Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

IPL इतिहास में चेन्नई की सबसे बड़ी हार, मुंबई ने पहली बार किया ये कमाल

मौजूदा आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की यह 8वीं हार है और अंक तालिका में सबसे नीचे पहुंच गई है। तो वहीं मुंबई इंडियंस ने 7वीं जीत हासिल की है। 10 मैचों में 14 अंकों के साथ वह टॉप पर पहुंच गई है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 Oct 2020 8:50 PM GMT

IPL इतिहास में चेन्नई की सबसे बड़ी हार, मुंबई ने पहली बार किया ये कमाल
X
आईपीएल के 13वें सीजन के 41वें मैच में मुंबई इंडियंस (MI) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को बुरी तरह हरा दिया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: आईपीएल के 13वें सीजन के 41वें मैच में मुंबई इंडियंस (MI) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को बुरी तरह हरा दिया। अब इस हार के बाद चेन्नई आईपीएल के 13 वर्षों के इतिहास में पहली बार प्ले ऑफ की रेस से बाहर हो सकती है।

पहले बल्लेबाजी करते हुए मुबई ने 20 ओवर में 9 विकेट खोकर सिर्फ 114 रन ही बना सकी। 115 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम ने 12.2 ओवरों में बिना विकेट गंवाए 116 रन बना लिए और चेन्नई को 10 विकेट से करारी शिकस्त दी। आईपीएल के इतिहास में चेन्नई की पहली बार 10 विकेट से हार हुई है।

अंक तालिका में सबसे नीचे चेन्नई

मौजूदा आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की यह 8वीं हार है और अंक तालिका में सबसे नीचे पहुंच गई है। तो वहीं मुंबई इंडियंस ने 7वीं जीत हासिल की है। 10 मैचों में 14 अंकों के साथ वह टॉप पर पहुंच गई है। दिल्ली कैपिटल्स के भी 10 मैचों में 14 अंक हैं, लेकिन बेहतर रन रेट के आधार पर मुंबई शीर्ष पर है।



ये भी पढ़ें...भव्य होगी अयोध्या की दीपावली, साढ़े पांच लाख दीपों से जगमग होगी रामनगरी

चेन्नई सुपर किंग्स ने पावरप्ले में ही 5 विकेट गंवा दिए। टीम की सैम करन ने लाज बचा ली और सम्मान जनक स्कोर तक लेकर गए। सैम करन ने 47 गेंदों पर 52 रन बनाए और 20 ओवरों में नौ विकेट पर 114 रनों के स्कोर तक पहुंचाया।



बोल्ट ने चेन्नई को पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर ऋतुराज गायकवाड को आउट कर पहला झटका दिया। इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने अंबाती रायुडू को 2 रन और एन. जगदीशन को शून्य पर पवेलियन भेज दिया।

ये भी पढ़ें...बहुत बड़ी खुशखबरी: नवंबर में आ जायेगी कोरोना वैक्सीन, हुआ ऐलान

धोनी भी नहीं कर पाए कमाल

फिर बोल्ट ने डु प्लेसिस को भी आउट कर दिया। धोनी और रविंद्र जडेजा ने पारी संभाली। बोल्ट ने जडेजा को सात रनों पर आउट कर दिया। राहुल चहर की गेंद पर धोनी ने छक्का मारा, लेकिन अगली गेंद पर क्विंटन डि कॉक के हाथोंकैच हो गए। धोनी ने 16 रन बनाए।

ये भी पढ़ें...CM कैप्टन अमरिंदर के बेटे पर ED का शिकंजा, भेजा समन, लगे हैं ये गंभीर आरोप

दीपक बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। इसके बाद करन ने शार्दुल ठाकुर के साथ मिलकर 28 रन बनाए और फिर इमरान ताहिर साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए 43 रन जोड़ टीम को 100 के पार पहुंचा तीन बार की विजेता की लाज बचाई।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story