Top

विधानसभा चुनाव 2022: अब साथ आएगा नेताजी का कुनबा, साथ दिखेंगे चाचा-भतीजे

जब कभी भी देश पर संकट आया है पूरा देश एकजुट होकर खड़ा हो गया है। पूरे देश की जनता और हर वर्ग के लोग खड़े हो गए है। इस नजरिए से देखना चाहिए यदि अलगाव पैदा करेंगे तो ये अच्छी बात नहीं है।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 19 Aug 2019 8:04 AM GMT

विधानसभा चुनाव 2022: अब साथ आएगा नेताजी का कुनबा, साथ दिखेंगे चाचा-भतीजे
X
विधानसभा चुनाव 2022: अब साथ आएगा नेताजी का कुनबा, साथ दिखेंगे चाचा-भतीजे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: साल 2022 के विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से चाचा भतीजे की जोड़ी देखने को मिलेगी। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव इस जोड़ी को मंच पर एक साथ देखना चाहते है। सिर्फ अंतर ये होगा कि चाचा भतीजे गठबंधन की गांठ से बंधे होंगे।

यह भी पढ़ें: बेहद दुखद खबर : नहीं रहे पूर्व मुख्यमंत्री, शोक में डूबा पूरा देश

शिवपाल सिंह यादव को राजनीति का माहिर खिलाड़ी माना जाता है। सपा की साईकिल की चाभी अभी शिवपाल सिंह यादव के हाथों में है। इस बात को मुलायम सिंह यादव भलिभांति जानते है। प्रसपा के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में हमारा गठबंधन होगा, लेकिन किससे होगा ये समय आने पर बताएंगे।

खराब दौर से गुजर रही सपा

2017 विधानसभा चुनाव और 2019 लोकसभा चुनाव में सपा का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। सपा इन दिनों सबसे खराब दौर से गुजर रही है। पार्टी की बागडोर जब से अखिलेश यादव के हाथों में आई है, कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा है। इसे लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का दर्द अकसर छलक जाता है। वो चाहते है कि चाचा-भतीजे एक हो जाए।

यह भी पढ़ें: इमरान खान की हालत खराब, अब मांग रहे दुनियाभर में मदद

बीते कुछ माह से ये अटकलें लगाई जा रही थी कि प्रसपा का सपा में विलय हो जाएगा। लेकिन शिवपाल यादव ने इन अटकलो पर विराम लगाया था। मगर यादव परिवार ने इसके बीच का रास्ता निकाल लिया है। 2022 का विधानसभा चुनाव सपा और प्रसपा मिलकर लड़ेंगे। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव के बाद चाचा भतीजे खुलकर एक दूसरे पर कोई टिप्पणी नहीं कर रहे है।

कानपुर गए थे शिवपाल सिंह यादव

बीते रविवार शाम को शिवपाल सिंह यादव कानपुर पहुंचे। शिवपाल सिंह यादव फैंस एसोसिऐशन के प्रदेश अध्यक्ष आशीष चौबे ने 51 किलो का माला पहनाकर स्वागत किया। उन्होने पाटी के पदाधिकरियो के साथ बैठक कर पार्टी के कार्यो की समीक्षा की। इसके साथ ही 2002 के विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटने की नसीहत दी।

यह भी पढ़ें: स्वतंत्र देव सिंह का इस्तीफा, बीेजेपी अध्यक्ष ने छोड़ा योगी मंत्रिमण्डल

शिवपाल सिंह यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि विधानसभा उपचुनाव से मुझे कोई मतलब नहीं है। हमारी पार्टी 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रही है। हम लोग 2022 का चुनाव पूरी ताकत के साथ के लड़ेंगे। प्रसपा गठबंधन करेगी लेकिन ये समय आने पर बताएंगे। उन्होने संकेत दे दिया कि हम किसके साथ गठबंधन कर सकते है।

यह भी पढ़ें: बड़ी खुशखबरी! पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर आई गिरावट, यहाँ देखें दाम

उन्होने कहा कि अनुच्छेद 370 हटाय जाने पर प्रसपा मुखिया शिवपाल सिंह यादव बोले ने प्रधानमंत्री का समर्थन किया है। उन्होने कहा कि हम देश के साथ है। जब कभी भी देश पर संकट आया है पूरा देश एकजुट होकर खड़ा हो गया है। पूरे देश की जनता और हर वर्ग के लोग खड़े हो गए है। इस नजरिए से देखना चाहिए यदि अलगाव पैदा करेंगे तो ये अच्छी बात नहीं है।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story