ज्ञान की बात: निजी पलों को रिकॉर्ड करने से पहले जान लें ये नुकसान

अगर आप अपने इंटिमेट पल कैमरे में कैप्चर कर रहे हैं तो जान लीजिये कि इससे आपकी और आपके पार्टनर की सेफ्टी को खतरा है। अगर आप रिलेशनशिप में हैं तो आपको अपने इंटिमेट पलों को एन्जॉय करना चाहिए।

निजी पल

लखनऊ: पार्टनर के साथ निजी पल गुजारना बेशक आपके लिए किसी यादगार पल से कम नहीं है लेकिन इन्हें रिकॉर्ड करना बेहद गलत काम है। अपने निजी पलों को रिकॉर्ड करना आपके लिए मुसीबतें पैदा कर सकता है। साल 2017 में किये गए एक सर्वे के अनुसार, भारत में तकरीबन 19 प्रतिशत कपल्स ऐसे हैं, जोकि अपने इंटिमेट पलों को स्मार्टफोन कैमरे के जरिए रिकॉर्ड करते हैं। मगर ऐसा करने से आपको कई खतरे हैं।

यह भी पढ़ें: आपका लाडला नहीं करना चाहता पढ़ाई तो पैरेंट्स अपनाएं ये टिप्स

निजी पलों को रिकॉर्ड करने में सहज नहीं 79% कपल्स

79% कपल्स ऐसे हैं जो अपने निजी पल कैमरे में कैद करना पसंद नहीं करते हैं। उनका मानना है कि ऐसा करने में वह सहज नहीं हैं। ये आकड़ा कहता है कि वो कपल्स कम हैं जो अपने इंटिमेट पल रिकॉर्ड करते हैं लेकिन अगर आप इस कम नंबर्स में शामिल हैं तो ये खबर आपके लिए है। अगर आप भी अपने स्पेशल मोमेंट्स कैप्चर करते हैं तो ऐसा न करें।

यह भी पढ़ें: बच्चे को अकेला छोड़ने से पहले भूल से भी न करें ये नादानियां

निजी पल कैप्चर करने से है आपकी सेफ्टी को खतरा

अगर आप अपने इंटिमेट पल कैमरे में कैप्चर कर रहे हैं तो जान लीजिये कि इससे आपकी और आपके पार्टनर की सेफ्टी को खतरा है। अगर आप रिलेशनशिप में हैं तो आपको अपने इंटिमेट पलों को एन्जॉय करना चाहिए। दरअसल, जरुरी नहीं कि अगर आप अपने इंटिमेट पलों को रिकॉर्ड करना पसंद करते हैं तो आपके पार्टनर को भी ये पसंद हो। इसलिए आपको इस बात का भी खास ख्याल रखना चाहिए।

यह भी पढ़ें: अगर थायराइड को करना है बाय, तो इन योगासनों से करिए हाय

प्राइवेट पलों को रिकॉर्ड करना मतलब कैटोप्ट्रोनोफीलिया

जब आप अपने निजी पलों को रिकॉर्ड करते हैं तो आप कैटोप्ट्रोनोफीलिया करते हैं। इसका मतलब होता है खुद को सेक्स करते हुए देखना। कैटोप्ट्रोनोफीलिया ग्रीक शब्द कैटोप्ट्रॉन से उत्पन्न हुआ है।