मोदी-शाह पर गरजे राहुल: वायनाड में दिया ये बड़ा बयान

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज तीन दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे हैं। राहुल गांधी मालाप्पुरम में हैं और यहां पर उन्होंने एक स्कूल में रैली को संबोधित किया।

कोझिकोड: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज तीन दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे हैं। राहुल गांधी मालाप्पुरम में हैं और यहां पर उन्होंने एक स्कूल में रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

कांग्रेस पार्टी भेदभाव के खिलाफ है- राहुल गांधी

नागरिकता संसोधन बिल को लेकर उन्होंने कहा कि, कांग्रेस पार्टी किसी के साथ किसी भी तरह के भेदभाव के खिलाफ है। राहुल गांधी ने कहा कि हमारा मानना है कि भारत देश सभी समुदाय, सभी धर्मों और सभी संस्कृतियों का है। उन्होंने आगे कहा कि, गृहमंत्री अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी अपनी काल्पनिक दुनिया में ही जी रहे हैं। उनका बाहरी दुनिया से कोई मतलब नहीं रह गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी: फिर जली एक और बेटी, सरकार की कानून व्यवस्था पर उठे सवाल

देशवासियों की बात सुनते तो न होती परेशानी- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि, पीएम मोदी अगर इस देश के लोगों की बातें सुनते तो उन्हें कोई भी समस्या नहीं होगी। उन्होंने कहा कि, पीएम मोदी की शासन शैली, लोगों का वास्तविक मुद्दों से ध्यान भटकाती  है। वे अपनी ही काल्पनिक दुनिया में रहते हैं और कल्पनाएं करते रहते हैं, और यही कारण है कि देश इस तरह की परेशानी में है।

यह भी पढ़ें: अखिलेश की बेटी ने थामी घोड़े की लगाम, की ऐसे घुड़सवारी, निहारती रह गई मां डिंपल

बता दें कि, इससे पहले भी पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को लोकसभा में केंद्र से अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के नंजनगुड-वायनाड-नीलाम्बुर रेलवे लाइन प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए केरल सरकार को सहयोग करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि, यह परियोजना कई सालों से पाइपलाइन में है और इससे बेंगलुरू और तिरुवनंतपुरम के बीच यात्रा समय में कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि, नंजनगुड-वायनाड-नीलाम्बुर रेलवे लाइन उनके संसदीय क्षेत्र वायनाड के लोगों का सपना रहा है और दुर्भाग्यवश, कई सालों से ये परियोजना अधर में लटका हुआ है। जैसा कि आप जानते हैं खराब रेलवे कनेक्टिविटी के साथ-साथ  रात में यातायात जाम होने के कारण और एनएच 766 के कुछ भागों में यातायात पर पाबंदी होने की वजह से आवाजाही में काफी कमी आई है।

यह भी पढ़ें: सावधान दामाद-बहू! सरकार का बड़ा फैसला, अब ये नहीं किया तो होगी जेल