Top

2020 का चर्चित चेहरा: बने यूपी के सीएम योगी, इन कामों की वजह से चर्चा में आए

गूगल ट्रेंड्स के मुताबिक, योगी आदित्यनाथ पूरे देश में पूर्व और वर्तमान मुख्यमंत्रियों में से सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले नेता हैं। यही नहीं वह लगातार नंबर वन पोजिशन में हैं।

Suman

SumanBy Suman

Published on 31 Dec 2020 9:23 AM GMT

2020 का चर्चित चेहरा: बने यूपी के सीएम योगी, इन कामों की वजह से चर्चा में आए
X
जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में अच्छा काम किया है। लेकिन लोगों ने सबसे तेज तेज मुख्यमंत्री को सीएम योगी आदित्यनाथ को चुना।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक पूरे देश में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शोहरत बढ़ रही है। उनके बारे में लोग जानना चाहते हैं। भाजपा के हिन्दुत्व के प्रतीक व गोरखनाथ पीठ के पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ को भाजपा ने अपना स्टार प्रचारक भी बना रखा है।

सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले नेता

गूगल ट्रेंड्स के मुताबिक, योगी आदित्यनाथ पूरे देश में पूर्व और वर्तमान मुख्यमंत्रियों में से सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले नेता हैं। यही नहीं वह लगातार नंबर वन पोजिशन में हैं। राजनीति की दुनिया में साल के सबसे तेज मुख्यमंत्री का खिताब यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम रहा।

यह पढ़ें...ओडिशा में नाइट कर्फ्यू का ऐलान, नए साल के जश्न को देखते हुए फैसला

इस कैटेगरी में उद्धव ठाकरे, ममता बनर्जी, अशोक गहलोत और शिवराज चौहान सरीखे बड़े नाम शामिल थे, जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में अच्छा काम किया है। लेकिन लोगों ने सबसे तेज तेज मुख्यमंत्री को सीएम योगी आदित्यनाथ को चुना।

cm yogi

हिंदूत्व की छवि

यह ट्रेंड उस समय चर्चा में आया जब बीजेपी ने हाल ही में यूपी के सीएम को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में होने वाले चुनाव के लिए स्टार प्रचारक के रूप में चुना है।

योगी आदित्यनाथ इन राज्यों में कितनी रैलियों और जनसभाओं को संबोधित किया अभी बिहार चुनाव में भी योगी आदित्यनाथ ने ताबड़तोड़ रैलिया की। बीजेपी स्टार प्रचारक के रूप में में पहचान बना चुके ने कई ऐसे काम किए जो साल 2020 में चर्चा का विषय बनाता है।

जानते है साल 2020 में मुख्यमंत्री योगी के वो काम जो रहे चर्चा में...

गोरखनाथ मंदिर के मुख्य पुजारी योगी आदित्यनाथ सभी बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लोकप्रियता के मामले में काफी आगे हैं। उन्होंने इस मामले में मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, गुजरात के सीएम विजय रूपाणी, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर को भी पीछे छोड़ दिया है।

cm yogi

गूगल्स टेंड्रस के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पिछले एक साल में मुख्यमंत्रियों में सबसे ज्यादा सर्च किये गये हैं। योगी आदित्यनाथ गूगल सर्च इंजन में सबसे ज्यादा ट्रेंड हुए हैं। वह गूगल ट्रेंड में टॉप पर चल रहे हैं। वैसे योगी आदित्यनाथ पहले से ही खासे लोकप्रिय रहे हैं। वह कई बार सांसद भी रहे। लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद उनके काम व उनके भाषणों ने उनके बारे में जाने में और दिलचस्पी हुई।

सीएम बनने के बाद हुए विधानसभा चुनाव प्रचार में भाजपा ने उन्हें बतौर स्टार प्रचारक मैदान में उतारा। वह गुजरात, कर्नाटक, त्रिपुरा का चुनावी दौरा किया और ढेरों जनसभाएं की। इसके अलावा दूसरे कारणों से भी देश के दूसरे हिस्सों में गये। भगवा वेश, युवा योगी व प्रखर वाणी, राष्ट्रवाद व हिन्दुत्व पर उनके धारदार भाषणों व सीएम के रूप में उनके काम के चलते उनके बारे में लोगों की दिलचस्पी बढ़ती जा रही

यह पढ़ें...भारत में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के अब तक 25 मामले आए सामने

फॉलोअर्स की संख्या

सीएम योगी की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगा सकते है कि सोशल मीडिया पर उनके फॉलोअरसे कितन है। अगर इंस्टा पर देखे तो 1.9 मिलियन फॉलोअर्स है, तो ट्विटर पर 12.5 मिलीयन और फेसबुक पर 65 लाख लोग उनके फॉलोअर्स है जो सीएम योगी की छवि को लाइक करते हैं और अनुसरण करते है।

cm yogi

ऐंटी रोमियो स्क्वॉड से लव जिहाद तक....

यूपी आए दिन हो रहे अपराध पर भी सरकार ने लगाम लगाया है। विभागों में व्याप्त भ्रष्टाचार पर नकेल कसी है। तो विकास दुबे जैसे अपराधी को मारकर योगी सरकार चर्चा में रही। । 2017 में सरकार बनते ही ऐंटी रोमियो स्क्वॉड का ऐलान हुआ था इसका मकसद था प्रदेशभर के स्कूलों और कॉलेजों के बाहर लड़कियों से छेड़छाड़ रोकना, महिलाओं-लड़कियों को सुरक्षा देना, उनके खिलाफ अपराध रोकना और अपराधियों में डर बनाना। ऐंटी रोमियो सेल में महिला पुलिस को भी शामिल किया गया था। जिलों में महिला सुरक्षा के लिए हर थाने में दो ऐंटी रोमियो स्क्वॉड बनाए गए थे जिसमें 5-5 पुलिसकर्मी शामिल थे।

शुरुआत में इस स्क्वॉड के नाम को सोशल मीडिया पर तमाम तरह की प्रतिक्रियाएं आईं। एक साल तक तो ऐंटी रोमियो स्क्वॉड काफी सक्रिय दिखा।गली-मोहल्लों से लेकर शॉपिंग मॉल, बाजार और कॉलेज-स्कूल के बाहर यह दस्ता शोहदों पर नजर रखता रहा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मार्च 2018 तक ऐंटी रोमियो स्क्वॉड ने 26 लाख 36 हजार से ज्यादा लोगों की चेकिंग की थी।

cm yogi

विकास दुबे का एनकाउटंर

उत्तर प्रदेश में गैंगस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर के बाद फिर से योगी सरकार चर्चा में आई । इस एनकांउटर की आलोचना हुई, सरकार की साजिश भी बताया गया, लेकिन सरकार ने इस एनकाउंटर के बाद बहुत हद तक अपराध पर लगाम लगाने में कारगर साबित हुई।

यह पढ़ें...बदलेंगे ये सारे नियम: आपके रहन-सहन पर पड़ेगा बड़ा प्रभाव, नया साल नई राहें

लव जेहाद

यूपी की योगी सरकार लव जिहाद और जबरन धर्म परिवर्तन पर अब सख्त हो चुकी है. योगी सरकार लव जिहाद के खिलाफ यूपी में अध्यादेश लेकर आई है, जिसके तहत धोखे से धर्म परिवर्तन कराने पर 10 साल तक की सजा का प्रावधान है। वहीं धर्म परिवर्तन कराने के लिए उक्त को जिलाधिकारी के समक्ष 2 महीने पहले ही सूचना देनी होगी। धर्म परिवर्तन के इच्छुक के लिए अध्यादेश में विहित प्रारुप पर जिलाधिकारी को 2 महीने पहले सूचित करना होगा। वहीं अगर इसका उल्लंघन करता कोई पाया गया तो 6 महीने से लेकर 3 साल तक जेल की सजा हो सकती है. वहीं जुर्माने की राशि 10,000 व उससे अधिक की रखी गई है।

cm yogi

गौरतलब है कि इस अध्यादेश को आज से लागू कर दिया गया है इस अध्यादेश में धर्म परिवार के लिए 15,000 रुपये के जुर्माने और 5 साल तक की सजा का प्रावधान है। वहीं अगर धर्म परिवर्तन SC-ST समुदाय की लड़कियों या महिलाओं के साथ किया जाता है तो 25,000 रुपये जुर्माने के साथ 10 साल तक की सजा का प्रावधान है।

सीएम योगी के बारे कहा जाता है कि वो बोलते कम है काम ज्यादा से जवाब देते हैं तभी तो पीएम के भी खास लिस्ट में है । जब अमरिका के प्रेसिडेंट यहां आएं तो उनके स्वागत में सीएम योगी को भी न्योता मिला था। आलोचनाएं चाहे जितनी हो उनकी लोकप्रियता को देख कर तो कहा जा सकता है वो लोगों को पसंद है। ।

Suman

Suman

Next Story