Top

पायलट का पंच: सचिन के इस बयान से गहलोत खेमे की उड़ सकती है रातों की नींद

सचिन पायलट के ताजा बयान से राजस्थान का सियासी पारा गरमा गया है। बुधवार को पायलट के दिल्ली से जयपुर पहुंचते ही अशोक गहलोत गुट की सांसे ऊपर नीचे होने लगी।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 20 Aug 2020 5:42 AM GMT

पायलट का पंच: सचिन के इस बयान से गहलोत खेमे की उड़ सकती है रातों की नींद
X
अशोक गहलोत ने कहा कि बीजेपी की तरफ से इससे पहले सरकार गिराने की कोशिश की जा चुकी है। इस बात के गवाह कांग्रेस नेता अजय माकन रहे हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर: राजस्थान कांग्रेस पार्टी में सचिन पायलट की वापसी हो चुकी है। सीएम अशोक गहलोत और कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने बीते दिनों एक दूसरे से मुलाकात की थी और हाथ भी मिलाया था।

दोनों तरफ से गिले-शिकवे दूर करने की बातें भी कही गई थी। सुलह के तमाम दावे किये गये थे लेकिन जिस तरह से दोनों नेताओं की तरफ से अब बयान आ रहे हैं उससे ऐसा लगता है कि दोनों नेताओं ने केवल हाथ मिलाया है। उनके दिल आपस में अभी भी नहीं मिले हैं। मन में कोई टिस अभी भी बनी हुई है।

यह भी पढ़ें…महिला डाॅक्टर की निर्मम हत्या: इस हालत में मिला शव, कांप जाएगी रूह

सचिन पायलट के ताजा बयान से राजस्थान का सियासी पारा गरमा गया है। बुधवार को पायलट के दिल्ली से जयपुर पहुंचते ही अशोक गहलोत गुट की सांसे ऊपर नीचे होने लगी।

पायलट ने कहा कि पार्टी के अंदर किसका कहां इस्तेमाल करना है, यह फैसला शीर्ष नेतृत्व की ओर से गठित तीन सदस्यीय कमेटी करेगी। उन्होंने कहा कि कौन सरकार में रहेगा और कौन संगठन में इस पर अंतिम फैसला भी उन्हें ही करना है।

पायलट ने इसके आगे जो भी बातें कही वो और गहलोत खेमे के लिए और भी ज्यादा परेशान करने वाली थी।

सचिन से जब मीडिया वालों ने ये सवाल पूछा गया कि मंत्रिमंडल और संगठन से हटाए गए उनके समर्थकों का क्या होगा? इस पर उन्होंने जवाब दिया कि इस पर भी फैसला कमेटी करेगी।

कांग्रेस नेता सचिन पायलट की फ़ाइल फोटो कांग्रेस नेता सचिन पायलट की फ़ाइल फोटो

यह भी पढ़ें…RPF महिला दारोगा बनीं डॉक्टर! रेलवे स्टेशन पर कराई डिलवरी, हो रही तारीफ

पायलट ने दिया ये बड़ा संकेत

कमेटी के सामने सभी मुद्दे रखे जाएंगे। पायलट ने संकेत दिया कि राजस्थान के सत्ता-संगठन से जु़ड़े बड़े राजनीतिक फैसले अब कमेटी करेगी। इससे ये साफ़ होता है कि पायलट अब गहलोत की आगे सुनने वाले नहीं हैं। वे अब केवल तीन सदस्यीय कमेटी की ही बातें सुनेंगे।

बता दें कि गत दिनों कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गहलोत-पायलट विवाद सुलझाने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया था। कमेटी में कांग्रेस नेता अहमद पटेल, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और राजस्थान के नवनियुक्त प्रभारी अजय माकन को शामिल किया गया है।

सचिन पायलट, राहुल गांधी और अशोक गहलोत की फ़ाइल फोटो सचिन पायलट, राहुल गांधी और अशोक गहलोत की फ़ाइल फोटो

यह भी पढ़ें…महिला डाॅक्टर की निर्मम हत्या: इस हालत में मिला शव, कांप जाएगी रूह

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story