IND vs WI 2nd ODI: भारत और वेस्टइंडीज की भिड़ंत, कोहली के सामने है ये बड़ी चुनौती

हर मामले में भारतीय क्रिकेट टीम अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम वेस्ट इंडीज से आगे है। लेकिन चेन्नई में हुए मैच ने भारतीय टीम को वेस्ट इंडीज ने जोर का झटका दे डाला।

विशाखापत्तनम: हर मामले में भारतीय क्रिकेट टीम अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम वेस्ट इंडीज से आगे है। लेकिन चेन्नई में हुए मैच ने भारतीय टीम को वेस्ट इंडीज ने जोर का झटका दे डाला। जिसे देख कर भारतीय क्रिकेट टीम के प्लेयर्स को और भी सचेत रहना होगा। तीन मैचों की सीरीज का दूसरा मैच आज विशाखापत्तनम में दोपहर 1:30 बजे से है, अगर कैप्टन विराट की टीम से थोड़ी भी चूंक हुई तो ये सीरीज हाथ से गवा बैठेंगे।

ये भी देखें:अनन्या पांडे ने कार्तिक संग रिलेशनशिप पर तोड़ी चुप्पी, खोला ये बड़ा राज

इस हार से बचना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि होम कंडिशन में बेहद मजबूत रही भारतीय टीम पिछले 15 वर्षों से भी ज्यादा टाइम से अपने घरेलू मैदान पर लगातार दो द्विपक्षीय वनडे सीरीज नहीं हारी है। भारतीय टीम आज-तक भारत में कभी लगातार पांच वनडे मैच भी नहीं हारी। लेकिन, अगर इंडिया ये मैच हारी तो ये बातें सच हो जाएंगी। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस साल मार्च में पांच मैचों की वनडे सीरीज के आखिरी तीनों मैच टीम इंडिया हार गई थी, अब विंडीज के खिलाफ शुरुआती मैच भी हार गई है।

सवाल बोलिंग कॉम्बिनेशन का

भारतीय बोलिंग चेन्नई में बिखरी नजर आई। 287 के सम्मानजनक टारगेट को विपक्षी टीम के हेटमायर-होप की जोड़ी ने अपने गजब प्रदर्शन से शतकों के साथ सफलतापूर्वक चेज करते हुए इंडिया को पूरी तरह बेअसर साबित कर दिया। भारत ने छह गेंदबाजों को आजमाया, लेकिन रिजल्ट बेकार रहा। विराट कोहली ने हार के लिए कंडिशन को कसूरवार ठहराया था, लेकिन पिछले मैच के सबक को देखते हुए टीम आज एसीए-वीडीसीए स्टेडियम पर संभवत: पांच स्पेशलिस्ट गेंदबाजों को उतारे।

स्पिनर्स भी रहे थे बेअसर

तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमरा के अलावा अब भुवनेश्वर कुमार भी चोट की वजह से बाहर हैं। पिछले मैच में दोनों स्पिनर- रविंद्र जडेजा (10 ओवर में 0/58) और कुलदीप यादव (10 ओवर में 0/45) भी बेरंग रहे जो बहुत ही बेकार था। जबकि ऑलराउंडर शिवम दुबे (7.5 ओवर में 68 रन) भी खासे महंगे साबित हुए।

रिजर्व खिलाड़ियों को मिलेगा मौका?

इंडिया के लिए अपने रिजर्व खिलाड़ियों के पूल को देखते हुए प्लेइंग इलेवन में बदलाव आसान नहीं होगा। अगर पांचवें स्पेशलिस्ट बॉलर को खिलाया जाता है तो तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर या लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को मौका मिल सकता है, तब ऑलराउंडर शिवम दुबे या जडेजा में से एक को बाहर करना होगा।

ये भी देखें:CBSE Exam 2020: 10वीं और 12वीं के एग्जाम डेट शीट जारी, ऐसे करें चेक

मौसम

नहीं दिख रहे बारिश के आसार, यही बात मैच के लिए अच्छी है। विशाखापत्तनम में उमस खिलाड़ियों को परेशान कर सकती है।

पिच

बैटिंग के लिए बढ़िया पिच मानी जाती है। गेंद की उछाल एक जैसी रहती है जिससे बैट्समेन अपने शॉट खेल सकते हैं। शुरुआत में विकेट धीमी रहेगी, लेकिन फ्लडलाइट्स में बैटिंग आसान हो सकती है क्योंकि तब तक ओस का फैक्टर काम करेगा।

संभावित प्लेइंग XI

ये भी देखें:नागरिकता कानून: राष्ट्रपति से मिलेंगी BSP प्रमुख मायावती, जानिए क्या करेंगी मांग

भारत

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, केदार जाधव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, दीपक चाहर, कुलदीप, शमी

वेस्ट इंडीज

पोलार्ड (कप्तान), शाई होप, इविन लुईस, हेटमायर, निकोलस पूरन, रोस्टन चेज, जेसन होल्डर, कीमो पॉल, वॉल्श जूनियर, अल्जारी जोसफ, शेल्डन कोटरेल

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App