cm yogi

पिछले एक साल से प्रदेश की राजनीति में छाए संशय के बादलों को साफ करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जब ओमप्रकाश राजभर को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया तो राजनाथ सिंह के मुख्यमंत्रित्व काल में सहयोगी दल के बिजली मंत्री नरेश अग्रवाल को बर्खास्त करने का इतिहास दोहरा दिया गया।

लुगुदेशम पार्टी प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू द्वारा शनिवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती से मुलाकात किये जाने के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वे पिटे हुए मोहरे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस ने सहारनपुर में एक ऐसे व्यक्ति को टिकट दिया था, जिसने कहा था कि जो मोदी की बोटी-बोटी करेगा उसको मैं 50 करोड़ रुपए दूंगा और समाजवादी पार्टी ने बनारस से ऐसे प्रत्याशी को टिकट दिया था, जिसका यह कहते हुए वीडियो वायरल हुआ है कि ‘मैं जैश-ए-मोहम्मद के साथ मिलकर मोदी को मरवा दूंगा’।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोक सभा चुनाव की तैयारियों और बूथ अध्यक्ष सम्मेलन में शिरकत करने आज गोरखपुर पहुंचे।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘पिछली सरकारों में बिजली की जाति होती थी, बिजली का मजहब होता था, होली, दीपावली को बिजली नहीं लेकिन ईद-मोहर्रम पर बिजली मिलती थी। हमने इसे बदला और अब सब त्योहारों पर बिजली रहती है।’’

गरीबी हटाओ के नारे आजादी के बाद से ही लगते थे. लेकिन, अब सबका साथ सबका विकास के भाव के साथ पिछले पांच साल में जो काम हर वर्ग कर लिए हैं, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ।

इसलिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चक्रवात 'फानी' से प्रभावित ओडिशा के परिवारों की मदद के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से 10 करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले लोग इस जिले को फैजाबाद के नाम से जानते थे लेकिन हमने उसका नाम अयोध्या कर दिया है और आने वाले समय में चुनाव आयोग से कह कर यहां की लोकसभा का नाम भी अयोध्या करवा देंगे।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में नक्सलियों ने बुधवार को आईईडी विस्फोट किया जिसमें 15 सुरक्षाकर्मियों समेत कम से कम 16 लोगों की मौत हो गयी ।

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने विपक्षियों पर गरजते हुए कहा कि सारे भ्रष्टाचारी एकजुट होकर चले है मोदी को हराने लेकिन ऐसा संभव ही नहीं है।