Top

प्रियंका ने ट्रंप के खर्चे पर उठाए सवाल, तो बीजेपी ने दिया ये जवाब

दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भारत आ रहे हैं। ट्रंप के स्वागत में भारत ने अहमदाबाद में 100 करोड़ रुपये खर्च कर दिए हैं

Aradhya Tripathi

Aradhya TripathiBy Aradhya Tripathi

Published on 22 Feb 2020 12:43 PM GMT

प्रियंका ने ट्रंप के खर्चे पर उठाए सवाल, तो बीजेपी ने दिया ये जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भारत आ रहे हैं। भारत ने उनके स्वागत के लिए काफी भव्य इंतज़ाम किए हैं। ट्रंप के स्वागत में भारत ने अहमदाबाद में 100 करोड़ रुपये खर्च कर दिए हैं। अब कांग्रेस ने भारत सरकार द्वारा करोड़ों खर्च करने पर सवाल उठाया है। कांग्रेस ने उस समिति पर सवाल उठाए हैं जिसके जरिए इतना पैसा खर्च किया जा रहा है। कांग्रेस के सवाल पर पलटवार करते हुए बीजेपी ने पूँछा कांग्रेस खुश क्यों नहीं है?

ट्रंप पर शुरू राजनीति

अभी अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भारत आ भी नहीं पाए और भारत में उनके नाम पर राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस ने ट्रंप के स्वागत में अहमदाबाद में एक समिति के जरिए 100 करोड़ रुपये के खर्च पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उठाया है सवाल। कांग्रेस के सवाल पर पलटवार करते हुए बीजेपी ने पूछा कि भारत का कद बढ़ने से तो कांग्रेस खुश क्यों नहीं है? बीजेपी ने कहा कि भारत आज जिस तरह के सौदे अमेरिका से कर रहा है वैसा यूपीए सरकार सोच भी नहीं सकती थी। उधर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने झुग्गियों के सामने दीवार बनाए जाने को लेकर कटाक्ष किया।

देश को है सच जानने का हक

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग से बड़ी खबर: प्रदर्शनकारियों ने किया ये ऐलान, 70 दिन से बंद रास्ता खुला

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर पूछा कि राष्ट्रपति ट्रंप के आगमन पर 100 करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं। लेकिन ये पैसा एक समिति के जरिए खर्च हो रहा है। समिति के सदस्यों को पता ही नहीं कि वो उसके सदस्य हैं। क्या देश को ये जानने का हक नहीं कि किस मंत्रालय ने समिति को कितना पैसा दिया? समिति की आड़ में सरकार क्या छिपा रही है?

प्रियंका ने कहा कि सरकार को इस देश को सच बताना ही पड़ेगा।

बीजेपी ने पूंछा क्यों नहीं खुश है कांग्रेस

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के भारत आने पर हुए खर्च को लेकर कांग्रेस के सवालों पर सवाल करते हुए बीजेपी ने पूछा कि ट्रंप का दौरा विश्व के सबसे बड़े और पुराने लोकतंत्रों की मुलाकात है। ऐसे में कांग्रेस खुशी क्यों नहीं महसूस करती? बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, 'वैश्विक स्तर पर भारत का कद बढ़ने से कांग्रेस नाखुश क्यों है? पात्रा ने ट्रंप के अमेरिका आने को मील का पत्तर बताते हुए कहा कि भारत और अमेरिका के संबंधों में यह मील का पत्थर माने जाने वाला क्षण है और मेरी कांग्रेस को सलाह है कि वह चिंतित होने की बजाए देश की उपलब्धियों पर गर्व करना शुरू करे।

पात्रा ने कहा कि जैसा कारोबारी सौदा और रक्षा सौदा आज हम अमेरिका के साथ देख रहे हैं, उन्हें यूपीए के समय हम सोच भी नहीं सकते थे।

ये भी पढ़ें- अभी-अभी आई बड़ी खबर: ट्रंप के साथ योगी भी जाएंगे ताजमहल देखने

कांग्रेस को भारत की चिंता करने की जरूरत नहीं

बीजेपी प्रवक्ता पात्रा ने कहा कि हमारे लिए गर्व की बात है कि आज हिंदुस्तान वाइट हाउस के किसी भी निर्णय में फ्रंट या सेंटर में रहता है। पात्रा ने कांग्रेस से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या 10 जनपथ मनमोहन सिंह को वह रुतबा कायम करने देता जो आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अंतरराष्ट्रीय नेताओं के बीच में है? बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति खुद कई बार कह चुके हैं कि भारत कड़ी सौदेबाजी करता है और इसलिए कांग्रेस पार्टी को भारत के हितों की चिंता करने की जरूरत नहीं है।

कांग्रेस ने ट्रंप के दौरे को बताया तस्वीरें खिंचाने तक सीमित

'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार ये दावा कर रही है कि जो इंतजाम हो रहा है वह एक ‘नागरिक अभिनंदन समिति’ की तरफ से हो रहा है। लेकिन यह समिति कौन है? यह कब बनी? इसका पंजीकरण कब हुआ और इसके पास इतना पैसा कहां से आया? इन सारे सवालों के जवाब सरकार दे। कांग्रेस नेता ने कहा था कि आर्थिक क्षेत्र में सहयोग और व्यापार का वातावरण अनुकूल नहीं है। हम समझते हैं कि यह रिश्ता सिर्फ खरीददारी का नहीं हो सकता। राष्ट्र की संप्रभता, आत्म सम्मान और राष्ट्रहित को ध्यान में रखा जाए। गंभीरता और गहराई होनी चाहिए। यह दौरा सिर्फ तस्वीरें खिंचवाने तक सीमित नहीं होना चाहिए।

ये भी पढ़ें- ट्रंप का खर्चीला भारत दौरा: प्रियंका ने मोदी सरकार से पूछा- कहां से आए सौ करोड़

थरूर का शायराना अंदाज

ट्रंप के रूट पर झुग्गियों के सामने दीवार बनाए जाने को लेकर शशि थरूर ने शायराना अंदाज में हमला किया। उन्होंने लिखा, इन दिवारों से साफ जाहिर है, वो दिखावे में खूब माहिर है, इस गरीबी से अमीरी का सफर कुछ ही लम्हो में नाप देता है, करता इतना ही है "थरूर" वो बस, सच...दीवारों से ढांप देता है।'

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story