Top

दुश्मनों का होगा पलभर में खात्मा: राफेल में है जबरदस्त खासियत, जानें 10 बड़ी बातें

भारतीय वायुसेना की ताकत में अब और भी इजाफा होने जा रहा है। देश में लगातार राफेल डील पर उठे सवालों के बीच अब यह फाइटर जेट भारत में आने जा रहा है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 27 July 2020 7:50 AM GMT

दुश्मनों का होगा पलभर में खात्मा: राफेल में है जबरदस्त खासियत, जानें 10 बड़ी बातें
X
specialty of Rafael fighter jet
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना की ताकत में अब और भी इजाफा होने जा रहा है। देश में लगातार राफेल डील पर उठे सवालों के बीच अब यह फाइटर जेट भारत में आने जा रहा है। बता दें कि कि भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने के लिए पांच राफेल फाइटर जेट ने फ्रांस से उड़ान भर दी है। ये पांचों फाइटर प्लेन अंबाला एयरबेस पर आएंगे।

यह भी पढ़ेंं: उत्तर मध्य रेलवेः इस रूट पर यात्री और मालगाड़ियां चलेंगी पूरी तरह बिजली से

दुश्मन देश के छक्के छुड़ाने में भारत का देगा साथ

फाइटर जेट राफेल के आने के बाद भारतीय वायुसेना की ताकत में अब और इजाफा होगा। साथ ही आकाश की सुरक्षा और पैनी होगी। बता दें कि भारत बीते काफी समय से अपने सबसे अच्छे और खतरनाक फाइटर जेट का इंतजार कर रहा है और जल्द ही ये इंतजार खत्म होने जा रहा है। ये फाइटर जेट दुश्मन देश के छक्के छुड़ाने में भारत का साथ देगा।

यह भी पढ़ेंं: ड्रैगन की खुली पोल: भारतीय सैटेलाइट में कैद हुई चीनी सेना, नापाक इरादों का खुलासा

तो चलिए आपको बताते हैं राफेल की खासियत-

ये लड़ाकू विमान परमाणु हथियार ढोने समेत तमाम तरह के मिशन को अंजाम देने की क्षमता रखता है।

1 मिनट में विमान के दोनों तरफ से 30 MM की तोप से 2500 राउंड गोले दाग सकता है।

राफेल लड़ाकू विमान की मारक क्षमता 3700 KM. है जबकि यह 2,130 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है।

यह दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है, जो भारतीय वायुसेना की पहली पसंद है।

इसकी खासियत यह है कि इसे हर तरह के मिशन में भेजा जा सकता है।

300 किमी. की रेंज से हवा से जमीन पर हमला करने में सक्षम, हथियारों के स्टोरेज के लिए 6 महीने की गारंटी।

हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल।

यह भी पढ़ेंं: ग्राहक हो जाएं सावधान: आज से बदले ये नियम, सख्ती से करना होगा पालन

9.3 टन वजन के साथ 1650 KM. तक उड़ान भरने में सक्षम है।

14 हार्ड प्वाइंट के जरिए भारी हथियार भी गिराने की क्षमता है।

अत्याधुनिक हथियारों से लैस होगा राफेल, प्लेन के साथ मेटेअर मिसाइल भी है।

अफगानिस्तान और लीबिया में अपनी ताकत का कर चुका है प्रदर्शन।

150 किमी की बियोंड विज़ुअल रेंज।

75 फीसदी विमान हमेशा ऑपरेशन के लिए तैयार, परमाणु हथियार ले जाने में हैं सक्षम।

यह भी पढ़ेंं: भारत के समर्थन में रूस, चीन को दिया झटका, रोकी S-400 मिसाइल की डिलीवरी

भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल लड़ाकू विमानों का सौदा

बता दें कि राफेल में भारतीय वायुसेना के हिसाब से फेरबदल भी किए गए हैं। भारत और फ्रांस के बीच यह सौदा उस वक्त हुआ था, जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी फ्रांस दौरे पर गए थे। तभी 36 राफेल लड़ाकू विमानों का सौदा हुआ था। फ्रांस से उड़ान भर चुके राफेल विमान 29 जुलाई की सुबह भारत पहुंचेंगे।

यह भी पढ़ेंं: BSNL के ये धांसू प्लान: मिल रहा रोज 5GB तक डेटा और फ्री काॅलिंग

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story