शिवराज सरकार के नए डिप्टी सीएम, रेस में शामिल ये नाम…

शिवराज सरकार ने अगला उपमुख्यमंत्री कौन होगा, इस पर सबकी निगाहें टिकी हैं। एक सवाल ये भी है कि क्या शिवराज सरकार ने अपनी पकड़ मजबूत कर रहे कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे से अगला मुख्यमंत्री हो सकता है?

भोपाल: मध्य प्रदेश की सियासत में आखिरकार मुख़्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट का विस्तार हो गया है। कुछ ही देर में शिवराज सरकार के 28 नए मंत्री शपथ लेने वाले हैं। काफी मंथन और उठापटक के बाद शिवराज कैबिनेट में ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे से 9 विधायकों को शामिल किया गया है, वहीं 3 विधायक कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए हैं। अन्य 16 भाजपा के विधायक हैं। इन सबके बीच नजर है तो मध्य प्रदेश के नए उपमुख्यमंत्री की।

क्या सिंधिया खेमे से होगा मध्य प्रदेश का नया मुख्यमंत्री

शिवराज सरकार ने अगला उपमुख्यमंत्री कौन होगा, इस पर सबकी निगाहें टिकी हैं। एक सवाल ये भी है कि क्या शिवराज सरकार ने अपनी पकड़ मजबूत कर रहे कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे से अगला मुख्यमंत्री हो सकता है?

डिप्टी सीएम की रेस में ये नाम शामिल

ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को पहले ही कैबिनेट में जगह दी जा चुकी है। बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने चहेते विधायक तुलसी सिलावट को कांग्रेस सरकार में भी उपमुख्यमंत्री बनवाना चाहते थे। लेकिन कमलनाथ सरकार में सिंधिया का यह सपना पूरा न हो सका। ऐसे में सम्भावना है कि सिंधिया ने सिलावट को डिप्टी सीएम की कुर्सी तक पहुंचाने के लिए दमखम लगा दिया होगा।

ये भी पढ़ेंः आज विष पीएंगे शिवराज? CM की ये तस्वीरें बयां कर रहीं दर्द

दो डिप्टी सीएम का फॉर्मूला

वहीं सूत्रों की माने तो प्रदेश को दो डिप्टी सीएम भी मिप सकते है। माना जा रहा है कि सिंधिया खेमे से तुलसी सिलावट और भाजपा से नरोत्तम मिश्रा को उप मुख्यमंत्री बनाया जाएगा।

दरअसल, सिंधिया तुलसी सिलावट को उपमुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं। ऐसे में अगर भाजपा सिंधिया की बात मानती है तो पार्टी के अन्य नेता नाखुश हो सकते हैं। सन्तुलन बनाने के लिए नरोत्तम मिश्रा को भी डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार से उमा भारती नाराज, पत्र लिखकर कही ये बात

शिवराज मंत्रिमंडल में इनको मिली जगह

इस विस्तार में सिंधिया खेमे के 9 विधायकों को और कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए तीन नेताओं को शामिल किया गया है। वहीं भाजपा के 16 विधायकों को जगह मिली है। इस बार कई पुराने चेहरों को कैबिनेट से आउट कर दिया गया है।

सिंधिया खेमे से 9 विधायक शामिल

महेंद्र सिंह सिसोदिया
प्रभु राम चौधरी
प्रदुम सिंह तोमर
इमरती देवी
राजवर्धन सिंह
ओपीएस भदौरिया
गिर्राज दंडोतिया
सुरेश धाकड़
बृजेंद्र सिंह यादव

कांग्रेस से BJP में आए इन विधायकों को जगह

बिसाहूलाल सिंह
हरदीप सिंह डंग
एदल सिंह कंसाना

ये भी पढ़ेंः शिवराज कैबिनेट का विस्तार, 28 मंत्रियों ने ली शपथ, सिंधिया का बोलबाला

बीजेपी के 16 विधायक शामिल

गोपाल भार्गव
भूपेंद्र सिंह
यशोधरा राजे सिंधिया
विजय शाह
जगदीश देवड़ा
बृजेंद्र प्रताप सिंह
विश्वास सारंग
प्रेम सिंह पटेल
इंदर सिंह परमार
उषा ठाकुर
ओमप्रकाश सकलेचा
भारत सिंह कुशवाह
रामकिशोर कावरे
मोहन यादव
अरविंद भदौरिया
रामखेलावन पटेल

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।