Top

कौन है 'Forgotten Army', जिसे गणतंत्र दिवस पर देश ने किया याद

गणतंत्र दिवस पर 'Forgotten Army' याद की जा रही है। सवाल ये उठता है कि वो फॉरगेटन आर्मी कौन सी है, जिसे आज के दिन याद किया जा रहा है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 26 Jan 2020 9:25 AM GMT

कौन है Forgotten Army, जिसे गणतंत्र दिवस पर देश ने किया याद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भारत 71वां गणतंत्र दिवस (Republic Day) मना रहा है। आज के दिन आजाद भारत में संविधान लागू हुआ था। आज भारत जहां पर भी है, उन स्वतंत्रता सैनानियों की बदौलत हैं, जिन्होंने अपनी जान की आहुति देकर देश को, यहां के हर नागरिक को आजादी दिलाई थी। तिरंगा फहराने के साथ ही राष्ट्र शहीदों की शहादत को नमन कर रहा हैं। हर कोई 'Forgotten Army' को याद कर रहा है।सवाल ये उठता है कि वो फॉरगेटन आर्मी कौन सी है, जिसे आज के दिन याद किया जा रहा है।

गणतंत्र दिवस पर रिलीज हुई वेब सीरीज

'The Forgotten Army' सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है। दरअसल, निर्देशक कबीर खान ने गणतंत्र दिवस के मौके पर 'द फॉरगॉटेन आर्मी: आजादी के लिए' नाम से वेब सीरीज रिलीज की है। ये वेब सीरीज अमेजन प्राइम पर रिलीज हुई है। वेब सीरीज गुलाम भारत को आजादी तक पहुँचाने वाले जवानों की कहानी है। ये जवान कोई और नहीं बल्कि नेता जी सुभाष चंद्र बोस द्वारा बनाई गई आजाद हिंद फौज से जुड़े लोग थे। आजाद हिंद फौज द्वारा भारत की आजादी के लिए दिए गए बलिदान को याद किया गया है।

ये भी पढ़ें: 21 तोपों की ही सलामी क्यों? जानें क्या है इसका रहस्य, कहां से हुआ शुरू

क्या है कहानी:

करीब तीन साल में बनकर तैयार हुई इस वेब सीरीज में आजाद हिंद फौज के सैनकों की जिंदगी की मुश्किलें, त्रासदी और यातनाएं दिखाने की कोशिश की हैं। देश के लिए बड़ी लड़ाई लड़ने वाले इन सैनिकों पर देश से गद्दारी का केस भी चलता है। इन सैनिकों को दूसरे स्वतंत्रता सैनानियों की तरह पेंशन भी नहीं मिलती। पूरी फिल्म देश को एक रहने का संदेश देती है।

ये भी पढ़ें: ARMY का फुल फॉर्म: 100 में से 99 लोग नहीं जानते, आइए आपको बताते हैं

कहानी कैप्टन अमरिंदर सिंह सोढी (सन्नी कौशल) की जिंदगी को दो समय काल में दिखाया गया है।

सोशल मीडिया पर इसे काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला

पहला टाइम फ्रेम द्वितीय विश्व युद्ध के समय अमरिंदर सिंह को सिंगापुर में युद्ध के दौरान जापानी सेना द्वारा पकड़ लिया जाता है। अमरिंदर तब ब्रिटिश इंडियन आर्मी का सदस्य होता है जो जापान के खिलाफ युद्ध कर रहा होता है। फिर जापान में ही सुभाष चंद्र बोस का एक शानदार भाषण सुनने के बाद वो आजाद हिंद फौज में शामिल होने का फैसला करता है।

दूसरा टाइम फ्रेम 1996 की कहानी कहता है जब वृद्ध हो चुका अमरिंदर सिंगापुर में अपने परिवार से मिलने गया होता है। अपने पोते से बातचीत के दौरान वो आजाद हिंद फौज की अपनी पूरी कहानी याद करता है।

बता दें कि इस वेब सीरीज के ट्रेलर को काफी पसंद किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर इसे काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला। सीरीज देश प्रेम, जवानों के बलिदान की कहानी बयां करने के साथ ही आजाद भारत में उनकी स्थिति को भी बताती है।

ये भी पढ़ें: देशभक्ति से भरे ये 10 Song: इनको नहीं सुना, तो आपने कुछ नहीं सुना…

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story