Top

अभी-अभी टीम इंडिया के दिग्गज क्रिकेटर ने लिया संन्यास, नाम जानकर रह जाएंगे दंग

भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान ने शनिवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए कहा कि आज मैं सभी तरह की क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूं। यह मेरे लिए भावुक पल है, लेकिन यह ऐसा पल है जो हर खिलाड़ी की जिंदगी में आता है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 4 Jan 2020 1:41 PM GMT

अभी-अभी टीम इंडिया के दिग्गज क्रिकेटर ने लिया संन्यास, नाम जानकर रह जाएंगे दंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान ने शनिवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए कहा कि आज मैं सभी तरह की क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूं। यह मेरे लिए भावुक पल है, लेकिन यह ऐसा पल है जो हर खिलाड़ी की जिंदगी में आता है।

भारतीय क्रिकेट में स्विंग के किंग कहे जाने वाले इरफान ने कहा कि छोटी जगह से हूं और मुझे सचिन तेंडुलकर और सौरभ गांगुली जैसे महान खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिला, जिसकी हर किसी को तमन्ना होती है।

इस दौरान उन्होंने कहा कि अपने सभी टीम के सदस्यों, कोचों, सपॉर्ट स्टाफ और फैन्स का धन्यावाद देता हूं। उन्होंने कहा कि मैं उन सभी साथियों, कोचों और स्पोर्ट स्टाफ का शुक्रिया करना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे हमेशा सपोर्ट किया। मैं उस खेल को आधिकारिक तौर छोड़ छोड़ रहा हूं, जो मुझे सबसे अधिक प्यारा है। अपने रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए इरफान भावुक हो गए।

यह भी पढ़ें...कोटा में बच्चों की मौत पर पायलट ने CM गहलोत को घेरा, कहा- तय हो जिम्मेदारी

इरफान ने कहा कि जिंदगी का सबसे खास लम्हा जब भारतीय टीम की कैप मिली, मैं क्या कोई भी क्रिकेटर उस लम्हे को नहीं भूल सकता, जब वह अपने देश का प्रतिनिधित्व करता है।'

पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट में हैटट्रिक लेने वाला यह खिलाड़ी एक वक्त दिग्गज बल्लेबाजों के लिए खौफ हुआ करता था। गेंद को दोनों तरफ स्विंग करना इरफान का सबसे बड़ा हथियार रहा। 2011-12 के दौरान उनको खराफ फॉर्म से जूझना पड़ा था और टीम इंडिया से बाहर हो गए। उन्होंने अपना आखिरी इंटरनेशनल क्रिकेट साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2 अक्टूबर, 2012 को खेला था, जो टी-20 था। इसके बाद वह इंटरनैशनल क्रिकेट में वापसी नहीं कर पाए।

यह भी पढ़ें...अमेरिका और ईरान के झगड़े में दांव पर भारत! यहां जानें पूरा मसला

पठान ने पिछला रणजी ट्राॅफी सीजन जम्मू-कश्मीर के लिए खेला। वह इस टीम के कोच भी थे। उनका आखिरी डोमेस्टिक मैच (सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रोफी) केरल के खिलाफ रहा, जो उन्होंने 27 फरवरी 2019 को मलापडु में खेला था। इस मैच में उन्होंने 10 रन बनाए थे और दो विकेट झटके थे।

यह भी पढ़ें...CAA पर विराट कोहनी ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या बोले टीम इंडिया के कप्तान

इरफान पठान के करियर की बात की जाए तो उन्होंने भारत के लिए टेस्ट 29 मैच खेले। इस दौरान उन्होंने 31.57 की औसत से 1105 रन बनाए हैं जिसमें 1 शतक और 6 अर्धशतक शामिल हैं। उनके नाम 32.26 की औसत से 100 विकेट हैं, जबकि बेस्ट बोलिंग 59 रन देकर 7 विकेट है। टेस्ट में उन्होंने 2 बार 10 या उससे अधिक विकेट, 7 बार 5 विकेट और 2 बार 4 विकेट झटके हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story