mla

राजस्थान में 6 बसपा विधायक सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। अपने विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने पर बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। मायावती ने कहा कि यह धोखा है। बसपा मूवमेंट के साथ ऐसा विश्वासघात दोबारा तब किया गया है ।

राजस्थान में मायावती को बड़ा झटका लगा है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। सोमवार को कांग्रेस में शामिल विधायक ने कहा कि उन्होंने ऐसा अपने क्षेत्र के विकास के लिए किया है। बता दें कि सभी 6 विधायक अभी तक बाहर से कांग्रेस को समर्थन दे रहे थे।

दरोगा, विधायक से अपशब्द न कहने की बार-बार गुहार लगा रहा है। वहीं बछरावां विधायक उसकी बातों को इग्नोर कर रहे है। दरोगा विधायक से कह रहा है कि पहले मामले की अपने स्तर से जांच कर लें फिर जो सच निकलकर सामने आये। उसके अनुसार निर्णय करे।

बता दें कि वारंट मिलते ही पुलिस विधायक की गिरफ्तारी में जुट गयी है। इसके लिए छापेमारी तेज कर दी गयी है। साथ ही वारंट मिलने के बाद ही टीम विधायक के ठिकानों की ओर निकल गयी है।

दूरसंचार के युग में भी विधायकों को टेलीफोन सुविधा पाने के लिए जूझना पड़ रहा है। यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि खुद यूपी विधानसभा के विधायक कह रहे हैं। इन विधायकों ने इसकी शिकायत जब विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित से की तो उन्होंने आलाधिकारियों को बुलाकर उन्हे कडे निर्देश दिए।

जहां पूरे देश मे जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाये जाने को लेकर खुशी का माहौल है। गोरखपुर के लोगों ने आपस में एक दूसरे को मिठाइयां खिलाकर जश्न मनाया है। साथ ही लोगों ने सड़क पर पटाखे भी जलाए है।

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार गिर गई है। इसक बाद बीजेपी मध्य प्रदेश में भी वैसी ही स्थिति होने की संभावना का दावा कर रही है, लेकिन ऐसा करने वाली बीजेपी को बुधवार को बड़ा झटका लगा।

उत्तर प्रदेश विधान सभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने सोमवार को विधान सभा सदस्यों को स्मार्टकार्ड जारी किए जाने की योजना का शुभारम्भ किया। विधान सभा के अंदर की विशेष सुरक्षा के लिए लोकसभा की ही भांति यह स्मार्ट कार्ड जारी किया गया है।

चंदौली के सैयदराजा विधानसभा से बीजेपी विधायक सुशील सिंह एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। विधायक ने नियम कानून को ताक पर रखकर एक स्कूल में बच्चों को बीजेपी की सदस्यता दिलाई, वो भी तब जब स्कूल में पढ़ाई चल रही थी। इस घटना के बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मच हुआ है। डीआईओएस ने मामले के जांच के आदेश दिए हैं।