आजाद के बयान पर कांग्रेस में घमासान तेज, लगा ऐसी साजिश रचने का आरोप

पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी के कामकाज के तरीके पर एक बार फिर सवाल उठाए हैं। आजाद ने कहा कि सच्चाई तो यह है कि हमारी पार्टी का ढांचा ढह चुका है और हमें इसे फिर से तैयार करने की जरूरत है।

gulam-nabi-azad

आजाद के बयान पर कांग्रेस में घमासान तेज, लगा ऐसी साजिश रचने का आरोप (Photo by social media)

नई दिल्ली: हाल में हुए चुनावों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद पार्टी में शुरू हुआ घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल के सवाल उठाने के बाद अब गुconलाम नबी आजाद के बयानों ने आग में घी डालने का काम किया है।

पार्टी नेताओं के बयानों से साफ है कि पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। आजाद के बयान पर हंगामा शुरू हो गया है। हरियाणा कांग्रेस के नेता कुलदीप विश्नोई और पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने आजाद के बयान पर सवाल खड़े किए हैं। बिश्नोई ने तो बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि आजाद पार्टी तोड़ने में जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें:यात्रीगण सावधान! 1 दिसंबर से बंद होने जा रहीं सभी ट्रेनें, मंत्रालय ने कही ये बात

आजाद ने फाइव स्टार कल्चर पर उठाए सवाल

पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी के कामकाज के तरीके पर एक बार फिर सवाल उठाए हैं। आजाद ने कहा कि सच्चाई तो यह है कि हमारी पार्टी का ढांचा ढह चुका है और हमें इसे फिर से तैयार करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नेताओं को समझना होगा कि फाइव स्टार कल्चर से चुनाव नहीं जीते जा सकते। उन्होंने देश के विभिन्न राज्यों में कमजोर होती कांग्रेस का जिक्र करते हुए कहा कि पदाधिकारियों को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। जब तक हम हर स्तर पर अपने कामकाज के तौर-तरीकों नहीं बदलेंगे, तब तक चीजें नहीं बदलेंगी।

congress-party
congress-party (Photo by social media)

वरिष्ठ नेताओं का अनुशासन तोड़ना दुखद

आजाद के बयान पर पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस की नई पीढ़ी ने वरिष्ठ नेताओं से ही अनुशासन सीखा है। ऐसे में वरिष्ठ नेताओं का अनुशासन तोड़ना काफी दुखद है। सीडब्ल्यूसी के नामित सदस्य पार्टी के अंदर अपनी बात रख सकते हैं। पार्टी के भीतर कई ऐसे मंच है जहां अपनी बातों को रखा जा सकता है मगर सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी करना गलत है।

पवन खेड़ा ने आजाद की ओर इशारा करते हुए कहा कि वे सीडब्ल्यूसी के नामित सदस्य हैं और संगठन व सरकार में भी बड़े पदों पर रहे हैं। ऐसे में उन्हें सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी से बाज आना चाहिए।

विश्नोई ने आजाद को घेरा

कांग्रेस कार्यसमिति के विशेष आमंत्रित सदस्य कुलदीप विश्नोई ने भी गुलाम नबी आजाद पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि आजाद पार्टी को तोड़ने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

विश्नोई ने कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता आजाद की इस साजिश को कभी कामयाब नहीं होने देंगे। विश्नोई ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट कर कहा कि आजाद आज कह रहे हैं कि पार्टी में नीचे से ऊपर तक चुनाव होना चाहिए।

गांधी परिवार की वजह से पांच बार सांसद

विश्नोई ने कहा कि जब वे जम्मू-कश्मीर युवा कांग्रेस के अध्यक्ष बने थे, तब उन्होंने चुनाव की बात क्यों नहीं की थी। इसके बाद भी वे लगातार संगठन और सरकार में बड़े पदों पर काबिज रहे हैं मगर इस दौरान भी उन्होंने कभी चुनाव कराने की मांग नहीं की।

विश्नोई ने आजाद को याद दिलाया कि गांधी परिवार की वजह से उन्होंने कितना सत्ता सुख भोगा है। उन्होंने कहा कि गांधी परिवार की वजह से ही वे पांच बार राज्यसभा सदस्य बनने में कामयाब हुए हैं जबकि उन्होंने अब तक सिर्फ तीन चुनाव ही जीते हैं।

चौधरी ने भी जताई तीखी प्रतिक्रिया

लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी भी आजाद के बयानों से खासे नाराज हैं। उनका कहना है कि पार्टी के नेता राहुल गांधी पर निशाना साधने वाले नेताओं को पहले अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। चौधरी ने इससे पहले सिब्बल के बयानों पर भी तीखी आपत्ति जताई थी।

चौधरी ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कांग्रेस की एक संस्कृति है। उन्होंने वरिष्ठ नेताओं के सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी करने पर भी आपत्ति जताई है।

congress-party-flag
congress-party (Photo by social media)

ये भी पढ़ें:Micromax का शानदार स्मार्टफोन: आज से शुरू होगी बिक्री, गजब के हैं फीचर्स

चुनावी नतीजों के बाद घमासान तेज

सियासी जानकारों का कहना है कि हाल में बिहार विधानसभा चुनाव और अन्य राज्यों में हुए चुनावों के बाद कांग्रेस में घमासान लगातार बढ़ता जा रहा है। अभी तक हाईकमान की ओर से इस घमासान को खत्म करने की कोई पहल नहीं की गई है। ऐसे में पार्टी के नेता आपसी आरोप-प्रत्यारोप में ही उलझते जा रहे हैं।

रिपोर्ट- अंशुमान तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App