विधानसभा चुनाव: मायावती ने किया बड़ा सांगठनिक फेरबदल

पिछले दो दिनों से दिल्लीमें चल रही बैठक के दौरान बसपा सुप्रीमों मायावती ने कई बदलाव किए। जिसमें नई व्यवस्था के तहत अब दूसरे प्रदेशों में प्रभारी के रूप में काम देख रहे कई वरिष्ठ नेताओं को फिर से प्रदेश के मंडलों की सांगठनिक जिम्मेदारी दी गयी है।

लखनऊ। आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अन्य राजनीतिक दलों की तुलना में बसपा नेत्री मायावती ने हर बार की तरफ एक बार फिर चुनाव की तैयारियां तेज कर दी है। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मायावती ने बड़ा सांगठनिक फेरबदल कई मंडलों पर तैनात सेक्टर प्रभारियों के पदों को खत्म कर दिया है। अब उन्होंने मंडल स्तर पर मुख्य सेक्टर प्रभारियों की तैनाती की है। इसके अलावा जिले स्तर पर भी सेक्टर प्रभारी बनाए गए हैं।

मायावती ने कई बदलाव किए

पिछले दो दिनों से दिल्लीमें चल रही बैठक के दौरान बसपा सुप्रीमों मायावती ने कई बदलाव किए। जिसमें नई व्यवस्था के तहत अब दूसरे प्रदेशों में प्रभारी के रूप में काम देख रहे कई वरिष्ठ नेताओं को फिर से प्रदेश के मंडलों की सांगठनिक जिम्मेदारी दी गयी है।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि बसपा विधानमंडल दल के नेता लाल जी वर्मा को लखनऊ मंडल व बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर को प्रयागराज मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी की जिम्मेदारी मिली है। इसी तरह राजधानी में चार मुख्य सेक्टर प्रभारी, दो टीम लखनऊ मंडल के लिए बसपा विधानमंडल के नेता लालजी वर्मा, एमएलसी भीमराव अंबेडकर, शमशुद्दीन राइन व राजकुमार गौतम को मुख्य सेक्टर प्रभारी बनाया गया है। ये सभी मुख्य सेक्टर प्रभारी मंडल के सभी जिलों की सांगठनिक गतिविधियों की प्रगति के लिए जिम्मेदार होंगे। इनकी सहायता के लिए लखनऊ मंडल में तीन-तीन जिलों पर अलग-अलग दो टीम होगी।

नहीं रहे होंगे ऐसे होटल मेंः सोने की बनी है हर चीज, बर्तनों तक पर चढ़ी है परत

ये मंडल शामिल

इसी तरह लखनऊ, उन्नाव व रायबरेली मंडल शामिल हैं। इन तीन जिलों में महेंद्र सिंह जाटव, विनय कश्यप और सलाहुद्दीन सिद्दीकी सेक्टर प्रभारी के रूप में कार्य देखेंगे। इसी तरह सीतापुर, हरदोई व खीरी के लिए दूसरी टीम होगी।

इस टीम में डॉ. विनोद भारती, रणधीर बहादुर व अखिलेश अंबेडकर बतौर सेक्टर प्रभारी शामिल हैं। इनके अलावा लखनऊ जिले के लिए चार अलग सेक्टर प्रभारी होंगे। गंगा राम गौतम, इंतिजार आब्दी उर्फ बाबी, रामनाथ रावत व मनीष कुमार यादव जिले की सांगठनिक गतिविधियों को आगे बढ़वाएंगे।

इस मुस्लिम देश ने बनाया ऐसा कानून, 8 लाख भारतीयों को आने पड़ेगा वापस

ये लोग शामिल

बसपा सुप्रीमो मायावती ने अलग-अलग मंडलों में इन नेताओं को सेक्टर प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी है। इनमें कानपुर- आरएस कुशवाहा, हेमंत प्रताप सिंह, बौद्ध प्रिय गौतम। प्रयागराज- राम अचल राजभर, डॉ. राम कुमार कुरील, डॉ. अशोक गौतम व टिकेस गौतम। मिर्जापुर-राम कुमार कुरील व अशोक गौतम। वाराणसी-नौशाद अली, मदन राम व रामचंद्र गौतम। आजमगढ़- नौशाद अली, मदन राम, हरिश्चंद्र गौतम। गोरखपुर- घनश्याम चंद्र खरवार पूर्व सांसद व सुधीर कुमार। बस्ती- घनश्याम चंद्र खरवार। फैजाबाद- घनश्याम चंद्र खरवार व दिनेश चंद्रा शामिल हैं।

जबकि देवीपाटन-बलिराम पूर्व सांसद, इंदलराम। मेरठ- शमशुद्दीन राईनी। सहाररनपुर- शमशुद्दीन राइनी। अलीगढ़- मुनकाद अली, प्रदेश अध्यक्ष, रणवीर सिंह कश्यप। आगरा- मुनकाद अली व सुमित जैन। बरेली- गिरीश चंद्र जाटव, सांसद व शमशुद्दीन राईनी। मुरादाबाद-गिरीश चंद्र जाटव व शमशुद्दीन राईनी। झांसी- लालराम अहिरवार, बृजेश जाटव, भूपेंद्र आर्या व रविकांत मौर्य। चित्रकूट- लालराम अहिरवार, मधुसूदन कुशवाहा व जितेंद्र शंखवार को शामिल किया गया है।

रिपोर्ट- श्रीधर अग्निहोत्री, लखनऊ

रोहित का बेस्ट दिन: आज बनाया था इतिहास, आज तक कोई ना तोड़ पाया

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।