

ये भी पढ़ें-राज्यसभा चुनाव: क्या बहुमत का आंकड़ा छू पाएगी बीजेपी ?

आईएएस आशीष जोशी ने सोमवार को दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को एक पत्र लिखा था जिसमें कि उन्होंने "उत्तेजक और भड़काऊ और घृणा फैलाने" वाले वीडियो के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए के तहत कार्रवाई करने का आग्रह किया था। पत्र में ये भी लिखा कि मिश्रा की क्लिप ने कश्मीरियों पर हमला नहीं करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश का "उल्लंघन" किया है।

जोशी का निलंबन आदेश में केवल यह कहा गया कि विभाग जोशी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है, और उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है। जोशी 1992 बैच के भारतीय डाक और दूरसंचार लेखा और वित्त सेवा के अधिकारी हैं।

वीडियो में दिया था भड़काऊ बयान

कपिल मिश्रा ने एक 2.18 मिनट का एक वीडियो ज़ारी किया था। जिसमें वो बोल रहे हैं, "हम देशद्रोही टिप्पणी करने वाले देशद्रोहियों के खिलाफ युद्ध छेड़ेंगे।" उन्होंने यह भी कहा कि "उन्हें अपने घरों से घसीटकर सड़कों पर लाया जाएगा।"

ये भी पढ़ें- इस भारतीय मूल के शख्स को मिला बड़ा पद: संभालेंगे अहम जिम्मेदारी

इसके बाद भाजपा नेता ने अभिनेता नसीरुद्दीन शाह और कमल हासन, कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू, वकील प्रशांत भूषण, पत्रकार बरखा दत्त और शेहला राशिद के खिलाफ हिंसा का आह्वान किया। उन्होंने द कारवां पत्रिका के एक लेख का उल्लेख किया है, जिसमें पुलवामा आतंकी हमले में मारे गए जवानों की जाति के आधार पर प्रोफाइल लिखी गई थी और इसमें यह भी कहा गया था कि कुछ रिपोर्ट्स हैं जो पत्थरबाजों को निर्दोष बताती हैं।

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story