Top

ब्रायन लारा के लिए ये पारी है बेहद स्पेशल, इसलिए बेटी का नाम रखा सिडनी

वेस्ट इंडीज क्रिकेट टीम के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक ब्रायन लारा आज अपना 51वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। लारा ने अपने करियर में कई बड़े बड़े स्कोर बनाये हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 2 May 2020 5:40 AM GMT

ब्रायन लारा के लिए ये पारी है बेहद स्पेशल, इसलिए बेटी का नाम रखा सिडनी
X
ब्रायन लारा के लिए ये पारी है बेहद स्पेशल, इसलिए बेटी का नाम रखा सिडनी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: वेस्ट इंडीज क्रिकेट टीम के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक ब्रायन लारा आज अपना 51वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। लारा ने अपने करियर में कई बड़े बड़े स्कोर बनाये हैं। क्रिकेट जगत के इतिहास में उन्होंने तीन ऐसी पारियां खेली हैं, जो उन्हें एक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बनाती है। और वो है- 375, 400* और 501* लारा की जिन पारियों को आज तक याद किया जाता है, वो पारियां इस खिलाड़ी के स्पेशल नहीं है, बल्कि कोई और पारी है, जो उनके लिए बेहद खास है। लारा के लिए खास पारी की बात करने से पहले आपको इन तीनों (375, 400* और 501*) पारियों के बारे में बताते हैं।

ब्रायन लारा की तीन ऐतिहासिक पारियां

लारा ने एक ही मैदान यानि कि एंटीगुआ और एक ही महीना, अप्रैल में एक ही प्रतिद्वंदी टीम इंग्लैंड के खिलाफ दो ऐतिहासिक टेस्ट पारियां खेली थीं। लारा ने सबसे पहले साल 1994 में 375 रन बनाकर सर गैरी सोबर्स का 365 रनों का 36 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा था। सर गैरी सोबर्स ने 36 साल पहले यानि 1958 में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में 365 रनों की सबसे बड़ी पारी खेली थी।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान ने कबूला अल्पसंख्यकों के साथ हो रहा अत्याचार, लड़कियों को उठा रहे दरिंदे

6 महीने बाद फिर बनाया 400 रनों का रिकॉर्ड

हालांकि ब्रायन लारा के इस रिकॉर्ड को ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मैथ्यू हेडन ने 9 साल बाद 380 रनों की पारी के साथ तोड़ डाला था। लेकिन महज 6 महीने बाद ही लारा ने फिर एक रिकॉर्ड खड़ा किया 400 रनों का। लारा की टेस्ट क्रिकेट में 400 रनों की पारी के इस रिकॉर्ड को आज तक कोई तोड़ नहीं पाया है।

1st class क्रिकेट में सबसे बड़ा स्कोर

बात करें 501 रनों की पारी की तो उन्होंने जून 1994 में इंग्लिश काउंटी में वारविकशायर की तरफ से खेलते हुए डरहम के खिलाफ नाबाद रहते हुए 501 रनों की पारी खेली थी। इस पारी के साथ ही लारा 1st class क्रिकेट में सबसे बड़ा स्कोर खड़ा करने वाले खिलाड़ी बन गए। इसके साथ उन्होंने पाकिस्तान के हनीफ मोहम्मद के रिकॉर्ड को तोड़ा था। हनीफ ने 499 रनों का रिकॉर्ड खड़ा किया था।

यह भी पढ़ें: जहरीले बयान देने वाले जफरुल इस्लाम की खंगाली जाएगी कुंडली, देशद्रोह का केस दर्ज

लारा के लिए ये पारी है खास

हालांकि ये तीनों पारियां लारा के लिए उतनी खास नहीं है, जितनी की उनके लिए 277 रनों की पारी स्पेशल है। ब्रायन लारा ने साल 1993 में सिडनी मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट सेंचुरी मारा था, जो कि दोहरा शतक था। वो इस मैच में 277 रन बनाकर रन आउट हुए थे। लारा की इसी पारी की बदौलत वेस्ट इंडीज ने वह टेस्ट ड्रॉ कराया था। लारा खुद भी अपनी इस पारी को कभी नहीं भूलना चाहते।

इसलिए बेटी का नाम रखा सिडनी

उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान जिक्र भी किया था कि यह पारी मेरे करियर की श्रेष्ठतम पांच पारियों में शामिल है। लारा ने कहा था कि क्रिकेट करियर में यह पारी इंस्पायरिंग साबित हुई। उन्होंने यह भी बताया कि सिडनी टेस्ट की इस पारी की यादें संजोए रखने के लिए उन्होंने अपनी बेटी का नाम सिडनी रखा।

यह भी पढ़ें: खून के थक्के जमाकर फेफड़ों को ब्लॉक कर देता है कोरोना, नए अध्ययन में हुआ खुलासा

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story