Top

सिरदर्द बनी CM Yediyurappa के लिए ये सीडी, कांग्रेस ने बताया ब्लैकमेल जनता पार्टी

सीएम येदियुरप्पा के लिए एक सीडी फिर से सिर दर्द बन गई है। इस सीडी को लेकर एक ओर जहां बागी विधायक CM येदियुरप्पा पर निशाना साध रहे हैं, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने भी कर्नाटक की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) को निशाने पर लिया है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 21 Jan 2021 8:46 AM GMT

सिरदर्द बनी CM Yediyurappa के लिए ये सीडी, कांग्रेस ने बताया ब्लैकमेल जनता पार्टी
X
सिरदर्द बनी CM Yediyurappa के लिए ये सीडी, कांग्रेस ने बताया ब्लैकमेल जनता पार्टी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेंगलुरु: कर्नाटक में बी. एस. येदियुरप्पा (B.S. Yediyurappa) सरकार का कैबिनेट विस्तार होने के बाद से राज्य की सियासत में काफी उथल पुथल मच गई है। इस विस्तार से कई विधायक मुख्यमंत्री से नाराज चल रहे हैं। इस बीच सीएम येदियुरप्पा के लिए एक सीडी फिर से सिर दर्द बन गई है। इस सीडी को लेकर एक ओर जहां बागी विधायक CM येदियुरप्पा पर निशाना साध रहे हैं, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने भी कर्नाटक की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) को निशाने पर लिया है।

कांग्रेस ने भाजपा पर साधा निशाना

कर्नाटक में कांग्रेस के चीफ डीके शिवकुमार (Congress Chief DK Shivakumar) ने कहा है कि अब भाजपा का नाम ब्लैकमेल जनता पार्टी (Blackmail Janata Party) हो जाना चाहिए। बता दें कि राज्य में हुए कैबिनेट विस्तार के बाद बीजेपी के कुछ विधायकों ने आरोप लगाया है कि त्रिमंडल विस्तार में सीएम बी. एस. येदियुरप्पा ने उन लोगों को मंत्री पद दिया है, जो इस रहस्यमयी सीडी (Mystery CD) के चलते उन्हें ब्लैकमेल कर रहे थे।

यह भी पढ़ें: नंदीग्राम का संग्राम: ध्रुवीकरण की जमीन तैयार, ममता को मिलेगी कड़ी चुनौती

bs yediyurappa (फोटो- सोशल मीडिया)

जानें क्या है पूरा मामला?

दरअसल, कर्नाटक की राजनीति में इस CD की एंट्री साल 2017 में हुई थी। उस दौरान मुख्यमंत्री के निजी सहायक एन.आर. संतोष ने पंचायती राज व ग्रामीण विकास मंत्री के. एस. ईश्वरप्पा के सहायक विनय का कथित तौर पर किडनैप (Kidnap) करने की कोशिश की थी। ऐसी खबरें थी कि विनय के पास एक सीडी है, जिसे संतोष तोड़ना चाहता है। इस मामले में संतोष को बाद में जमानत मिल गई। अब कुछ महीने पहले ही संतोष को मुख्यमंत्री येदियुरप्पा का राजनीतिक सचिव बनाया गया है।

बीते साल नवंबर में जब संतोष की हालत खराब हुई तो उसे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करा दिया गया। अब इस दौरान यहीं सीडी एक बार फिर से चर्चा में आ गई है। अब कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस मामले में कहा कि मुझे खबर मिली है कि संतोष के कथित सुसाइड के पीछे की वजह सीडी हो सकती है। इस मामले को जांच एजेंसियों को देखना चाहिए। ये मामला संतोष के डिस्चार्ज होने के साथ ही शांत हो गया। संतोष के मुताबिक, गलत दवा लेने के चलते तबीयत खराब हुई थी।

यह भी पढ़ें: जेपी नड्डा आज दो दिवसीय दौरे पर आएंगे यूपी, यहां जानें पूरा कार्यक्रम

फिर लाइमलाइट में आई सीडी

लेकिन एक बार फिर से यह मामला लाइमलाइ में आ गया। जब कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार हुआ तो उसके बाद बीजेपी के कुछ नेताओं ने इस सीडी के मुद्दे को उठाया। मामले में खुद बीजेपी नेता और विधायक बीपी यतनाल ने ये बात कही कि कई विधायकों ने मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा को इसी सीडी की वजह से ब्लैकमेल किया था। इनमें से को राजनीतिक सचिव और दो को मंत्री बना दिया गया है। उन्होंने कहा कि ये लोग मुख्यमंत्री को बीते तीन महीने से ब्लैकमेल कर रहे हैं।

वहीं मामले में कर्नाटक में कांग्रेस के चीफ डीके शिवकुमार ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को अब ब्लैकमेल जनता पार्टी कहना चाहिए। उसके विधायक भी अब उसे ऐसा ही कह रहे हैं। मुख्यमंत्री को इस बात की जिम्मेदारी लेनी चाहिए कि उनके मंत्रिमंडल विस्तार में ब्लैकमेलिंग और रिश्वत के खेल का जमकर इस्तेमाल हुआ है। मामले में निष्पक्ष जांच कराई जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें: कर्नाटक सरकार पर संकट के बादल, CM येदियुरप्पा के खिलाफ उठी आवाजें

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story