Top

अब भी होश में नहीं आई महबूबा मुफ्ती तो खत्म हो जाएगी PDP, 3 नेताओं का इस्तीफा

Newstrack

By Newstrack

Published on 26 Nov 2020 9:27 AM GMT

अब भी होश में नहीं आई महबूबा मुफ्ती तो खत्म हो जाएगी PDP, 3 नेताओं का इस्तीफा
X
दरअसल शुक्रवार को महबूबा जब अपने घर से कहीं जाने के लिए निकल रहीं थी तो उनकी सुरक्षा में तैनात जवानों ने उन्हें बाहर जाने की परमिशन नहीं दी।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जम्मू: जम्मू कश्मीर से बड़ी खबर आ रही है। यहां राजनीतिक तनाव के बीच महबूबा मुफ्ती की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी को तगड़ा झटका लगा है।

गुरुवार को पार्टी के तीन नेताओं ने एक साथ पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने वाले नेताओं में धमन भसीन, फुलेल सिंह और प्रीतम कोतवाल शामिल हैं।

उन्होंने इस्तीफा देते वक्त पार्टी पर गंभीर आरोप भी लगाया। उनका कहना है पीडीपी को सांप्रदायिक तत्वों ने हाइजैक कर लिया है। ऐसे में हमारे पास पार्टी को छोड़ने के अलावा दूसरा कोई ऑप्शन अब बचा नहीं है।

MEHBOOBA MUFTI जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ़्ती की फोटो(सोशल मीडिया)

आजाद के बयान पर कांग्रेस में घमासान तेज, लगा ऐसी साजिश रचने का आरोप

पीडीपी को किया जा चुका है हाईजैक, पार्टी छोड़ने के अलावा हमारे पास कोई और ऑप्शन नहीं

गौरतलब है कि जब से जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती आर्टिकल 370 के मामले में रिहा हुई हैं। उसके बाद से लगातार उन्हें एक के बाद एक कई बड़े झटके लग रहे हैं।

कभी वह अपने बयानों को लेकर अपनी ही पार्टी के नेताओं के निशाने पर आ जाती हैं तो कभी उनके पार्टी के नेता पीडीपी को हाइजैक किये जाने का आरोप लगाकर खुद ही उनकी पार्टी छोड़ देते हैं। इसी कड़ी में आज तीन नेताओं ने फिर उनकी पार्टी छोड़ दी है।

लव जिहाद पर बोलीं नुसरत: ये साथ नहीं चलते, पार्टियों पर जमकर निकाला गुस्सा

Mehbooba Mufti जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती की फोटो(सोशल मीडिया)

रिहा होने के बाद से महबूबा को लग रहे एक के बाद एक कई बड़े झटके

महबूबा मुफ़्ती की मुश्किलें यही पर खत्म होती नजर नहीं आ रही है। उधर पार्टी की युवा शाखा के अध्यक्ष वाहिद उर रहमान पारा को वर्ष 2019 के संसदीय चुनाव के दौरान आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों के साथ मिलकर साजिश रचने के आरोप में बुधवार को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गिरफ्तार कर लिया था।

उसने अभी हाल ही में जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनावों के लिए दक्षिण कश्मीर में पुलवामा से अपना नामांकन कराया था।

पारा दक्षिण कश्मीर खासकर आतंकवादग्रस्त पुलवामा में पीडीपी का अहम नेता था। उसका नाम निलंबित डीएसपी दविंदर सिंह मामले की जांच के दौरान सामने आया था।

महाराष्ट्र में बनेगी BJP की सरकार! सियासी हलचल तेज, फडणवीस ने कही ये बात

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story