सोनू सूद पर बवाल: शिवसेना ने दिया बड़ा बयान, BJP पर लगाया ये आरोप

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद मजदूरों के लिए मसीहा बन कर सामने आए हैं। जिसने भी उनसे मदद मांगी उन्होंने अपने स्तर से सभी को मदद पहुंचायी। वहीं शिवसेना का कहना है कि एक्टर सोनू सूद बीजेपी का प्यादा हैं।

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद मजदूरों के लिए मसीहा बन कर सामने आए हैं। जिसने भी उनसे मदद मांगी उन्होंने अपने स्तर से सभी को मदद पहुंचायी। अपनी इसी कोशिशों से सोनू सभी का दिल जीत रहे हैं और सोशल मीडिया पर खूब तारीफें बटोर रहे हैं। जहां पर एक तरफ सोशल मीडिया यूजर्स उनकी तारीफ करते थक नहीं रहे तो वहीं दूसरी ओर उनकी ये दरियादिली शिवसेना को पसंद नहीं आई है।

सोनू सूद का इस्तेमाल कर रही BJP

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना ने एक्टर सोनू सूद को बीजेपी का प्यादा तक कह डाला है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में पार्टी के नेता संजय राउत ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी सरकार पर हमला साधने के लिए सोनू सूद का इस्तेमाल कर रही है।

यह भी पढ़ें: तेजस्वी और तेजप्रताप के साथ मां राबड़ी ने थाली पीटकर शाह की रैली का जताया विरोध

शिवसेना ने क्या कहा सामना में?

सामना के कॉलम में लिखा है कि, महाराष्ट्र में सामाजिक कार्यों की लंबी परंपरा रही है, इसमें महान सामाजिक कार्यकर्ता महात्मा ज्योतिबा फुले और बाबा आम्टे के नाम शामिल हैं और अब इस सूची में एक और शख्स का नाम शामिल हो गया है, वहा हैं सोनू सूद। उनकी कई वीडियोज और फोटोज सामने आई हैं, जिसमें वो चिलचिलाती धूप में प्रवासी मजदूरों की सहायता कर रहे हैं।

अचानक से सोनू सूद नाम से नया महात्मा तैयार हो गया

संजय राउत ने सामना में लिखा कि लॉकडाउन के दौरान आचानक सोनू सूद नाम से नया महात्मा तैयार हो गया है। इतने झटके और चतुराई के साथ किसी को महात्मा बनाया जा सकता है? संजय राउत ने आगे लिखा, कहा जा रहा है कि सोनू सूद ने अपने पैसे खर्च करके प्रवासी मजदूरों को दूसरे राज्यों में उनके घर पहुंचाया है। यानी केंद्र और राज्य सरकार ने कुछ भी नहीं किया। इस कार्य के लिए महाराष्ट्र के राज्यपाल ने भी उनको शाबाशी दी है।

यह भी पढ़ें: शराब प्रेमियों खुशखबरी: सरकार वापस ले रही कोरोना टैक्स, मिलेगी राहत

राउन ने सोनू को बताया बीजेपी का मुखौटा

संजय राउत ने सोनू सूद को बीजेपी का मुखौटा बताने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के कुछ राजनीतिक दल सोनू सूद का उपयोग कर महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधने का प्रयास कर रहे हैं। ये लोग सोनू सूद को एक सुपरहीरो के रूप में पेश करने में सफल रहे हैं, लेकिन राज्य सरकार की मदद के बिना वे कुछ नहीं कर सकते थे। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर सोनू सूद को एडॉप्ट करने का भी आरोप लगाया।

बीजेपी ने शिवसेना के इस बयान को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

वहीं ने शिवसेना के इस आर्टिकल पर बीजेपी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। बीजेपी नेता राम कदम ने संजय राउत के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि “Corona के संकट काल में इंसानियत के नाते मजदूरों को सड़क पर उतर के सहायता करने वाले सोनू सूद पर संजय राउत का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। खुद की सरकार कोरोना से निपटने में नाकाम हो गई? यह सच्चाई सोनू सूद पर आरोप लगाकर छुप नहीं सकती. जिस काम की सराहना करने की आवश्यकता है उस पर भी आरोप?

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर: अब कर पाएंगे राम लला के दर्शन, करना होगा इन नियमों का पालन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।