संसद में गूंजा हैदराबाद एनकाउंटर और महिला अपराध का मुद्दा, जानिए कौन, क्या बोला

संसद में शुक्रवार को हैदराबाद एनकाउंटर और महिलाओं पर बढ़ते अपराध का मुद्दा संसद में भी उठा। लोकसभा के शून्य काल में कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने महिलाओं के खिलाफ अपराध का मामला उठाया।

नई दिल्ली: संसद में शुक्रवार को हैदराबाद एनकाउंटर और महिलाओं पर बढ़ते अपराध का मुद्दा संसद में भी उठा। लोकसभा के शून्य काल में कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने महिलाओं के खिलाफ अपराध का मामला उठाया। अधीर रंजन ने हैदराबाद गैंगरेप और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने का मुद्दा उठाते हुए कहा कि एक ओर राम मंदिर बनाया जा रहा है और दूसरी ओर सीता मां को जलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि उन्नाव की पीड़िता 95 फीसदी जल गई है। देश में क्या हो रहा है। कांग्रेस सांसद ने कहा कि हैदराबाद में आरोपी जो भागने की कोशिश कर रहे थे उन्हें गोली से उड़ा दिया गया, वहीं यूपी में अपराधियों को खुली छूट दी गई। उन्नाव घटना को लेकर कांग्रेस सांसदों ने लोकसभा से वॉकआउट कर दिया।

यह भी पढ़ें..हैदराबाद गैंगरेप: सभी आरोपी एनकाउंटर में ढेर, पीड़िता के पिता समेत जानें किसने क्या कहा

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अधीर रंजन के बयान पर हमला किया। उन्होंने कहा कि महिला सम्मान के विषयों को सांप्रदायिक विषय से जोड़ना गलत है। ऐसा दुस्साहस मैंने पहले नहीं देखा। स्मृति ईरानी ने कहा कि बंगाल में पंचायत चुनाव में रेप को सियासी हथियार के रूप में इस्तेमाल किया गया। आज बंगाल के एक सांसद यहां पर मंदिर का नाम ले रहे थे। जिन लोगों ने रेप को राजनीतिक हथियार के रूप में इस्तेमाल किया वो आज भाषण दे रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक सांसद (अधीर रंजन) ने तेलंगाना और उन्नाव की घटना का नाम लिया, लेकिन मालदा भूल गए। कांग्रेस सांसदों के हंगामे के बीच स्मृति ईरानी ने कहा कि उन्नाव और तेलंगाना में जो हुआ वो शर्मनाक है और दोषियों को फांसी मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसपर राजनीति नहीं होनी चाहिए। इससे विक्टिम को कोई मदद नहीं मिलती है।

यह भी पढ़ें…उन्नाव केस: 24 घंटे में क्या-क्या हुआ? किसने दी पीड़िता के परिवार को धमकी? यहां जानें

बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि हैदराबाद में जो हुआ वो सही हुआ और हैदराबाद में कानूनी प्रक्रिया का पालन हुआ है। अगर कोई हथकड़ी पहनकर भगेगा तो पुलिस अपने हथियारों का इस्तेमाल करेगी। उन्होंने कहा कि कुछ लोग अवसरवाद की राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 99 फीसदी लोगों को चरित्रहनन करना गलत और देश में पुरुषों की मानसिकता बदलने काकाम होना चाहिए।

शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने कहा कि ऐसे अपराधों के लिए(महिलाओं के खिलाफ अपराध) एक कानून के गठन की जरूरत है। ऐसे मामलों की सुप्रीम कोर्ट में सीधी सुनवाई होनी चाहिए। फिलहाल निचली अदालतों से कार्यवाही शुरू होती है और उसकी प्रक्रिया आगे बढ़ती रहती है। मैं आपसे(स्पीकर) अपील करता हूं कि इस पर चर्चा के लिए एक कमिटी बने।

यह भी पढ़ें…दिल्ली गैंगरेप: फांसी से बच सकते हैं निर्भया के दोषी, ये है बड़ी वजह

बसपा सांसद दानिश अली ने कहा कि बलात्कार की घटनाएं देशभर में हो रही हैं। मैंने पहले भी इस मसले को उठाया था. उन्नाव की घटना को उन्होंने सरकार और पुलिस की नाकामी करार दिया।

इससे पहले हैदराबाद गैंगरेप कांड के चारों आरोपियों का शुक्रवार सुबह एनकाउंटर कर दिया गया। इन चारों पर महिला वेटरनरी डॉक्टर के साथ रेप और उसे मारकर जला देने का आरोप था। पुलिस ने दावा किया है कि ये सभी आरोपी भागने की कोशिश कर रहे थे और इस दौरान पुलिस की ओर से हुई फायरिंग में सभी आरोपी मारे गए हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि यह एनकाउंटर शुक्रवार तड़के 3 बजे से 6 बजे के बीच हुआ है।