Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

युवराज की वापसी: आसान नहीं राह, BCCI से मांगी इजाजत

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह क्रिकेट की दुनिया में एक बार फिर वापसी करना चाहते हैं मगर उनकी वापसी की राह आसान नहीं दिख रही है।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 10 Sep 2020 4:39 AM GMT

युवराज की वापसी: आसान नहीं राह, BCCI से मांगी इजाजत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह क्रिकेट की दुनिया में एक बार फिर वापसी करना चाहते हैं मगर उनकी वापसी की राह आसान नहीं दिख रही है। युवराज ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को पत्र लिखकर एक बार फिर पंजाब की तरफ से खेलने की इच्छा जताई है, लेकिन जानकार सूत्रों का कहना है कि बीसीसीआई के नियम उनकी वापसी की राह में सबसे बड़ी बाधा हैं। हालांकि युवराज के फैंस को उनकी वापसी की उम्मीद से काफी खुशी हुई है और अब हर किसी की नजर बीसीसीआई के फैसले पर टिकी है।

बीसीसीआई के नियम वापसी में बाधा

बीसीसीआई के एक अधिकारी का कहना है कि युवराज की वापसी के मामले में अंतिम फैसला करने का हक बोर्ड के पास ही है मगर बीसीसीआई के नियम युवराज की वापसी की राह में बाधा बन सकते हैं। अधिकारी के मुताबिक युवराज को बोर्ड की ओर से वन टाइम बेनिफिट का लाभ मिल चुका है और इसके साथ ही वे पिछले साल जून से रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली पेंशन का भी लाभ ले रहे हैं।

Indian Cricketer yuvraj singh Confirms comeback plans to retirement writes to bcci

युवराज को पेंशन के रूप में 22,500 रुपए दिए जा रहे हैं। हालांकि अभी भी इस मामले में अंतिम फैसला करने का हक बोर्ड के पास है मगर इतना जरूर है कि उनकी वापसी की राह आसान नहीं है।

युवा खिलाड़ियों को फायदे की बात मानी

हालांकि बीसीसीआई के अधिकारी का यह भी कहना है कि अगर युवराज सिंह एक बार फिर पंजाब की ओर से मैदान में उतरते हैं तो यह टीम के युवा खिलाड़ियों के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। युवराज सिंह ने टीम इंडिया के लिए काफी दिनों तक अच्छा प्रदर्शन किया है और युवा खिलाड़ियों को टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर से काफी कुछ सीखने को मिलेगा। पंजाब टीम के युवा खिलाड़ियों के भविष्य के लिए यह अच्छा साबित हो सकता है।

ये भी पढ़ेंः सुशांत केस : ऐसे बीती रिया की जेल में रात, जानें क्या-क्या हुआ उसके साथ

पिछले साल युवराज ने लिया था संन्यास

युवराज सिंह ने घरेलू क्रिकेट में वापसी करने के लिए बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिन जय सिंह को चिट्ठी लिखकर अनुमति मांगी है। युवराज सिंह ने पिछले साल जून में क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का एलान किया था।

BCCI

युवा खिलाड़ियों को दे रहे हैं टिप्स

युवराज सिंह का कहना है कि वे कुछ महीनों से पंजाब के युवा खिलाड़ियों शुभमन गिल, अभिषेक शर्मा, प्रभा सिमरन सिंह और अनमोलप्रीत सिंह के साथ मोहाली के पीसीए स्टेडियम में समय बिता रहे हैं। युवराज सिंह के मुताबिक मुझे युवाओं के साथ समय बिताना पसंद है और मैंने खेल के अलग-अलग पहलुओं पर इन खिलाड़ियों से बातचीत की है।

ये भी पढ़ेंः कंगना के खास वकील रिजवान, जानिए इनके बारे में, पहले हो चुके हैं गिरफ्तार

अच्छी बल्लेबाजी में अभी भी सक्षम

मुझे खुशी है कि ये खिलाड़ी कुछ नया सीखने की कोशिश कर रहे हैं। युवराज सिंह ने कहा इन खिलाड़ियों को सिखाने के लिए मुझे नेट्स पर भी उतरना पड़ा और इस दौरान मैंने पाया कि मैं गेंद को काफी अच्छी तरह से मारने में कामयाब रहा। हालांकि मैंने लंबे समय तक बल्ले को हाथ भी नहीं लगाया है।

बाली ने किया युवराज से अनुरोध

युवराज ने कहा कि मेरी अच्छी बल्लेबाजी के बाद पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव पुनीत बाली ने मुझसे कई बार संपर्क किया और सवाल पूछा कि क्या मैं रिटायरमेंट से बाहर आने पर दोबारा विचार करूंगा। बाली ने कहा कि पंजाब टीम के ज्यादातर युवा खिलाड़ी युवराज से टिप्स लेने के बाद बेहतर खेल का प्रदर्शन कर रहए हैं। वहीं युवराज भी पूरी तरफ फिट हैं और अच्छी बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं। उनके फिर खेलने से काफी फायदा होगा।

ये भी पढ़ेंः भारत-चीन तनाव: अब यहां खतरनाक साजिश रच रहा ड्रैगन, तैयार है भारतीय सेना

भरोसा होने पर लिखा सौरव को पत्र

युवराज का कहना है कि जब उन्हें भरोसा हो गया कि वे पंजाब के लिए एक-दो सीजन और खेल सकते हैं तभी उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और जय शाह को पत्र लिखकर इसके लिए इजाजत मांगी है। युवराज ने साफ किया कि पत्र में मैंने यह बात स्पष्ट कर दी है अगर मुझे घरेलू सीजन में खेलने का मौका मिला तो मैं विदेशी लीग नहीं खेलूंगा।

युवराज ने टीम इंडिया के लिए अंतिम मैच 30 जून 2017 को खेला था और इस मैच के दौरान वे वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे मुकाबले में उतरे थे। युवराज भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी-20 मुकाबले खेल चुके हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story