Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बंगाल में योगी की ललकार, हिन्दू मतों का ध्रुवीकरण करेंगे यूपी के सीएम

हाल ही में बिहार में अपनी चुनावी रैलियों से राजनीतिक माहौल को भाजपा के पक्ष में करने के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को पश्चिम बंगाल में करिश्मा करने के लिए मंगलवार को इस चुनावी राज्य का दौरा कर हिन्दू मतों का ध्रुवीकरण करेने का काम करेंगे।  

Monika

MonikaBy Monika

Published on 1 March 2021 4:31 PM GMT

बंगाल में योगी की ललकार, हिन्दू मतों का ध्रुवीकरण करेंगे यूपी के सीएम
X
बिजली बिल का भुगतान होगा आसान, सीएम योगी ने 27 उपकेंद्रों का किया लोकार्पण
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: हाल ही में बिहार में अपनी चुनावी रैलियों से राजनीतिक माहौल को भाजपा के पक्ष में करने के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को पश्चिम बंगाल में करिश्मा करने के लिए मंगलवार को इस चुनावी राज्य का दौरा कर हिन्दू मतों का ध्रुवीकरण करेने का काम करेंगे।

भाजपा की रणनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद पार्टी के सबसे बड़े स्‍टार प्रचारक सीएम योगी को मैदान में उतार कर भाजपा नेतृत्‍व ने पश्चिम बंगाल को लेकर अपनी आक्रामक रणनीति साफ कर दी है। भाजपा की रणनीति टीएमसी और उनके नेताओं को उन्‍हीं के अंदाज में जवाब देने की है। योगी की आक्रामक प्रचार शैली और हिन्‍दू वोटों पर प्रभाव को देखते हुए बंगाल भाजपा के नेताओं ने सीएम योगी के दौरे की बड़ी डिमांड की है ।

यूपी के विकास के माडल की झलक दिखलाएंगे योगी

मंगलवार को योगी की पहली चुनावी जनसभा से बंगाल के चुनाव पर केसरिया रंग चढ़ना तय माना जा रहा है । गरीबी और पिछड़ेपन से जूझ रहे पश्चिम बंगाल के चुनावी मंच से सीएम योगी यूपी के विकास के माडल की झलक दिखलाएंगे। सांस्‍कृतिक वैभव और आर्थिक रूप से आत्‍म निर्भर बनते उत्‍तर प्रदेश में माफियाओं और अपराधियों से निपटने के योगी माडल की गूंज भी बंगाल में मंगलवार को सुनाई देगी। इससे पहले बिहार के चुनाव में भी योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार का कमाल लोग देख चुके हैं। सीएम योगी ने बिहार चुनाव में 17 जिलों में 19 सभाएं कर 75 से ज्‍यादा सीटों के परिणाम प्रभा‍वित किए । आतंक, अपराध और भ्रष्‍टाचार पर आक्रामक प्रहार करते हुए योगी ने इनमें से 50 सीटों पर एनडीए के उम्‍मीदवारों को जीत दर्ज करा दी।

रैली को पश्चिम बंगाल में दोहराने की तैयारी

पश्चिम बंगाल में भाजपा की रणनीति योगी मॉडल के जरिए ममता बनर्जी को चौतरफा घेरने की है। बिहार और हैदराबाद में योगी आदित्यनाथ की रैलियों से मिली सफलता को पार्टी अब पश्चिम बंगाल में दोहराने की तैयारी में है । योगी की रैलियों से कोरोना के दौरान पश्चिम बंगाल में प्रवासी मजदूरों की दशा, लव जिहाद, भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस और राम मंदिर निर्माण का मुद्दा पश्चिम बंगाल के सियासी पारे को नए पैमाने पर ले जाएगा ।

ये भी पढ़ें : BJP सांसद बोले- राहुल के नक्शे कदम पर चल रहे अखिलेश, पढ़ें अयोध्या की बड़ी खबरें

भाजपा की निर्भरता सीएम योगी पर सबसे ज्‍यादा

योगी आदित्यनाथ की छवि फायरब्रांड हिन्‍दू नेता के साथ ईमानदार व सख्‍त प्रशासक की है । यही कारण है कि प्रधानमंत्री मोदी के बाद चुनाव प्रचार के लिए भाजपा की निर्भरता सीएम योगी पर सबसे ज्‍यादा है । इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि हैदराबाद के नगर निकाय चुनाव में प्रचार करने वाले वह बीजेपी के इकलौते मुख्यमंत्री थे । उनके चुनाव प्रचार का असर चुनाव के नतीजों में देखने को भी मिला । बीजेपी ने जबरदस्‍त प्रदर्शन करते हुए 48 सीटें जीतीं और ओवैसी की पार्टी को तीसरे नंबर पर धकेलकर दूसरे नंबर की पार्टी बन गई।

श्रीधर अग्निहोत्री

ये भी पढ़ें : पंचायत चुनावः मोर्चे पर तैयार झांसी पहुंची, इनके लिए जारी होगा रेडकार्ड

Monika

Monika

Next Story