×

MP की सियासत हिलाने में इनका हाथ, सिंधिया की पीएम मोदी संग कराई थी बैठक

सिंधिया की राहें भाजपा तक कैसे पहुंची? यानी कांग्रेस की ओर जाने वाले सिंधिया के कदमों को भाजपा की तरफ मोड़ने वाला शख्स कौन हैं?

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 11 March 2020 9:17 AM GMT

MP की सियासत हिलाने में इनका हाथ, सिंधिया की पीएम मोदी संग कराई थी बैठक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

दिल्ली: कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में शामिल ज्योतिरादित्य सिंधिया का अपनी ही पार्टी से बगावत कर भाजपा में शामिल होना भले ही मध्य प्रदेश की सियासत में एक नये अध्याय की शुरुआत कर रहा है, लेकिन सवाल ये उठता है कि सिंधिया की राहें भाजपा तक कैसे पहुंची? यानी कांग्रेस की ओर जाने वाले सिंधिया के कदमों को भाजपा की तरफ मोड़ने वाला शख्स कौन हैं? दरअसल, पिछले कई दिनों से मध्य प्रदेश की राजनीति में हो बदलाव हो रहे नहीं, वो चाहे भाजपा का 'ऑपरेशन लोटस' हो या सिंधिया समेत 22 विधायकों की बगावत... सब एक ही शख्स की वजह से हो सका है।

जफर और ज्योतिरादित्य सिंधिया की पहले से जान पहचान:

मध्य प्रदेश की सत्ता को डगमगाने का श्रेय भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम को जाता है। जफर और ज्योतिरादित्य सिंधिया एक दूसरे को पहले से जानते हैं। सिंधिया जब भी दिल्ली जाते अक्सर जफर से मुलाकात करते। सूत्रों के मुताबिक, जफर पिछले पांच माह से ज्योतिरदित्य को भाजपा में लाने के सिलसिले में उनसे मिल रहे थे।

ये भी पढ़ें: दिग्विजय ने ज्योतिरादित्य को दी मोदी-शाह की शरण में जाने पर शुभकामनाएं

इस दौरान दोनों के बीच लगातार पांच बार मुलाक़ात हुई। जिसके बाद सिंधिया के भाजपा में आने की पेशकश को जफर ने आलाकमान तक पहुँचाया। जफर ने पीएम मोदी संग सिंधिया की मीटिंग की तय करवाई।

सोमवार और मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के वक्त भी जफर मौजूद रहे। मंगलवार को जब गृहमंत्री अमित शाह ज्योतिरदित्य सिंधिया को लेकर प्रधानमंत्री आवास पहुंचे थे तो उस समय भी जफर इस्लाम गृहमंत्री अमित शाह की गाड़ी में मौजूद थे।

ये भी पढ़ें: सीएम कमलनाथ का बयान-नहीं गिरेगी मध्य प्रदेश में सरकार, जानिए क्या है फॉर्मूला

कौन है जफर इस्लाम:

राजनीति में आने से पहले जफर इस्लाम एक विदेशी बैंक के लिए काम करते थे। हालंकि बाद में मोदी की राजनीति से प्रभावित होकर जफर इस्लाम ने भाजपा से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की। कहा जाता है कि जफर के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अच्छे ताल्लुक हैं। सूत्रों के मुताबिक इसी वजह से भाजपा हाईकमान ने इस्लाम को एम पी की सत्ता हिलाने की जिम्मेदारी दी।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story