Top

ममता है 'राक्षसी': तो बीजेपी के नेता हैं 'देवता', बयान पर मचा घमासान

अक्सर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले बलिया जिले के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। इस बार उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 15 Jan 2020 5:49 AM GMT

ममता है राक्षसी: तो बीजेपी के नेता हैं देवता, बयान पर मचा घमासान
X
ममता है 'राक्षसी': तो बीजेपी के नेता हैं 'देवता', बयान पर मचा घमासान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलिया: अक्सर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले बलिया जिले के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। इस बार उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि, प्रजातांत्रिक व्यवस्था में ममता बनर्जी के अंदर शुद्ध रूप से 'राक्षसी संस्कार' है और उनके पास कोई भी नारी धर्म का संस्कार नहीं है। बीजेपी विधायक ने ये बातें सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहीं।

यह भी पढ़ें: आप थक जाएंगे लेकिन नहीं रूकेगा ये फोन, इस दिन हो रहा लॉन्च

BJP विधायक ने कहा- ममता में राक्षसी संस्कार

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने नागरिकता संशोधन कानून को खिलाफ ममता के विरोध पर एक सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनके अंदर शुद्ध रूप से 'राक्षसी संस्कार' है और उनके पास कोई भी नारी धर्म का संस्कार नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसे नेता को जो, सैकड़ों हिंदुओं का कत्लेआम करने वाले शरणार्थियों को संरक्षण दे रही हैं, हम उन्हें राक्षस ही कह सकते हैं।

यह भी पढ़ें: अजब-गजब! लाखों रुपये चुकाने कब्र से बाहर आयेगा मृत

टीएमसी राक्षसों की पार्टी- बीजेपी पार्टी

यहीं नहीं उन्होंने इस दौरान ममता बनर्जी की पार्टी और अन्य विपक्षी पार्टियों को राक्षसों की पार्टी बताया। उन्होंने कहा कि बीजेपी देवताओं की पार्टी है, और सपा, बसपा व तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) राक्षसों की पार्टी है। उन्होंने आगे कहा कि, आतंकियों को संरक्षण देने का मतलब राक्षसों को संरक्षण देने जैसा होता है।

वहीं जब बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह से यूपी में पुलिस विभाग में लागू की गई पुलिस आयुक्त प्रणाली की सफलता को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, व्यवस्था चाहे जो भी हो, जब तक अधिकारी, कर्मचारी और नेता देश के लिए संवेदनशील नहीं होंगे तो कोई बहुत बड़ा परिवर्तन नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: DSP और आतंकी का ऐसा कनेक्शन: ये राज आपके होश उड़ा देगा

Shreya

Shreya

Next Story