Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

भारत-चीन तनाव: अब यहां खतरनाक साजिश रच रहा ड्रैगन, तैयार है भारतीय सेना

भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया। चीन एक तरफ शांति की बात कर रहा, लेकिन उसकी सेना आक्रामता और उकसावे वाली हरकते कर रही है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Sep 2020 4:23 AM GMT

भारत-चीन तनाव: अब यहां खतरनाक साजिश रच रहा ड्रैगन, तैयार है भारतीय सेना
X
लद्दाख में पैंगोग सो लेक के दक्षिणी क्षेत्र में भारतीय सैनिकों से मात खाने बाद चीनी सेना बौखलाई हुई है। अब वह उत्तरी इलाके में अपने सैनिक बढ़ा रहा है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया। चीन एक तरफ शांति की बात कर रहा, लेकिन उसकी सेना आक्रामता और उकसावे वाली हरकते कर रही है। लद्दाख में पैंगोग सो लेक के दक्षिणी क्षेत्र में भारतीय सैनिकों से मात खाने बाद चीनी सेना बौखलाई हुई है। अब वह उत्तरी इलाके में अपने सैनिक बढ़ा रहा है।

सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि चीनी सेना ने यहां नया निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया है। इसके साथ ट्रांसपोर्टेशन के साधन इकट्ठा कर रही है, लेकिन भारतीय सैनिक इस जगह से दूर नहीं हैं और चीन की हर हरकत पर नजर रख रहे हैं। भारत और चीन की सेना के बीच बुधवार को 4 घंटे तक ब्रिगेड कमांडर स्तर की बातचीत हुई। इस बात पर सहमति बनी है कि दोनों तरफ से कॉर्प्स कमांडर चर्चा करेंगे।

पैगोंग झील का उत्तरी इलाका आठ अलग-अलग फिंगर एरिया में बंटा हुआ है। भारत का दावा है कि लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) की शुरुआत फिंगर आठ से होती है और फिंगर चार तक जाती है। चीनी सेना एलएसी को नहीं मान रही। चीन के सैनिक फिंगर चार के पास डेरा जमाए हुए हैं। वे फिंगर पांच से आठ के बीच निर्माण कर रहे हैं।

Indian Army

यह भी पढ़ें...राफेल का राजतिलक: आज होगा वायुसेना में शामिल, देश में जश्न

7 सितंबर को दक्षिणी इलाके में चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की थी और चेतावनी के तौर पर फायरिंग की थी। यहां पर भारती सैनिकों ने उन्हें रोक दिया था और चीनी सैनिकों को वापस लौटना पड़ा था। इस घटना की तस्वीर भी सामने आई है, जिसमें दिख रहा है कि चीन के सैनिक भाला, रॉड और धारदार हथियार लिए हुए हैं।

यह भी पढ़ें...समुद्र किनारे मिला दुर्लभ जीव: दिखता है बेहद खतरनाक, खड़े हो जाएंगे रोंगटे

भारत ने कहा था कि जब चीनी सैनिकों को उन्होंने अपनी पोस्ट की तरफ आने से रोका तो उन्होंने हवाई फायरिंग की थी। इससे पहले चीन ने कहा था कि फायरिंग भारतीय जवानों ने की है। लेकिन चीन का झूठ बार-बार बेनकाब हो रहा है। भारतीय जवान इस इलाके की दो अहम चोटियों पर डटे हुए हैं और चीन ने कई बार भारत को इस पोजिशन से हटाने की कोशिश की है, लेकिन हर बार उसकी साजिश फेल हो गई।

यह भी पढ़ें...क्या इस बार पीएम मोदी के जिगरी दोस्त को मिलेगा 2021 का नोबेल शांति पुरस्कार?

लद्दाख में पैंगोंग झील का दक्षिणी इलाका अब पूरी तरह से भारत के कब्जे में है। यहां की कई पहाड़ी चोटियों पर अब भारत का कब्जा है। गौरतलब है कि ये सभी इलाके 1962 की जंग में चीन ने भारत से छिन लिया था। भारत के सैनिक अब पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर ऊंची चोटियों पर बैठे हैं, जबकि चीन की सेना निचले इलाकों में है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story