इन दो राज्यों में बढ़ा Cyber Attack का खतरा, फौरन फॉलो करे ये 5 Security tips

महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों की प्रक्रिया की शुरुआत हो गई है। इसके मद्देनजर चुनाव आयोग लोगों तक आसानी से और तेजी से जानकारियां पहुंचाने के काम में तेजी से जुट गया है।

नई दिल्ली: महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों की प्रक्रिया की शुरुआत हो गई है। इसके मद्देनजर चुनाव आयोग लोगों तक आसानी से और तेजी से जानकारियां पहुंचाने के काम में तेजी से जुट गया है।

लेकिन ये काम इतना आसान नहीं है। वो इसलिए क्योंकि इसमें साइबर अटैक का खतरा भी बना हुआ है। ऐसे में चुनाव आयोग ने जिन राज्यों में इलेक्शन होने है वहां के लिए कुछ ख़ास दिशा निर्देश जारी किये है।

जैसे कि जिस राज्य में चुनाव हैं, वहां किसी भी प्रकार की चुनाव से संबंधित ऑनलाइन गतिविधियों के लिए आयोग से इजाजत लेनी होगी।
इसके साथ ही चुनाव आयोग ने चुनाव के दौरान साइबर अटैक जैसी स्थितियों से निपटने के खास प्लान तैयार किया है।

इस इस प्लान को फिलहाल दोनों राज्यों में भेजा भी गया है, ताकि चुनाव कराने वाले अधिकारी इंटरनेट के लिए फिशिंग को रोक सकें। इसमें किस प्रकार से लोगों को वेबसाइट व एप चलानी है, इस बात की जानकारी भी दी गई है।

चुनाव आयोग की प्रतीकात्मक फोटो

ये भी पढ़ें…कांग्रेस को ले डूबेंगे राहुल! दो राज्यों में होने वाले हैं चुनाव और जनाब को है गुस्सा

इन पांच सिक्योरिटी टिप्स का करना होगा पालन

1. अगर अपने लैपटॉप, कंप्यूटर, मोबाइल, टैबलेट का प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो वेबसाइट को लॉगआउट करें, समय की कोई कमी न महसूस करें।

2. जब भी कोई वेबसाइट, ईमेल या किसी प्रकार के अटैचमेंट को खोलें तो उसका यूआरएल अच्छे से देख लें। क्योंकि हैकर्स आपके कंप्यूटर में घुसने के लिए मिलते-जुलते नामों से वेबसाइट या ईमेल भेजते हैं।

3. अच्छे पासवर्ड मैनेजमेंट को जरूर अपनाएं। इसमें कई वेबसाइटों के लिए एक सा पासवर्ड न बनाएं, पासवर्ड में कई अक्षर व सिंबल डालें।

4. पब्लिक वाईफाई, दोस्तों के इंटरनेट आदि स्थानों पर आधिकारिक वेबसाइटों को न चलाएं।

5. अधिकारी यह न समझें कि उनके साथ हैकिंग जैसी घटना नहीं होगी, बल्कि वह हैकर्स के लिए एक आसान लक्ष्य हैं।

ये भी पढ़ें…चुनाव से पहले देखें क्या कहती है एडीआर रिपोर्ट, हरियाणा के बारे में