Top

बाय-बाय WhatsApp! कंपनी ने तोड़ा भरोसा, अब App छोड़ने को तैयार यूजर्स

गुरुग्राम की साबइर मीडिया रिसर्च (CMR) के स्टडी में भी यह बात कही गई है कि वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी के मद्देनजर 79 प्रतिशत यूजर्स वॉट्सऐप (WhatsApp) की सेवाएं जारी रखने के लिए पुनर्विचार कर रहे हैं।

Chitra Singh

Chitra SinghBy Chitra Singh

Published on 29 Jan 2021 1:12 PM GMT

बाय-बाय WhatsApp! कंपनी ने तोड़ा भरोसा, अब  App छोड़ने को तैयार यूजर्स
X
बाय-बाय WhatsApp! कंपनी ने तोड़ा भरोसा, अब App छोड़ने को तैयार यूजर्स
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कहते है कि अगर मन में किसी चीज को लेकर भय हो जाता है, तो लाख कोशिशों के बाद भी वह भय नहीं जा पाता। कुछ ऐसा ही केस वॉट्सऐप (WhatsApp) यूजर्स में दिखने को मिल रहा है। वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई पॉलिसी की बात जब से लीक हुई है तब से यूजर्स का वॉट्सऐप (WhatsApp) ऐप पर से विश्वास उठ गया है। यूजर्स वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई पॉलिसी से तो पहले से ही नाराज थे, वहीं कंपनी की ओर से जबरन डेटा कलेक्शन की खबर ने आग में घी का काम कर दिया है। वहीं एक शोध में खुलासा हुआ है कि वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई पॉलिसी समेत कई नए बदलाव को लेकर यूजर्स काफी नाराज है।

क्या कहते हैं शोध

जैसा कि भारत सरकार ने पहले ही कंपनी को नई पॉलिसी वापस लेने आदेश दे चुकी है। इस आदेश के बाद एक नेशनल लेवल स्टडी की गई। इस स्टडी में यह बात सामने आई है कि 79 प्रतिशत यूजर्स WhatsApp की सेवाएं जारी रखने के लिए पुनर्विचार कर रहे हैं। वहीं गुरुग्राम की साबइर मीडिया रिसर्च (CMR) के स्टडी में भी यह बात कही गई है कि वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी के मद्देनजर 79 प्रतिशत यूजर्स वॉट्सऐप (WhatsApp) की सेवाएं जारी रखने के लिए पुनर्विचार कर रहे हैं, जबकि 28 प्रतिशत यूजर्स इसे छोड़ना चाह रहे हैं।

यह भी पढ़ें: कम सैलरी पाने वालों के लिए खुशखबरी, अब मिलेंगी ये सुविधाएं, सरकार ने दी राहत

दूसरे ऐप्स की ओर मूव हुए यूजर्स

तमाम स्टडी के बाद जो रिपोर्ट सामने आई है कि जिन लोगों को सर्वे में शामिल किया गया था, उनमें से 41 फीसदी लोगों ने वॉट्सऐप (WhatsApp) की सुविधा छोड़ टेलीग्राम (Telegram) की ओर मूव हो गए, जबकि 35 फीसदी लोग सिग्नल ऐप को अपना लिया।

whatsapp

'नई प्राइवेसी पॉलिसी पर चर्चा लगातार जारी'

उधर, CMR के Industry Consulting Group के हेड सत्य मोहंती का कहना है, “वॉट्सऐप (WhatsApp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर चर्चा लगातार जारी है, लेकिन यह चर्चा निजता को तरजीह देने वाले उपभोक्ताओं से कहीं आगे की है, क्योंकि कुछ यूजर्स WhatsApp का इस्तेमाल बंद करना चाह रहे हैं, जबकि कुछ यूजर्स टेलीग्राम अथवा सिग्नल जैसे विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।”

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story