उद्धव के साथ ये मंत्री पद की लेंगे शपथ, जानिए कौन होगा डिप्टी CM

महाराष्ट्र में गुरुवार को नई सरकार का गठन होने जा रहा है। एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना की गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शाम को शपथ लेंगे। उद्धव ठाकरे परिवार के ऐसे पहले सदस्य हैं, जो कोई पदभार संभालेंगे।

मुंबई: महाराष्ट्र में गुरुवार को नई सरकार का गठन होने जा रहा है। एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना की गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शाम को शपथ लेंगे। उद्धव ठाकरे परिवार के ऐसे पहले सदस्य हैं, जो कोई पदभार संभालेंगे।

विधानसभा चुनाव के बाद 50-50 फाॅर्मूले को लेकर शिवसेना और बीजेपी का गठबंधन टूट गया। इसके बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन हुआ। इस गठबंधन की ओर से उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के लिए चुना गया।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र में आज से ठाकरे राज, शपथ के लिए ‘शनिवार वाड़ा’ की तर्ज पर मंच

मुंबई के शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह होगा। इस समारोह में तीनों पार्टियों के दो-दो मंत्री शपथ लेंगे। इसके अलावा ये भी तय हुआ है कि एनसीपी को उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस को विधानसभा स्पीकर का पद दिया जाएगा।

शिवसेना की तरफ से सुभाष देसाई और एकनाथ शिंदे मंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके अलावा एनसीपी की ओर से जयंत पाटिल और छगन भुजबल मंत्रीपद की शपथ लेने जा रहे हैं। छगन भुजबल एनसीपी के बड़े नेता हैं। भुजबल महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री रह चुके हैं। एक समय था जब वे बालासाहेब ठाकरे के भाषणों से बेहद प्रभावित थे। भुजबल ने 1991 में शिवसेना छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए और जब शरद पवार एनसीपी बनाई तो वह उनके साथ चले गए।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र पर बोले अमित शाह, शरद पवार और सोनिया गांधी को दी ये चुनौती

वहीं कांग्रेस की तरफ से बालासाहेब थोराट और पूर्व सीएम अशोक चव्हाण शपथ लेंगे। इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि महाराष्ट्र कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चह्वाण उद्धव ठाकरे के अधीनस्थ मंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। अशोक चह्वाण महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री हैं। वहीं दिग्गज कांग्रेसी नेता और महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट भी मंत्री पद की शपथ लेंगे। बालासाहेब थोराट 8 बार लगातार विधायक रह चुके हैं।

एनसीपी के नेता जयंत पाटिल, विधायक दल के भी नेता हैं। शरद पवार के बेहद करीबी नेताओं में शामिल हैं। वह इस्लामपुर वालवा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। वह पृथ्वीराज चव्हाण सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री रहे हैं। इससे पहले वह वित्त मंत्री और गृह मंत्री भी रहे हैं।

यह भी पढ़ें…भारतीय राजनयिक ने कश्मीरी हिंदुओं पर दिया ये बड़ा बयान, पागल हुआ पाकिस्तान

डिप्टी सीएम पद पर सस्पेंस

तीनों दलों के गठबंधन में डिप्टी सीएम का पद एनसीपी को मिली है। अब यह देखना दिलचस्प है कि नई सरकार में अजित पवार की भूमिका क्या होगी। अजित पवार या तो मंत्रिमंडल में शामिल ही नहीं होंगे और अगर होते हैं तो डेप्युटी सीएम पोस्ट उनके पास जा सकता है। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि अजित पवार की सरकार में क्या जिम्मेदारी होगी, इसपर शरद पवार अंतिम फैसला लेंगे। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि अजित पवार उप मुख्यमंत्री होंगे, लेकिन वह उद्धव ठाकरे के साथ शपथ नहीं लेंगे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App