Top

RPF महिला दारोगा बनीं डॉक्टर! रेलवे स्टेशन पर कराई डिलवरी, हो रही तारीफ

कोरोना वायरस के बीच भी जब इंसानियत को जिंदा रखने वाली खबरें सामने आती हैं तो खुशी होना लाजमी हैं। महामारी के बीच रेल सुरक्षा बल की टीम ने सराहनीय काम किया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 19 Aug 2020 6:16 PM GMT

RPF महिला दारोगा बनीं डॉक्टर! रेलवे स्टेशन पर कराई डिलवरी, हो रही तारीफ
X
RPF महिला दारोगा बनीं डॉक्टर! रेलवे स्टेशन पर कराई डिलवरी, हो रही तारीफ
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झाँसी: कोरोना वायरस के बीच भी जब इंसानियत को जिंदा रखने वाली खबरें सामने आती हैं तो खुशी होना लाजमी हैं। महामारी के बीच रेल सुरक्षा बल की टीम ने सराहनीय काम किया है। झाँसी रेलवे स्टेशन पर उस वक्त नवजात की किलकारियों से गूंज उठा जब एक महिला ने स्टेशन पर ही बच्चे को जन्म दे दिया। महिला को प्रसव पीड़ा होने पर आरपीएफ महिला दारोगा राजकुमारी गुर्जर ने महिला डॉक्टर की भूमिका अदा की। इस दौरान दर्द बढ़ गया और फिर स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर चार पर महिला की डिलेवरी करानी पड़ी। स्टेशन पर मौजूद आरपीएफ की महिला दारोगा ने महिला की डिलवरी कराई। जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं और उन्हें रेलवे अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

ये भी पढ़ें: दो दिन की कमी के बाद UP में फिर बढ़ी नए कोरोना संक्रमितों की संख्या

दौड़ से ग्वालियर जा रही थी महिला

जिस महिला ने स्टेशन पर बच्चे को जन्म दिया है वो मध्य प्रदेश के जिला भिंड के रावतपुरा की रहने वाली है। महिला पूजा अपने पति बादशाह के साथ गोवा एक्सप्रेस के एस-2 की सीट क्रमांक 31 पर सवार होकर दौड़ से ग्वालियर जा रही थी लेकिन इसी दौरान उसे प्रसव पीड़ा हुई। जैसे ही ट्रेन प्लेटफार्म नंबर 4 पर आकर खड़ी हुई तो आरक्षी सुरेन्द्र कुमार ने आरपीएफ को सूचना दी कि महिला को प्रसव हो रहा है। इस सूचना पर आरपीएफ महिला दारोगा राजकुमारी गुर्जर, उपनिरीक्षक रविन्द्र सिंह राजावत, महिला उपनिरीक्षक प्रशिक्षु प्राची मिश्रा, प्रशिक्षु दारोगा मधुवाला और सहायक उपनिरीक्षक बी के पांडेय वहां पहुंचे। वहां देखा कि प्रसूता की स्थिति बहुत खराब है।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/08/VID-20200819-WA0097.mp4"][/video]

ये भी पढ़ें: जेवर एयरपोर्ट के पास होगा नोएडा प्राधिकरण का अपना लैंड बैंक

महिला को प्लेटफार्म नंबर चार पर ही एक स्थान पर लिटाया गया। तब त्वरित कार्रवाई करते हुए महिला उपनिरीक्षक राजकुमारी गुर्जर द्वारा हमराह महिला बल सदस्यों की सहायता से महिला लाज-लज्जा को भलीभांति पालन करते हुए उनकी मित्र डॉ. नीलू कसोटिया से मोबाइल फोन पर वार्तालाप करते हुए सकुशल प्रसूति करवाई व नई ब्लेड से नाल काटकर शिशु को मां से अलग किया गया। बाद में प्रसूता को एम्बुलेंस द्वारा रेलवे अस्पताल भेजा गया। वहां डॉक्टरों द्वारा जज्जा -बच्चा को स्वस्थ बताया गया। महिला ने बेटे को जन्म दिया है।

पिता ने आरपीएफ स्टॉफ को दिया धन्यवाद

महिला के पति बादशाह ने बेटे के जन्म के बाद आरपीएफ व महिला सफाई कर्मचारियों का दिल से शुक्रिया अदा किया। मौके पर स्टेशन का स्टॉफ भी मौजूद रहा।

रिपोर्ट: बी.के. कुशवाहा

ये भी पढ़ें: जानिए कौन हैं मनोज शशिधर, सुशांत केस में CBI जांच को करेंगे लीड

Newstrack

Newstrack

Next Story