Top

AUSTRALIAN OPEN2020: 24वें ग्रैंडस्लैम खिताब पर विलियम्स की नजर

सोमवार से यहां शुरू होने वाले ऑस्ट्रेलियाई ओपन में नोवाक जोकोविच और सेरेना विलियम्स खिताब हासिल करने की कोशिश करेंगे।  जोकोविच और रिकॉर्ड 24वां मेजर खिताब जीतने की कोशिश में जुटी सेरेना प्रबल दावेदार हैं। शीर्ष वरीय राफेल नडाल (33 वर्ष) तीसरे दशक में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी

suman

sumanBy suman

Published on 20 Jan 2020 7:45 AM GMT

AUSTRALIAN OPEN2020: 24वें ग्रैंडस्लैम खिताब पर विलियम्स की नजर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सोमवार से यहां शुरू होने वाले ऑस्ट्रेलियाई ओपन में नोवाक जोकोविच और सेरेना विलियम्स खिताब हासिल करने की कोशिश करेंगे। जोकोविच और रिकॉर्ड 24वां मेजर खिताब जीतने की कोशिश में जुटी सेरेना प्रबल दावेदार हैं। शीर्ष वरीय राफेल नडाल (33 वर्ष) तीसरे दशक में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी बनने का जश्न मना रहे हैं जबकि रोजर फेडरर (38 वर्ष) यह दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि बढ़ती उम्र का उन पर कोई असर नहीं पड़ा है।

यह पढ़ें...भारत के ये 63 अमीर: रखे हैं ‘पूरे देश का पैसा’, आंकड़े जान हो जायेंगे हैरान

साल 2020 की शुरुआत 2010 से अलग नहीं है जब फेडरर और नडाल ने चार ग्रैंडस्लैम खिताब साझा किए थे और सेरेना ने मेलबर्न व विंबलडन में ट्रॉफी हासिल की थी। दस साल बाद पुरुष वर्ग में ‘बिग थ्री’ ने 2004 के बाद से दो ऑस्ट्रेलियाई ओपन खिताब को छोड़कर सभी ट्रॉफियां जीती हैं। सेरेना ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने के मार्गरेट कोर्ट के रिकॉर्ड से महज एक कदम दूर हैं। पुरुष खिलाड़ियों का वर्चस्व बरकरार है।

2003 में फेडरर ने अपना पहला ग्रैंडस्लैम खिताब जीता था और तब से केवल पांच मेजर फाइनल ऐसे रहे हैं जिसमें स्विट्जरलैंड का यह खिलाड़ी, नडाल या जोकोविच नहीं खेले हैं। कई चुनौतियां आईं और गईं, लेकिन पुरुष वर्ग में युवा पीढ़ी से उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं जबकि सेरेना के 2017 में मेलबर्न में 23वां ग्रैंडस्लैम जीतने के बाद से नौ महिलाओं ने मेजर खिताब अपने नाम किए।

यह पढ़ें.. जानिए क्यों भारतीय क्रिकेटर काली पट्टी बांधकर उतरे आज के मैच में

पिछले साल जहां जोकोविच और नडाल ने खिताब जीते तो वहीं डोमिनिक थिएम, दानिल मेदवेदेव और फैबियो फोगनिनी ने अपनी पहली मास्टर्स ट्रॉफियां हासिल की जबकि स्टेफोनस सिटसिपास (21) 18 वर्षों में युवा एटीपी फाइनल्स चैंपियन बने।सोमवार को पहले दौर में दिखेगी जब वीनस विलियम्स (39 वर्ष) का सामना 15 साल की उभरती हुई स्टार कोको गॉफ से होगा। कोको तब पैदा भी नहीं हुई थी जब अमेरिका की प्रतिद्वंद्वी ने 2000 में अपना पहला ग्रैंडस्लैम खिताब जीता था। जापान की नाओमी ओसाका (22 वर्ष) लगातार दूसरे ग्रैंडस्लैम में खिताब का बचाव करेंगी। दुनिया की नंबर एक एश्ले बार्टी पर ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें टिकी होंगी जो 1978 के बाद से स्वदेश में पहली महिला विजेता बनना चाहेंगी। उन्होंने शनिवार को एडिलेड में खिताब जीता था।

suman

suman

Next Story