मोदी को मिला मुख्यमंत्रियों का साथ, इस लड़ाई में सभी हुए एकजुट

पीएम मोदी को बैठक में शामिल होने वाले तीन राज्यों के मुख्यमंत्रियों का समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात में पीएम का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में राजनीति नहीं होनी चाहिए और पूरा देश एकजुट है।

नई दिल्ली: लद्दाख में गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद कांग्रेस समेत कई विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे हैं। इन सबके बीच PM मोदी ने दो दिन पहले सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। इसमें प्रधानमंत्री के बयान पर कुछ पार्टियों ने विवाद खड़ा कर दिया। जिसके बाद पीएम मोदी को बैठक में शामिल होने वाले तीन राज्यों के मुख्यमंत्रियों का समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात में पीएम का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में राजनीति नहीं होनी चाहिए और पूरा देश एकजुट है।

यह भी पढ़ें:  सूर्यग्रहण के बाद सबसे पहले करें ये काम, तभी होंगे हर काम सफल

इस बयान पर खड़ा हुआ विवाद

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्वदलीय बैठक में कहा था कि न तो चीन ने हमारी सीमा में प्रवेश किया है, न ही हमारी कोई भी पोस्ट कब्जे में है। पीएम मोदी के इसी बयान पर विवाद खड़ा हुआ था। कांग्रेस ने सवाल उठाया कि तो फिर 20 जवान कैसे शहीद हुए? उनके बयान को लेकर काफी हंगामा खड़ा हुआ।

इन्होंने किया समर्थन

इस मुद्दे पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी, सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग और मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने पीएम का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें: बिग सेविंग डेज सेल: स्मार्टफोन्स पर बंपर डिस्काउंट, फिर नहीं मिलेगा ये मौका

जगनमोहन रेड्डी ने दिया पीएम का साथ

इस मुद्दे पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने ट्वीट करते हुए सर्वदलीय बैठक में जबरदस्ती पैदा किए गए विवाद को लेकर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि यह समय सेना के साथ हमारी एकता और एकजुटता का है। ना कि दूसरी की गलतियां ढूंढकर उंगली उठाने का। उन्होंने आगे कहा कि माननीय पीएम और अन्य मंत्रियों ने सवालों के बहुत ही ठोस उत्तर दिए। देश को इस मुद्दे पर एकजुट होना चाहिए। एकता ताकत लाती है और विभाजन कमजोरी प्रदर्शित करता है।

मेघालय के मुख्यमंत्री ने कहा भारत का रूख स्पष्ट

वहीं मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ऑल पार्टी मीटिंग के दौरान, PM नरेंद्र मोदी ने भारत-चीन स्थिति पर विस्तार से बात की। जब संप्रभुता की सुरक्षा की बात आती है तो पीएम मोदी के जवाब भारत के मजबूत रुख को स्पष्ट रूप से दिखाती है। अन्य सभी “टिप्पणी” को अनदेखा किया जा सकता है। यह तथ्यात्मक या वांछित नहीं है।

यह भी पढ़ें: International Yoga Day 2020: IIT कानपुर में योग दिवस का हुआ आयोजन

प्रेम सिंह तमांग ने कहा मोदी का स्टैंड बिल्कुल साफ

सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने ट्वीट किया, सर्वदलीय बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी का स्टैंड चीन के मुद्दे पर बिल्कुल साफ है। यह सुनकर आश्वस्त हुआ कि सरकार भारत के हितों के साथ समझौता नहीं करेगी। सभी को अपनी सेना पर पूरा भरोसा है कि वो दुश्मन को हराने में सक्षम है।

वे सबक सिखाकर शहीद हुए

पीएम मोदी ने कहा कि मैं शहीदों के परिवारों को विश्‍वास दिलाता हूं कि पूरा देश उन्हें नमन करता है। पूरा देश उनके साथ खड़ा है। लद्दाख में हमारे 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए। लेकिन जिसने भी भारत मां की ओर आंख उठाकर देखा, उन्हें वे शहीद जवान सबक सिखाकर गए हैं। वो मारते-मारते मरे हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि भारत के पास ऐसी क्षमताएं हैं कि कोई भी हमारी एक इंच जमीन भी नहीं ले सकता।

यह भी पढ़ें: कातिल बना स्टार: TikTok पर हैं लाखों फैंस, दिनदहाड़े किया प्रेमिका का कत्ल

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App