Top

Whatsapp पर फेक और स्पैम मैसेज भेजा तो खैर नहीं, सरकार कर रही ये तैयारी

यूनिक अल्फा न्यूमेरिक हैश नंबर जनरेट करने से व्हाट्सऐप पर भेजा गया हर मैसेज A -Z अक्षर और 0 -9 नंबर के साथ एक कोड के साथ आएगा जिसकी मदद से यह पता लगा सकते हैं कि यह मैसेज किसने भेजा है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 March 2021 10:54 AM GMT

Whatsapp पर फेक और स्पैम मैसेज भेजा तो खैर नहीं, सरकार कर रही ये तैयारी
X
Whatsapp पर फेक और स्पैम मैसेज भेजा तो खैर नहीं, सरकार कर रही ये तैयारी photos (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : सोशल मीडिया मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप पर फेक मैसेज और स्पैम मैसेजस को रोकने के लिए अब सरकार नया नियम बनाने का प्लान कर रही है। इस नए नियम की मदद से व्हाट्सऐप पर भेजे गए हर मैसेज पर अल्फा न्यूमेरिक हैश असाइनिंग सिस्टम लगाया जाएगा। जिसकी मदद से यह आसानी से पता चल सकेगा की यह मैसेज किसने भेजा है। व्हाट्सऐप पर आए दिन स्पैम मैसेज सबसे ज्यादा वायरल होते हैं।

अल्फा न्यूमेरिक हैश असाइनिंग सिस्टम

भारत सरकार व्हाट्सऐप के जरिए लोगों को भ्रामक सूचनाओं से बचाने का प्रयास कर रही है। जिसके लिए सरकार ने यह बड़ा फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि सरकारी अधिकारी और व्हाट्सऐप अधिकारी भेजे गए स्पैम मैसेजों की उत्पत्ति का पता लगाने पर जुटे हुए हैं। कहा जा रहा है कि इस नई तकनीक से फेक मैसेज भेजने वालों को आसानी से पकड़ा जा सकता है।

अब मैसेज के ओरिजिन का पता आसानी से लगाया जा सकता

व्हाट्सऐप कंपनी का कहना है कि व्हाट्सऐप पर हर मैसेज एन्क्रिप्ट होता है। इसके साथ उन्होंने कहा कि अगर हर मैसेज के ओरिजिन का पता लगाने से एंड - टू -एंड एन्क्रिप्शन तकनीक टूट सकती है। इसके समाधान का उपाय भारत सरकार लेकर आया है। सरकार एक ऐसा नया नियम ला रहा है जिससे फेक मैसेज भेजने वाले ओरिजिन का आसानी से पता लगाया जा सकता है और व्हाट्सऐप की एंड -टू -एंड एन्क्रिप्शन तकनीक भी ब्रेक नहीं होगी।

alpha numaric

ये भी पढ़े....माफिया मुख्तार अंसारी से याराना IAS रामविलास को पड़ा भारी, कार्रवाई होना तय

एक कोड के साथ आएगा मैसेज

भारत सरकार मैसेजिंग कंपनी व्हाट्सऐप को एक नए सिस्टम को लाने का प्रस्ताव रख रही है। बताया जा रहा है कि यूनिक अल्फा न्यूमेरिक हैश नंबर जनरेट करने से व्हाट्सऐप पर भेजा गया हर मैसेज A -Z अक्षर और 0 -9 नंबर के साथ एक कोड के साथ आएगा जिसकी मदद से यह पता लगा सकते हैं कि यह मैसेज किसने भेजा है।

ये भी पढ़े....हजारीबाग में बड़ा हादसा: तालाब में डूबने से 5 बच्चों की मौत, चारों तरफ पसरा मातम

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story