Top

देश को सबसे ज्यादा राज्यपाल देने वाला प्रदेश बना UP, जानें अब तक बने गवर्नर के नाम

देश में जब पहली बार पूर्ण बहुमत की मोदी सरकार बनी तो उसके बाद से यूपी के भाजपा नेताओं का राज्यपाल बनने का सिलसिला जो शुरू हुआ जो अबतक जारी है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 6 Aug 2020 2:22 PM GMT

देश को सबसे ज्यादा राज्यपाल देने वाला प्रदेश बना UP, जानें अब तक बने गवर्नर के नाम
X
देश को सबसे ज्यादा राज्यपाल देने वाला प्रदेश बना UP, जानें अब तक बने गवर्नर के नाम
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्रीधर अग्निहोत्री

लखनऊ: देश में जब पहली बार पूर्ण बहुमत की मोदी सरकार बनी तो उसके बाद से यूपी के भाजपा नेताओं का राज्यपाल बनने का सिलसिला जो शुरू हुआ जो अबतक जारी है। आज जब गाजीपुर जिले के मनोज सिन्हा को जम्मू काश्मीर के उपराज्यपाल की कमान सौंपी गयी तो इस श्रृंखला में एक और कडी जुड गयी।

ये भी पढ़ें:UP में कोरोना वायरस ने बनाए नए रिकाॅर्ड, इस जिले में हुईं 16 लोगों की मौत

देश को सबसे ज्यादा राज्यपाल देने वाला प्रदेश बना UP, जानें अब तक बने गवर्नर के नाम

यूपी से ताल्लुक रखने वाले ये राज्यपाल नेता है

इस समय से यूपी से ताल्लुक रखने वाले नेताओं में राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, गोवा के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, केरल के राज्यपाल आरिफ मुहम्मद खान, बिहार के राज्यपाल फागू चौहान, उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रि. बीडी मिश्रा शामिल है। इसके पहले हाल ही में मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन हो गया। जबकि पश्चिम बंगाल में केशरी नाथ त्रिपाठी और राजस्थान में कल्याण सिंह गर्वनर होकर रिटायर हो चुके है। मनोज सिन्हा सातवें राजनेता है जिन्हे इस पद पर शोभायमान किया गया है।

उत्तर प्रदेश से छह राज्यपाल कार्यभार संभाले हुए हैं

अबतक इस उत्तर प्रदेश से छह राज्यपाल कार्यभार संभाले हुए हैं लेकिन आज मनोज सिन्हा के जम्मू काश्मीर के उप राज्यपाल बनने के बाद अब इनकी संख्या सात हो गयी है। मनोज सिन्हा 1996 में पहली बार 11वीं लोक सभा के लिए निर्वाचित हुए। 1999 से 2000 तक वह योजना तथा वास्तुशिल्प विद्यापीठ की महापरिषद के सदस्य रहे तथा शासकीय आश्वासन समिति तथा ऊर्जा समिति के सदस्य भी रहे। 2014 में वह 16 वीं लोक सभा (तीसरा सत्र) के लिए उत्तर प्रदेश के गाजीपुर निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए। केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में एसपी-बीएसपी गठबंधन के प्रत्याशी अफजाल अंसारी से 1,19,392 वोटों से हार गए।

ये भी पढ़ें:CM योगी की अधिकारियों के साथ बैठक, कोरोना पर जताई चिंता, दिए सख्त निर्देश

देश को सबसे ज्यादा राज्यपाल देने वाला प्रदेश बना UP, जानें अब तक बने गवर्नर के नाम

बीएचयू छात्रसंघ अध्यक्ष से लेकर केंद्रीय मंत्री तक का सफर तय करने वाले मनोज सिन्हा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के करीबी माने जाते हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मनोज सिन्हा के बीच आरएसएस के दिनों से ही अच्छे संबंध हैं। मोदी लहर में जब साल 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को जीत तो मिली, पर मुख्यमंत्री के प्रवल दावेदारों में मनोज सिन्हा का नाम आखिरी में कट गया। 61 साल के मनोज सिन्हा अब जम्मू-कश्मीर के दूसरे उपराज्यपाल का जिम्मा संभालेंगे।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story