Top

हो गया चुनाव का ऐलान, इन तारीखों पर पड़ेंगे वोट

2014 के महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव में बीजेपी ने जीत हासिल की थी। पहले से लोकसभा चुनाव में हार का दर्द झेल रही कांग्रेस को इन दोनों राज्यों में करारा झटका लगा और सत्ता गंवानी पड़ी।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 21 Sep 2019 6:35 AM GMT

हो गया चुनाव का ऐलान, इन तारीखों पर पड़ेंगे वोट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने महाराष्‍ट्र और हरियाणा में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। आयोग आज विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर कर दिया है। महाराष्ट्र-हरियाणा में 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे, जबकि, 24 अक्टूबर को नतीजे सामने आएंगे।

यह भी पढ़ें: चौकियों पर गोलीबारी: पाकिस्तान ने फिर शुरू की नापाक हरकत

2014 में चुनाव आयोग ने 12 सितंबर को विधानसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा की थी। इन दोनों राज्यों में साल 2014 में मतदान 15 अक्टूबर को हुआ था और 19 अक्टूबर को नतीजों की घोषणा हुई थी। जानकारी के अनुसार, चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के दौरान खर्चे पर नजर रखने के लिए आयकर विभाग के 110 अधिकारियों को व्यय पर्यवेक्षक नियुक्त किया है।

सुरक्षित है ईवीएम

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि ईवीएम पूरी तरह से सेफ हैं, ईवीएम और वीवीपैट मशीनों को इन्हें डबल लॉक में रखा जाएगा। कोई भी उम्मीदवार और उनके साथी एक निश्चित सुरक्षित दूरी से स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा पर निगाह रख सकते हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा का बयान

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हरियाणा-महाराष्ट्र में 2 नवंबर, 9 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। ऐसे में इससे पहले इन राज्यों में चुनाव की प्रक्रिया पूरी होंगी। महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ मतदाता हैं, जबकि हरियाणा में 1.28 करोड़ मतदाता हैं। हरियाणा में 1.03 लाख बैलेट यूनिट हैं, जबकि महाराष्ट्र में 1.8 लाख बैलेट यूनिट, 1।28 लाख CU और 1.39 लाख वीवीपैट मशीनें हैं।

प्रत्याशी पाएंगे 28 लाख रुपये खर्च

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि प्रत्याशी के लिए चुनाव में खर्च की अधिकतम लिमिट 28 लाख रुपये रहेगी, ये नियम दोनों ही राज्यों में लागू होगा। चुनाव आयोग की ओर से खर्च पर भी नज़र रखी जाएगी।

यह भी पढ़ें: कॉन्डम ने फंसाया! देना पड़ा भारी चालान, आप भी रहें सतर्क

तारीखों का ऐलान करने से पहले चुनाव आयोग ने सुरक्षा का जायजा लिया और तैयारियों को परख कर ही अब चुनाव कराया जा रहा है। चुनाव आयोग की ओर से राजनीतिक दलों से अपील की गई है कि वह अपने प्रचार में प्लास्टिक का कम से कम इस्तेमाल करें और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए अपने प्रचार को आगे बढ़ाएं।

LIVE: हो गया चुनाव का ऐलान, इन तारीखों पर पड़ेंगे वोट

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान ने बिना किसी यात्री के उड़ा दिए 82 विमान, आगे जो हुआ वो हैरान कर देगा

पर्यवेक्षक दोनों राज्यों में चुनाव प्रक्रिया के दौरान कालाधन के इस्तेमाल और अन्य गैरकानूनी लालच के इस्तेमाल की जांच करेंगे। चुनाव आयोग ने 23 सितंबर को इन अधिकारियों को बुलाया है जहां उन्हें इस संबंध में जानकारी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: हजारों किसानों का दिल्ली कूच, लग सकता है भारी जाम, जानिए क्या है 15 मांगे

2014 के महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव में बीजेपी ने जीत हासिल की थी। पहले से लोकसभा चुनाव में हार का दर्द झेल रही कांग्रेस को इन दोनों राज्यों में करारा झटका लगा और सत्ता गंवानी पड़ी। बीजेपी ने 288 सीट वाली महाराष्ट्र विधानसभा में 122 सीटों पर जीत के साथ राज्य में एक बड़ी बढ़त दर्ज की। बीजेपी ने शिवसेना के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई है।

यहां देखें लाइव वीडियो

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story