Top

राहुल अटके राफेल पर: उड़ान भर रही मोदी सरकार पर कसा तंज, अब कह दी ये बात

कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर से देश की नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज कसा है। ऐसे में एक रिपोर्ट के आधार पर राहुल गांधी ने अपने ऑफिशियल अकांउट से ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राफेल के लिए भारत के खजाने से पैसा चुराया गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 22 Aug 2020 7:04 AM GMT

राहुल अटके राफेल पर: उड़ान भर रही मोदी सरकार पर कसा तंज, अब कह दी ये बात
X
राहुल अटके राफेल पर: उड़ान भर रही मोदी सरकार पर कसा तंज, अब कह दी ये बात
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर से देश की नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज कसा है। ऐसे में एक रिपोर्ट के आधार पर राहुल गांधी ने अपने ऑफिशियल अकांउट से ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राफेल के लिए भारत के खजाने से पैसा चुराया गया। उसके बाद उन्होंने महात्मा गांधी का एक कथन भी लिखा है... सच एक है, रास्ते कई हैं। इसके साथ ही राहुल गांधी ने जो रिपोर्ट शेयर की है उसमें कहा गया है कि रक्षा मंत्रालय ने राफेल डील से जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी सीएजी को देने से इंकार कर दिया है।

ये भी पढ़ें... चील-कौवों की तरह दरिंदें नोचते रहे महिला का शरीर, 139 लोगों ने किया गैंगरेप

चुनावी मुद्दा बनाकर उठाया

ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने 59 हजार करोड़ रुपये में 36 लड़ाकू विमानों की खरीद के केस में कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग करने वाली जनहित याचिकाओं को दिसंबर 2018 में खारिज कर दिया। इसके साथ ही कहा था कि उसे इसमें कुछ गलत नजर नहीं आया।

rahul gandhi tweet

लेकिन इसके बाद भी राजनीतिक दोषारोपण का दौर चलता रहा। उस समय के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में, राफेल सौदे में रिश्वत के आरोप लगाये थे और इसे चुनावी मुद्दा बनाकर उठाया भी था।

ये भी पढ़ें...बदल गया नियम: व्यापार करने वाले जान लें, वरना हो जाएगी परेशानी

राहुल गांधी के आरोप

देश के पीएम मोदी की अगुवाई में भाजपा ने विपक्षी पार्टियों पर भ्रष्टाचार के बेबुनियाद आरोप लगाकर देशहित से समझौता करने का आरोप लगाया। वही ये भी कहा कि फ्रांसीसी विमान भारतीय वायु सेना की क्षमताओं को कई गुना बढ़ाएंगे।

ऐसे में अधिकतर राजनीतिक जानकारों का मानना है कि राहुल गांधी के आरोप मतदाताओं को अपनी ओर नहीं खींच सके और भाजपा नीत राजग (एनडीए) अधिक बड़े जनादेश के साथ केंद्र में वापस आया।

जानकारी के लिए बता दें, कि राफेल विमानों को आसमान में उनकी बेहतरीन क्षमता और लक्ष्य पर सटीक निशाना साधने के लिए जाना जाता है। लगभग 23 साल पहले रूस से सुखोई विमानों की खरीद के बाद भारत ने पहली बार लड़ाकू विमानों की इतनी बड़ी खेप खरीदी है। जिसपर विपक्ष लगातार निशाना लगा रहा है।

ये भी पढ़ें...आतंकियों के निशाने पर VIP: ISIS का ये बड़ा प्लान, दिल्ली पुलिस ने किया फेल

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story