Top

नेताओं के प्रेम संबंध: महिलाओं के चक्कर में ये दिग्गज नेता, लगा दी साख पर दांव

हालांकि हम उन नेताओं की बात नहीं कर रहे हैं जो बचपन से सदाचारिक और अच्छे व कर्तव्यनिष्ठ हैं। हमारा ये लेख किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं है और न ही किसी के भावनाओं को आहत पहुंचाना है।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 3 Oct 2019 1:05 PM GMT

नेताओं के प्रेम संबंध: महिलाओं के चक्कर में ये दिग्गज नेता, लगा दी साख पर दांव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भारतीय राजनीति में राजनेताओं के काले कारनामों का आये दिन खुलासा होता रहता है। वो ​कभी चिन्मयानंद तो कभी कुलदीप सेंगर और गायत्री प्रजापति के रूप में सामने आते रहते हैं। लेकिन शायद आपको न पता हो कि इस सूची में लंबी फेहरिस्त है। आज आपको उन्हीं काले कारनामों वाले लोगों के काले चिट्ठे के बारे में बताने जा रहे हैं

वैसे तो नेता सबके सामने महिलाओं को सम्मान देने और महिला सशक्तिकरण की लंबी-लंबी बातें करते रहते हैं। लेकिन मंच के पीछे यानी नेपथ्य में महिलाओं में वो जबरदस्त दिलचस्पी दिखाते हैं जो किसी से छुपा नहीं है।

ये भी पढ़ें... ‘चूहा’ बना कैदी! सर्जिकल-ब्लेड से मचाया जेल में धमाल

हालांकि हम उन नेताओं की बात नहीं कर रहे हैं जो बचपन से सदाचारिक और अच्छे व कर्तव्यनिष्ठ हैं। हमारा ये लेख किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं है और न ही किसी के भावनाओं को आहत पहुंचाना है।

आम जनमानस भी ऐसे संबंधों पर ज्यादा खुलकर चर्चा नहीं करते

नेताओं की इस प्रवृत्ति को भारतीय राजनीति के एक और मिजाज से बढ़ावा मिलता रहा है और वो मिजाज ये है कि यहां नेता, दूसरे नेता के गुप्त संबंधों पर ज्यादा हो-हल्ला नहीं मचाते। इसके बदले में वे आशा रखते हैं कि दूसरे नेता भी उनके संबंधों पर चिल्ल-पों नहीं करेंगे।

ये भी पढ़ें... 9 कंपनियों को झटका: लाखों कर्मचारियों पर खतरा, बढ़ेगी निवेशकों की समस्या

आपको जानकर हैरानी होगी कि नेता ही नहीं, आम जनमानस भी ऐसे संबंधों पर ज्यादा खुलकर चर्चा नहीं करते हैं। वैसे भी भारत में राजनीति और प्रेम या सेक्स को अलग-अलग करके ही देखा जाता रहा है। ऐसे संबंधों की चर्चा बस ड्राइंग रूम तक ही सीमित रह जाती है। यही समस्या है कि यहां आये दिन एक से बढ़कर एक काले खेल सामने आते हैं। और जनता जब भी उन्हीं नेता को स्वीकारती है जिनका नाम ऐसे मामलों में शामिल रहता है।

यहां अनैतिक संबंधों से नेताओं के ​करियर पर नहीं पड़ता कोई असर

बात करें विदेशी राजनीति की तो वहां इस तरह के गुप्त या विवाहेत्तर संबंधों पर कई नेताओं की राजनीति तक खत्म हो चुकी है, जबकि वहां सेक्स को बहुत गंभीरता से नहीं लिया जाता है।

हमारे देश में सेक्स के मामले में रुढ़िवादी रहे नेताओं के गुप्त या विवाहेत्तर संबंधों से उनके राजनीतिक कॅरियर पर कोई खास असर नहीं पड़ता दिखाई देता है। भारत की राजनीति, नेताओं के ऐसे संबंधों के किस्सों से भरी पड़ी है। यहां आपको उन्हीं में से कुछ उदाहरण बताने जा रहे हैं।

जवाहर लाल नेहरू

जवाहरलाल नेहरू और लार्ड माउंटबेटन की पत्नी एडविना माउंटबेटन के संबंध तो जगजाहिर हैं लेकिन इन पर अपने देश में तो दबी-ढंकी ही चर्चा होती है, पर विदेशों में इस पर काफी कुछ लिखा पढ़ा गया है। दिलचस्प बात यह है कि माउंटबेटन की जीवनी तक में नेहरू-एडविना के संबंधों की चर्चा हुई है।

अटल बिहारी वाजपेयी

वैसे तो सभी जानते हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी जीवनभर अविवाहित रहे। और महिलाओं के बारे में उनकी छवि तो बेहद साफ-सुथरी रही। मगर दबी जुबान से उनके कई प्रेम प्रसंगों की चर्चा आ जाती है। इनमें सबसे आगे जो नाम सामने आता है वो है उनकी सबसे अच्छी दोस्त उनके कॉलेज के दिनों की मित्र और बहुत ही खूबसूरत कश्मीरी महिला राज कुमारी कौल से। गहरी मित्रता के बाजवूज वाजपेयी और कौल की शादी नहीं हुई, मगर कौल की शादी के बाद वाजपेयी कौल के पति के घर जरूर रहे।

कहा जाता है कि बाद में जब वाजपेयी प्रधानमंत्री बन गए थे तो लोगों ने राजकुमारी कौल को भी प्रधानमंत्री निवास में देखा जाता था। वहां सब उन्हें माताजी कहते थे। वाजपेयी के भोजन आदि की जिम्मेदारी कौल की ही थी। फिलहाल कौल और वाजपेई आज इस दुनिया में नहीं हैं।

फिरोज गांधी

इंदिरा गांधी के पति फिरोज गांधी के बारे में कई बाते सामने आती हैं। कहा जाता है कि उनकी कई महिलाओं के साथ मित्रता थी। इनमें से हम्मी नाम की एक महिला का जिक्र खासतौर से कुछ किताबों और कुछ जाने-माने पत्रकारों के आलेखों में हुआ है। इस महिला के पिता उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री भी थे। बाद में इंदिरा गांधी इन संबंधों

के बारे में जान गई थीं और उनके अपने पति से संबंध बिगड़ गए थे।

मुलायम सिंह यादव

कभी पहलवान रहे मुलायम सिंह को तो सभी जानते हैं कि उनकी दो पत्नी हैं और दोनों की संतानें भी हैं। वास्तव में पहली पत्नी मालती देवी के जीवित रहते ही मुलायम सिंह दूसरी स्त्री साधना गुप्ता से एक पुत्र के पिता भी बन गए थे। साधना गुप्ता से मुलायम सिंह एक पुत्र (प्रतीक यादव) के पिता 1988 में ही बन गए थे, मगर दुनिया को इसका पता फरवरी 2007 में लगा जब मुलायम सिंह ने कोर्ट में इस बात को स्वीकार किया। बता दें कि अखिलेश यादव की मां मालती देवी अब इस दुनिया में नहीं हैं।

नारायण दत्त तिवारी

नारायण दत्त तिवारी का नाम तो किसी से छुपा नहीं हैं। उनकी 1954 में सुशीला तिवारी से शादी हुई थी, इसके बावजूद जीवनभर तिवारी के दूसरी महिलाओं के साथ संबंधों की खबरें आती रहीं। एक युवक रोहित शेखर ने तो तिवारी को अपना पिता बताते हुए उनके खिलाफ अदालत में दावा ही ठोक दिया।

आखिर तिवारी को स्वीकार करना पड़ा कि उज्जवला शर्मा की कोख से जन्मे रोहित शेखर उनके बेटे हैं। 2009 में तिवारी के उस वीडियो ने भी उस समय सनसनी फैला दी थी जिसमें वे राजभवन के अपने निवास में बिस्तर पर तीन महिलाओं के साथ दिखाई दिए थे।

राम विलास पासवान

लोक जनशक्ति पार्टी के मुखिया रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी आज भी बिहार के एक छोटे से गांव शहरबन्नी में अकेली रहती हैं, जबकि उनकी दूसरी पत्नी रीना पासवान पति के साथ शहर में रहती हैं। चिराग पासवान रामविलास की दूसरी पत्नी के ही पुत्र हैं।

संजय गांधी

बॉलीवुड की फिल्म अभिनेत्री अमृता सिंह की मां रुखसाना सुल्ताना के साथ संजय गांधी का काफी उठना-बैठना था। कांग्रेस के लोगों ने रुखसाना सुल्तान को संजय गांधी पर हक जताते देखा था। हालांकि यह हक किसी रिश्ते में तब्दील नहीं हो पाया। सिर्फ रुखसाना ही नहीं, कई और लड़कियों से भी संजय गांधी का मेल था। ऐसे में जब संजय और मेनका गांधी की शादी हुई तो एकाएक लोगों को इस पर सहज विश्वास ही नहीं हुआ था।

दिग्विजय सिंह

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का संबंध टीवी पत्रकार अमृता राय से था, ये तो किसी से छुपा नहीं है। यहां तक कि सोशल मीडिया में दोनों के फोटो वायरल हो गए थे। अमृता से पहले भी कई महिलाओं के साथ दिग्विजय सिंह के संबंधों की चर्चा रही है। बता दें कि उनकी पत्नी आशा सिंह की 2103 में कैंसर की बीमारी से मौत हो गई थी।

संजय सिंह

जाने-माने बैडमिंटन खिलाड़ी सैयद मोदी की पत्नी अमिता सिंह से कांग्रेस के नेता संजय सिंह प्रेम संबंध था। सैयद मोदी की हत्या के आरोप में वह जेल भी गए थे। उन्होंने पहली पत्नी गरिमा सिंह को उन्होंने तलाक दे दिया, जिसमें उन पर धोखाधड़ी का आरोप भी लगा। इन सबके बावजूद संजय सिंह की राजनीति अप्रभावित रही और वे सांसद भी चुने गए।

इन लोगों का भी नाम है

महात्मा गांधी का नाम वैसे तो पत्नी के सिवाय और किसी महिला से नहीं जुड़ा मगर जब गांधी जी के एक समर्थक ने उनके ब्रह्मचर्य के प्रयोगों पर किताब लिखी तो लोगों को पता चला कि गांधी जी ब्रह्मचर्य के अपने प्रयोग के दौरान अपने दोनों तरफ युवा लड़कियों को सुलाते थे।

एमओ मथाई की नेहरू पर लिखी किताब में इंदिरा गांधी और राजा दिनेश सिंह को लेकर भी लोगों को चकित कर देने वाली बातें कही गई हैं। कुछ विदेशी पत्रकारों ने भी दिनेश सिंह और इंदिरा गांधी को लेकर कुछ अलग तरह की टिप्पणियां की हैं।

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के भी कई महिलाओें से संबंध रहे। उन्होंने दो शादियां कीं, मगर उनकी राजनीति पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ा।

अब इतनी बातें हो गई तो बता दें कि बहुत से लोगों ने कांशीराम और मायावती की निकटता को भी इसी चश्मे से देखा मगर स्वयं मायावती और बसपाइयों ने इसका तीव्र विरोध किया, जिससे बाद ये चर्चाएं बंद हो गई।

कांग्रेस नेता शशि थरूर और गायत्री प्रजापति, इंदरजीत गुप्त, आरके धवन, हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस परमार समेत इस लिस्ट में अभी सैकड़ों नाम हैं जिन्हें हम आपको बतायेंगे तो बहुत लंबी सूची हो जायेगी।

ये भी पढ़ें... RBI ने दी खुशखबरी: मिलेंगे फायदे ही फायदे, कल होगा ऐलान

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story