Top

पति के वियोग में 30 साल पहले इस महिला ने त्याग दिया था भोजन, आज है इस हाल में

पानी पीकर कई सालों तक जिंदा रहने वाले लोगों के बारे में तो आपने जरूर सुना होगा लेकिन चाय पीकर जीने वाली ये पहली महिला है। जी हां आपने सही सुना। ये महिला पिछले 30 सालों से सिर्फ चाय पीकर जिंदा है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 30 May 2019 11:57 AM GMT

पति के वियोग में 30 साल पहले इस महिला ने त्याग दिया था भोजन, आज है इस हाल में
X
किरण देवी की फ़ाइल फोटो
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: पानी पीकर कई सालों तक जिंदा रहने वाले लोगों के बारे में तो आपने जरूर सुना होगा लेकिन चाय पीकर जीने वाली ये पहली महिला है। जी हां आपने सही सुना। ये महिला पिछले 30 सालों से सिर्फ चाय पीकर जिंदा है। आपको भले ही यकीन न हो रहा हो लेकिन ये बिल्कुल सच है।

ये भी पढ़ें...अजब-गजब: एक ऐसी दरगाह, जहां ज़ायरीन को डंक नहीं मारते हैं बिच्छू

30 साल से अन्न को नहीं लगाया हाथ

बिहार के हाजीपुर में रहने वाली एक महिला पिछले 30 सालों से सिर्फ चाय पर जिंदा है। आप इसे कुदरत का करिश्मा कहे या कुछ और लेकिन इस महिला ने अपने पति की मौत के बाद लगातार 30 साल तक अन्न-जल को मुंह तक नहीं लगाया। और केवल चाय पर अपने को जिंदा रखा।

हाजीपुर से महज 6 किलोमीटर दूर रामपुर नाम का एक गांव है। जो चाय वाली चाची नाम से फेमस है। आसपास इलाके में आप किसी से भी पूछ लीजिए, हर कोई चाय वाली चाची को पहचान जाता है।

ये भी पढ़ें...अजब-गजब: यूपी में यहां लगती है लड़की बोली, फिर उठती है उसकी डोली

पति की मौत के बाद नहीं खाया खाना

इस महिला का नाम किरण देवी है। 30 साल पहले किरण देवी के पति उपेंद्र सिंह का देहांत हो गया था उसके बाद पति के मौत से किरण देवी इतनी दुखी हुई कि उनके वियोग में उन्होंने अन्न जल त्याग दिया।

और चाय पीकर जीवन गुजारने लगी। इलाकाई लोगों की मानें तो बिना कुछ खाए सालों तक जीवित रहना आसान काम नहीं है। किरण देवी अभी तक जिंदा है, यह किसी चमत्कातर से कम नहीं।

ये भी पढ़ें...यूपी में अजब गजब खेल ! 2000 स्‍कवायर फुट के घर से 450 वोटर्स पंजीकृत

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story