‘क्योंकि हम हिंदू हैं, इसलिए भारत में सुखी हैं मुस्लिम’: RSS चीफ मोहन भागवत

भागवत ने आगे ये भी कहा कि हिंदू एक संस्कृति है, जो कि भारतियों की सांस्कृतिक विरासत है। इसके साथ मोहन भागवत ने आरएसएस के लक्ष्य के बारे में भी बात की और बताया कि संघ का लक्ष्य सिर्फ हिंदू समुदाय को बदलना नहीं हैं, बल्कि देश में पूरे समाज को संगठित करना है।

Published by Manali Rastogi Published: October 13, 2019 | 11:26 am
Modified: October 13, 2019 | 11:37 am

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने मुस्लिमों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। भागवत ने कहा कि अगर दुनिया के किसी देश में सबसे सुखी मुस्लिम हैं तो वो भारत ही हैं क्योंकि हम हिंदू हैं। उन्होंने ये भी कहा कि यहूदी मारे-मारे फिरते थे, लेकिन भारत एकलौता देश है, जहां उनको पनाह मिली।

यह भी पढ़ें: मोदी की सफाई पर प्रकाश राज की गंदगी, पीएम से पूछा ये सवाल…

भागवत ने आगे कहा कि भारत में ही केवल फारसी की पूजा और मूल धर्म सुरक्षित है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि अगर दुनिया में सबसे सुखी मुस्लिम हैं तो वो भारत में हैं। उन्होंने बताया कि ऐसा इसलिए है क्योंकि हम हिंदू हैं। भागवत ने इस दौरान अंग्रेजों पर भी निशाना साधा और कहा कि हमारी उन्नति उनकी वजह से नहीं हुई है। हम वेदों के आधार पर क्लासलेस सोसायटी की स्थापना कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: भूकंप के तेज झटके! हिल गया शहर, घरों से भागे डरे-सहमे लोग

भागवत ने आगे ये भी कहा कि हिंदू एक संस्कृति है, जो कि भारतियों की सांस्कृतिक विरासत है। इसके साथ मोहन भागवत ने आरएसएस के लक्ष्य के बारे में भी बात की और बताया कि संघ का लक्ष्य सिर्फ हिंदू समुदाय को बदलना नहीं हैं, बल्कि देश में पूरे समाज को संगठित करना है। उन्होंने आगे कहा कि बेहतर भविष्य की ओर हिंदुस्तान को लेकर जाना है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App