Top

Amazon-Flipkart से जुड़ेगा गोरखपुर रेडीमेड गारमेंट, ई-कामर्स से पहुंचेगा पूरे देश में

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर को रेडीमेड गारमेंट सेक्टर का हब बनाने के लिए प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि उद्यमी क्लस्टर बनाएं

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 14 Jan 2021 5:45 AM GMT

Amazon-Flipkart से जुड़ेगा गोरखपुर रेडीमेड गारमेंट, ई-कामर्स से पहुंचेगा पूरे देश में
X
amazon-Flipkart से जुड़ेगा गोरखपुर रेडीमेड गारमेंट, ई-कामर्स से पहुंचेगा पूरे देश में (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: ओडीओपी स्कीम के तहत गोरखपुर के दूसरे उत्पाद के रूप में शामिल रेडीमेड गारमेंट सेक्टर को लेकर सर्किट हाउस में बैठक आयोजित हुई। रेडीमेड गारमेंट के गोरखपुरी उद्यमियों व इस क्षेत्र में उद्यमिता के आकांक्षी लोगों के साथ अनौपचारिक वार्ता के दौरान अपर मुख्य सचिव एमएसएमई नवनीत सहगल ने गोरखपुर में नोएडा से अधिक सुविधा व सहूलियत दिलाने का भरोसा दिया। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि गोरखपुर के रेडीमेड गारमेंट को वैश्विक बाजार दिलाने के लिए ई कामर्स कम्पनियों अमेजन, फ्लिपकार्ट आदि के प्रतिनिधियों को गोरखपुर बुलाया जाएगा। साथ ही जेम्स पोर्टल की सुविधा का कैसे लाभ लें, इसके लिए भी कैम्प लगाकर ट्रेनिंग दी जाएगी।

ये भी पढ़ें:शादीशुदा बेटियां भी मृतक आश्रित: कोर्ट का बड़ा आदेश, मिलेगा नियुक्ति का अधिकार

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर को रेडीमेड गारमेंट सेक्टर का हब बनाने के लिए प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि उद्यमी क्लस्टर बनाएं, उन्हें कारीगरों के लिए ट्रेनिंग, डिजाइनर मशीनें, ऑनलाइन मार्केटिंग प्लेटफार्म आदि सुविधाएं सरकार देगी। उन्होंने बताया कि जल्द ही एक वर्चुअल गारमेंट प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। जिसमे गोरखपुर के उद्यमी अन्य जगहों पर सफलता से कार्यरत उद्यमियों के अनुभव का लाभ उठा सकेंगे।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि यहां के उद्यमियों के एक समूह को नोएडा में रेडीमेड गारमेंट सेक्टर का अध्ययन करने को भी भेजा जाएगा। कोरोना संकट के बावजूद योगी सरकार से मिली सहूलियत से नोएडा के रेडीमेड गारमेंट उद्यमी उत्साहित और खुशहाल हैं।

क्या करना है, यह तय करना जरूरी

अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने उद्यमियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि रेडीमेड गारमेंट एक व्यापक कार्य क्षेत्र वाला है। सबसे पहले यह तय करना होगा कि हम क्या करना चाहते हैं, मसलन स्पिनिंग, वीविंग, स्टिचिंग आदि। इसके बाद ही आगे स्थान आदि की आवश्यकता संबंधी कार्ययोजना बनाई जा सकती है।

ये भी पढ़ें:Scholarship 5 गुना ज्यादाः छात्रों के लिए खुशखबरी, सरकार नहीं रुकने देगी पढ़ाई

स्टिचिंग करने वालों के लिए फ्लैटेड कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा

नवनीत सहगल ने कहा कि स्टिचिंग करने वालों के लिए फ्लैटेड कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा। अन्य कार्यों में जिसे भूमि की जरूरत होगी, दिलाया जाएगा। यह भी भरोसा दिलाया कि यदि रेडीमेड गारमेंट से जुड़े उद्यमी एक जगह पर आ जाएं तो कामन एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट सरकार लगवा देगी। इस दौरान चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के पूर्व अध्यक्ष एसके अग्रवाल, आकाश जालान, लक्ष्मी शास्त्री, गोविंद चावला, अनुभव केडिया, नितिन जालान, प्रमोद मातनहेलिया, इश्तेयाक अहमद, समेत कई उद्यमी, जिला उद्योग उपायुक्त आरके शर्मा आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट- पूर्णिमा श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story