Top

ऋषभ पंत और बजरंग पूनिया वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी पुरस्कार से सम्मानित किया

भारतीय महिला हाकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और निशानेबाज मनु भाकर को महिला वर्ग में वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया जबकि सिडनी ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी और द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता कुश्ती कोच राज सिंह को जीवन पर्यंत उपलब्धि पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 28 March 2019 11:22 AM GMT

ऋषभ पंत और बजरंग पूनिया वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी पुरस्कार से सम्मानित किया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नयी दिल्ली: युवा क्रिकेटर ऋषभ पंत और विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता पहलवान बजरंग पूनिया को गुरुवार को यहां दिल्ली खेल पत्रकार संघ (डीएसजेए) के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

ये भी देखें:स्वार्थ का बंधन हैं सपा-बसपा गठबंधन: रामशंकर कठेरिया

भारतीय महिला हाकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और निशानेबाज मनु भाकर को महिला वर्ग में वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया जबकि सिडनी ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी और द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता कुश्ती कोच राज सिंह को जीवन पर्यंत उपलब्धि पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

भारत के युवा निशानेबाजों को निखारने में अहम भूमिका निभाने वाले जसपाल राणा और पंत के बचपन के कोच तारक सिन्हा को वर्ष का कोच पुरस्कार दिया गया।

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा, पूर्व महासचिव रणधीर सिंह, पूर्व हाकी कप्तान जफर इकबाल, जेके टायर मोटरस्पोर्टस के प्रमुख संजय शर्मा, पूर्व निशानेबाज मोराद अली खान और हाकी ओलंपियन हरविंदर सिंह ने पुरस्कार वितरित किये।

पुरस्कार से मनोबल बढ़ेगा

विकेटकीपर बल्लेबाज पंत ने पिछले साल टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया तथा इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया की विषम परिस्थितियों में शतक जड़कर अपने कौशल का शानदार नमूना पेश किया। उन्होंने कहा कि इस तरह के पुरस्कार से भविष्य में बेहतर प्रदर्शन करने के लिये उनका मनोबल बढ़ेगा।

पंत ने कहा, ‘‘हम जैसे युवा खिलाड़ियों के लिये इस तरह के सम्मान काफी मायने रखते हैं। इससे निश्चित तौर पर मुझे बेहतर प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलेगी।’’

लक्ष्य तोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतना

पिछले साल राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले पूनिया ने कहा कि उनका लक्ष्य तोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतना है। अभी तक कोई भी भारतीय पहलवान ओलंपिक में सोने का तमगा नहीं जीत पाया है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस पुरस्कार से मुझे और मेहनत करने की प्रेरणा मिलेगी। मैं ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाला पहला भारतीय पहलवान बनने की पूरी कोशिश करूंगा। अभी यही मेरा लक्ष्य है।’’

ये भी देखें:बिजली संकट से जुज रहा हैं श्रीलंका निपटने के लिए चाहता है ईश्वरीय मदद

इस अवसर पर दिविज शरण (टेनिस), मीनाक्षी पाहूजा (तैराकी), अभिषेक वर्मा (तीरंदाजी), सीमा यादव (मैराथन) और दीक्षा डागर (गोल्फ) को विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

(भाषा)

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story