नवजोत सिंह सिद्धू के लिए बड़ी खुशखबरी, बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

कांग्रेस विधायक अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि, नवजोत सिंह सिद्धू को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है।

Published by Shreya Published: December 13, 2019 | 11:10 am
नवजोत सिंह सिद्धू के लिए बड़ी खुशखबरी, बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

नवजोत सिंह सिद्धू के लिए बड़ी खुशखबरी, बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

चंडीगढ़: कांग्रेस विधायक अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि, नवजोत सिंह सिद्धू को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। गिद्दड़बाहा से कांग्रेस विधायक अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने कहा कि, पंजाब में कांग्रेस सरकार के 3 साल पूरे हो चुके हैं और सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को अब अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करना चाहिए और दूसरे पात्र विधायकों को मंत्री बनने का मौका देना चाहिए। उन्होंने कहा कि, हालांकि मंत्रिमंडल में फेरबदल करने का अधिकार मुख्यमंत्री का ही होता है।

यह भी पढ़ें: CAB: नार्थ ईस्ट के बाद यूपी में भी तनाव, यहां शाम पांच बजे तक इंटरनेट सेवा पर रोक

सिद्धू बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री- विधायक

उन्होंने कहा कि, कांग्रेस सरकार के कार्यकाल का तीन साल पूरा हो चुका है और अब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी चाहिए कि वो अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करें। वह अपने मंत्रिमंडल में शामिल मंत्रियों द्वारा किए गए काम की समीक्षा करें और जो मंत्री अपने काम में खरे नहीं उतर पाए हैं, उन्हें अपने मंत्रिमंडल से बाहर कर नए मंत्रियों को मौका दें। जब उनसे कांग्रेस विधायक से नवजोत सिंह सिद्धू को डिप्टी सीएम बनाए जाने की चर्चाओं के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि, नवजोत सिंह सिद्धू को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। वह कांग्रेस के कद्दावर नेता हैं।

यह भी पढ़ें: सुकमा: नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी, मुठभेड़ में मारे गए दो नक्सली

गौरतलब है कि राजा अमरिंदर सिंह वडिंग पंजाब कांग्रेस का एक बड़ा चेहरा है। राजा वड़िंग अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री पद के पसंदीदा विधायकों की लाइन में सबसे आगे रहे हैं। सरकार के तीन साल बीत जाने के बाद भी मंत्रिमंडल में कोई फेरबदल नहीं किया गया है।

मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रियों के विभागों में फेरबदल तो किया लेकिन उन्होंने किसी भी नए चेहरे को शामिल नहीं किया। अब राजा वडिंग ने नवजोत सिंह सिद्धू को उपमुख्यमंत्री बनाने की बात कह कर कैप्टन के खिलाफ मोर्चा खोलने का संकेत दिया है। क्योंकि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच काफी मतभेद हैं और ऐसे में सिद्धू को उपमुख्यमंत्री बनाने जाने पर सीएम की सहमति मुश्किल ही बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: BJP सांसद ने गिनाए संस्कृत के फायदे, कहा- संस्कृत से नहीं होती ये बीमारी